Image Loading दरिंदे उसे कुचलना चाहते थे - LiveHindustan.com
बुधवार, 04 मई, 2016 | 15:19 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

दरिंदे उसे कुचलना चाहते थे

नई दिल्ली, वरिष्ठ संवाददाता First Published:01-01-2013 11:42:01 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

दिल्ली पुलिस वसंत विहार गैंग रेप मामले में चाजर्शीट तैयार कर चुकी है। अहम बात यह है कि पुलिस की चार्जशीट के अनुसार आरोपियों ने बस से फेंकने के बाद पीड़ित लड़की को कुचलने की भी कोशिश की थी। लेकिन मौके से जल्दी गायब होने की कोशिश में उन्हें वहां से भागना पड़ा।

पुलिस चाजर्शीट में यह भी साफ है कि केबिन के पीछे बायीं सीट पर एक युवक बैठा था और दायीं ओर एक और युवक। पीड़ित लड़की के दोस्त ने पुलिस को बताया कि शुरुआत में उसे यह भ्रम हुआ कि केबिन के बाहर बैठे युवक बस की सवारियां हैं और इसी गलतफहमी की वजह से वे लोग बस में चढ़ गए।

पुलिस ने अपनी चार्जशीट में आरोपियों पर सबूतों को नष्ट करने का भी आरोप लगाया है। इसके अलावा पुलिस चाजर्शीट के अनुसार बदमाशों ने युवक से एक सोने की अंगूठी, एक हजार रुपये, दो मोबाइल फोन, डेबिट-क्रेडिट कार्ड भी वारदात करने के बाद लूट लिए।

पुलिस के पास सबूतों के नाम पर वह लोहे की रॉड है जिससे युवक और युवती पर हमला किया गया। इसके अलावा युवक और युवती के कपड़े भी पुलिस के हाथ लग चुके हैं। वहीं सूत्रों की माने तो पुलिस करीब चार दर्जन गवाहों की मदद से केस को मजबूत बनाने का दावा कर रही है।

इस केस में पुलिस के लिए सबसे बड़ा सबूत डीएनए रिपोर्ट और फोरेंसिक की रिपोर्ट होगी। सूत्रों की माने तो पुलिस ने आईपीसी की कुल नौ धाराओं में मामला बनाया है जिसमें 302 (हत्या), 307 (हत्या की कोशिश), 396 (डकैती और हत्या), 376 (2)(जी), 377, 394,365, 201 और 34 शामिल है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
|
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
अश्विन ने बताया क्यों हार रही है धौनी की टीम पुणे सुपरजाइंट्सअश्विन ने बताया क्यों हार रही है धौनी की टीम पुणे सुपरजाइंट्स
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 9वें सीजन में नई टीम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स की हालत बहुत खस्ता रही है। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी वाली इस टीम ने आठ में से महज दो मैच ही जीते हैं।