Image Loading
रविवार, 29 मई, 2016 | 09:21 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • पढ़ें शशि शेखर का ब्लॉग- न रुकी, न रुकेगी हिंदी पत्रकारिता
  • आज का तापमान- दिल्ली, पटना, लखनऊ में 37 डिग्री, देहरादून में 32 डिग्री और रांची में 36...

लॉबिंग तो भारत सरकार ने भी कराई

वॉशिंगटन, यशवंत राज First Published:10-12-2012 11:20:52 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

भारत में एफडीआई लागू करने के लिए वॉलमार्ट द्वारा लॉबिंग पर भारी भरकम राशि खर्च करने पर हंगामा मचा है। लेकिन हकीकत तो यह है कि भारत की निजी कंपनियों ने ही नहीं बल्कि सरकार ने भी अमेरिकी प्रशासन में लॉबिंग पर मोटी राशि खर्च की है।

भारत सरकार ने 2012 के अंतिम तिमाही में बारबर ग्रिफिथ एंड रोजर्स एलएलसी से ‘अमेरिका-भारत द्विपक्षीय संबंधों पर’ अमेरिकी कांग्रेस, वाणिज्य विभाग, अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधिमंडल में लॉबिंग कराई। इस पर 1.80 लाख डॉलर खर्च किए गए। परमाणु करार के दौरान तो भारत ने सबसे ज्यादा पैसे लॉबिंग पर खर्च किए। इस करार पर जितना विरोध भारत में हो रहा था, अमेरिका में भी उतना ही विरोध था।

वॉलमार्ट ने 2008 में अमेरिकी कांग्रेस और भारत और चीन के बड़े बाजार में निवेश सहित अन्य मुद्दों को लेकर सिर्फ अमेरिका में लॉबिंग पर 13.7 लाख डॉलर खर्च किए।

 
 
 
 
|
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
कोहली की चुनौती के लिए तैयार है सनराइजर्स का सबसे सफल गेंदबाजकोहली की चुनौती के लिए तैयार है सनराइजर्स का सबसे सफल गेंदबाज
सनराइजर्स हैदराबाद के शुक्रवार को दूसरे क्वालीफायर में गुजरात लायंस पर चार विकेट की जीत के साथ फाइनल में जगह बनाने के बाद तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा कि उनकी टीम खिताबी मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं।