Image Loading
शुक्रवार, 27 मई, 2016 | 17:49 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • केन्द्र सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ी 25 और...
  • हरियाणा सरकार ने की घोषणा, पीपली बस ब्लास्ट शामिल लोगों के बारे में सूचना देने...
  • 286 अंक चढ़ा सेंसेक्स, 26,653.60 पर हुआ बंद
  • विशेषज्ञ समिति ने नई शिक्षा नीति का मसौदा मानव संसाधन मंत्रालय को सौंपा
  • उत्तर प्रदेश में सीएम कैंडिडेट के नाम पर शाह बोले, जनता तय करेगी कौन होगा उनका...
  • NEET: सुप्रीम कोर्ट का केंद्र सरकार द्वारा लाये गए अध्यादेश पर रोक लगाने से इनकार।

ट्रेनिंग लेकर अभिभावक खुद बनाएंगे अपने लाडलों को ‘स्पेशल’

गुड़गांव। कुमार हरिओम First Published:26-12-2012 09:33:11 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

अपने लाडलों को दूसरें बच्चों की तरह स्पेशल बनाने के लिए अब अभिभावकों को किसी एक्सपर्ट की जरूरत नहीं रहेगी। वे खुद इसके लिए बच्चों को तैयार कर सकेंगे। स्पेशल नीड वाले बच्चों को तैयार करने के लिए सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए) ऐसे अभिभावकों को स्पेशल ट्रेनिंग दे रहा है। जिससे वे अपने बच्चों को तैयार कर सकें। ब्लॉक स्तर पर होने वाला प्रशिक्षण हरियाणा में पहली बार शुरू किया जा रहा है।


सीडब्ल्यूएसएन बच्चों को जमीनी स्तर पर प्रशिक्षित करने के लिए सर्व शिक्षा अभियान ने प्रदेश स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया है। जिसमें ऐसे बच्चों के साथ उनके अभिभावकों को स्पेशल प्रशिक्षण देकर प्रशिक्षित किया जाएगा। तीन दिनों तक आयोजित होने वाले कैंप की खास बात यह रहेगी कि बच्चों की तरह अभिभावकों को इसके लिए पूरा प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके अलावा अभिभावकों को भी आने वाली समस्याओं को दूर किया जाएगा। एसएसए के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में ब्लॉक स्तर पर पहली बार ऐसे कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इससे इन बच्चों को सबसे अधिक फायदा पहुंचेगा। एसएसए  ने कैंप का पूरा शेडय़ूल भी तैयार कर लिया है जिसमें चारों ब्लॉक में तीन-तीन दिनों का कैंप लगाकर इन बच्चों के अभिभावकों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

कैंप में क्या होगा खास--
-मनोवैज्ञानिक तरीके से बच्चों को सिखाया जाएगा
-व्यवहारिकता के लिए दी जाएगी टिप्स
-घर पर पढ़ाने की भी दी जाएगी ट्रेनिंग।
-संचार साधनों से परस्पर सामंजस्य बैठाने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।

कलस्टर स्तर पर किया गया प्रशिक्षित
इससे पहले भी एसएसए ने दो साल पहले कलस्टर स्तर पर ऐसे बच्चों के अभिभावकों को प्रशिक्षित किया था। दो दिन के प्रशिक्षण कैंप में शारीरिक के साथ व्यावहारिकता के लिए नए उपाय बताए गए। लेकिन इसके बाद प्रशिक्षण कैंप नहीं होने से उसका फायदा नहीं मिल पाया था।
इनसेट
बीएस मजाैका, डीपीसी, सर्व शिक्षा अभियान
शेडय़ूल तैयार कर लिया गया है मुख्यालय से फंड आते ही ब्लॉक स्तर पर कैंप का आयोजन कराया जाएगा।

 
 
 
 
|
 
 
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
PAK गेंदबाज अकरम बोले, PAK गेंदबाज अकरम बोले, 'अगर कोहली को करनी पड़ती गेंदबाजी तो...'
अपने समय में बल्लेबाजों के लिए खौफ माने जाने वाले पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम का मानना है कि अगर उन्हें विराट कोहली को गेंदबाजी करनी होती तो उन्हें इसकी चिंता रहती।