Image Loading बेटी के नाम कानून पर परिवार भी राजी - LiveHindustan.com
सोमवार, 02 मई, 2016 | 02:47 | IST
 |  Image Loading

बेटी के नाम कानून पर परिवार भी राजी

बलिया, हिन्दुस्तान टीम First Published:02-01-2013 11:27:39 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

बलात्कार के संबंध में बनने वाले कानून का नामकरण बेटी के नाम पर करने को लेकर पीड़ित परिवार को कोई ऐतराज नहीं है। एक दिन पहले केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने दिल्ली में सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई लड़की का नाम सार्वजनिक किए जाने संबंधी बयान दिया था।

लड़की के पिता ने कहा- बेटी के नाम पर कानून बने और सख्ती से लागू हो ताकि हर बलात्कारी के दिल में खौफ पैदा हो। इसकी मिसाल देनी चाहिए सभी आरोपियों को फांसी पर लटकाकर। पिता ने शशि थरूर के ट्विट का समर्थन करत हुए कहा कि आधुनिक सोच में अब बेटियों को बदनामी का दकियानूस विचार हमें लड़ने की ताकत देने के बजाय कमजोर ही करेगा।

पिता के विचारों से लड़की की मां और दादा ने भी समर्थन जताते हुए कहा कि हम बिटिया का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने देंगे। थरूर ने मंगलवार को ट्विटर एकाउंट पर कहा था- पीड़िता का नाम गुप्त रखने से कौन सा हित सध रहा है। यदि पीड़िता के माता-पिता को आपत्ति न हो तो बलात्कार विरोधी संशोधित कानून का नाम लड़की के नाम पर रखा जाना चाहिए।

 

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
|
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
फिर चमका रोहित का बल्ला, मुंबई की आसान जीतफिर चमका रोहित का बल्ला, मुंबई की आसान जीत
आखिरी 12 ओवरों की कसी हुई गेंदबाजी और बाद में कप्तान रोहित शर्मा के आईपीएल के वर्तमान सत्र में लक्ष्य का पीछा करते हुए लगातार पांचवें अर्धशतक की बदौलत मुंबई इंडियन्स ने राइजिंग पुणे सुपरजाइंटस को आठ विकेट से हराकर अंकतालिका में दूसरा स्थान हासिल कर लिया।