Image Loading लॉबिंग तो भारत सरकार ने भी कराई - LiveHindustan.com
बुधवार, 10 फरवरी, 2016 | 10:08 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • अमेरिकी चुनावः न्यू हैम्पशायर में हिलेरी की हार, ट्रंप की पहली जीत

लॉबिंग तो भारत सरकार ने भी कराई

वॉशिंगटन, यशवंत राज First Published:10-12-2012 11:20:52 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

भारत में एफडीआई लागू करने के लिए वॉलमार्ट द्वारा लॉबिंग पर भारी भरकम राशि खर्च करने पर हंगामा मचा है। लेकिन हकीकत तो यह है कि भारत की निजी कंपनियों ने ही नहीं बल्कि सरकार ने भी अमेरिकी प्रशासन में लॉबिंग पर मोटी राशि खर्च की है।

भारत सरकार ने 2012 के अंतिम तिमाही में बारबर ग्रिफिथ एंड रोजर्स एलएलसी से ‘अमेरिका-भारत द्विपक्षीय संबंधों पर’ अमेरिकी कांग्रेस, वाणिज्य विभाग, अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधिमंडल में लॉबिंग कराई। इस पर 1.80 लाख डॉलर खर्च किए गए। परमाणु करार के दौरान तो भारत ने सबसे ज्यादा पैसे लॉबिंग पर खर्च किए। इस करार पर जितना विरोध भारत में हो रहा था, अमेरिका में भी उतना ही विरोध था।

वॉलमार्ट ने 2008 में अमेरिकी कांग्रेस और भारत और चीन के बड़े बाजार में निवेश सहित अन्य मुद्दों को लेकर सिर्फ अमेरिका में लॉबिंग पर 13.7 लाख डॉलर खर्च किए।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
कैसा रहा साल 2015
क्रिकेट
इन 5 बड़ी गलतियों से पहले T20 में फ्लॉप हुए धौनी के धुरंधरइन 5 बड़ी गलतियों से पहले T20 में फ्लॉप हुए धौनी के धुरंधर
पहले टी-20 मैच में श्रीलंका की युवा टीम जोशिले अंदाज में दिखी और धौनी के धुरंधरों का अतिउत्साह उन्हें ले डूबा और ऑस्ट्रेलिया में T20 जीतने का लय टूट गया। भारत 12 गेंद बाकी रहते पांच विकेट से हरा दिया।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड