Image Loading
रविवार, 25 सितम्बर, 2016 | 16:06 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • KANPUR TEST: अश्विन के 200 विकेट पूरे, न्यूजीलैंड: 55/4
  • कोझिकोड में पीएम मोदी ने कहा, लोगों के कल्याण के लिए खुद को खपा देंगे
  • KANPUR TEST: अश्विन ने कीवी ओपनर्स को लौटाया पैवेलियन, न्यूजीलैंड: 3/2

डिग्री कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षा होगी आब्जेक्टिव

First Published:12-12-2012 12:27:11 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

गाजियाबाद। कार्यालय संवाददाता। डिग्री कॉलेज में स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर के छात्रों को इस बार परीक्षा में ज्यादा लिखने की झंझट से निजात मिल जाएगी। चौधरी चरण सिंह विवि ने इस बार इन कक्षाओं के लिए ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। छात्रों को पूछे गए सवालों के जवाब में दिए गए चार जवाबों में से एक को चुनना होगा।

उन्हें उत्तर पुस्तिका के स्थान पर ओएमआर शीट भरकर देना होगा। इसी शीट की मार्किंग के बाद अंक दिए जाएंगे। परीक्षा कराने, इसके लिए पेपर सेट करने के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। सीसीएस यूनविर्सिटी अपनी कार्य पद्धति में लगातार बदलाव कर रही है। पहले ऑनलाइन एड़ाशिन के बाद अब यूजी व पीजी में सबजेक्टवि के बजाय ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। यह ऑब्जेक्टवि परीक्षा इसी सत्र से शुरू होगी। विवि की ओर से परीक्षा समिति के बैठक में इसके लिए सर्कुलर जारी कर दिया है।

साथ ही कॉलेजों को भी इस नई कार्ययोजना से अवगत करा दिया गया है। विवि के इस निर्णय को लेकर कॉलेज शिक्षक परेशान हैं। एड़ाशिन प्रक्रिया देर से चलने के कारण इस बार कॉलेजों में ज्यादा दिनों तक कक्षाएं नहीं चल सकी है। ऐसे में परीक्षा सबजेक्टवि की बजाय ऑब्जेक्टवि होना छात्रों के लिए काफी मुश्किल खड़ा करने वाला होगा। ऑब्जेक्टवि प्रश्नों का जवाब देने के लिए विषय का गहराई से अध्ययन करना जरूरी है। इस वर्ष यह परीक्षा स्नातक के अंतिम वर्ष और स्नात्कोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए होगी।

इस संबंध में एमएमएच कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरएम जौहरी का कहना है कि विवि की ओर से अभी पूरी गाइडलाइन प्राप्त नहीं हुई है। गाइडलाइन के अनुसार ही आने वाले दिनों में छात्रों को पढाई कराई जाएगी।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड