Image Loading
बुधवार, 28 सितम्बर, 2016 | 14:01 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • लोढ़ा पैनल ने सुप्रीम कोर्ट को कहा, बीसीसीआई हमारे सुझावों और दिशा निर्देशों का...
  • पाकिस्तानी कलाकारों फवाद, माहिरा और अली जफर के भारत छोड़ने पर बॉलीवुड सितारों...
  • टीम इंडिया में गंभीर की वापसी, भारत-न्यूजीलैंड टेस्ट के टिकट होंगे सस्ते। इसके...
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR वालों को गर्मी से नहीं मिलेगी राहत। रांची, लखनऊ और देहरादून...
  • भविष्यफल: तुला राशि वालों को आज परिवार का भरपूर सहयोग मिलेगा, मन प्रसन्न रहेगा।...
  • हिन्दुस्तान सुविचार: जीवन के बुरे हादसे या असफलताओं को वरदान में बदलने की ताकत...
  • सार्क में हिस्सा नहीं लेंगे पीएम मोदी, गंभीर की दो साल बाद टीम इंडिया में वापसी,...
  • क्रिकेटर बालाजी 'रजनीकांत' के फैन हैं, आज बर्थडे है उनका। उनकी जिंदगी से जुड़े...

विधायक और राजभवन की अफसर के बेटे भिड़े

First Published:30-11-2012 10:47:46 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

ग्रेटर नोएडा/वरिष्ठ संवाददाता

शुक्रवार की दोपहर नॉलेज पार्क में छात्रों के दो पक्षों में मारपीट हो गई। छात्रों में एक बुलंदशहर के विधायक का बेटा है, जबकि दूसरा राजभवन की अधिकारी का बेटा। मारपीट के बाद पुलिस भी पहुंची लेकिन तब तक हमलावर फरार हो गए थे। कॉलेज प्रशासन ने दोपहर बाद दोनों पक्षों को बुलाकर वार्ता करवाई।

दोनों पक्षों में समझौता हो गया है, हालांकि कॉलेज प्रशासन ने जांच के लिए समिति गठित कर दी है। बुलंदशहर का रहने वाला आदित्य चौधरी शुक्रवार की दोपहर एनआईईटी कॉलेज के सामने खड़ा था। करीब तीन बजे तीन-चार कारों में सवार होकर 20 से ज्यादा युवक पहुंचे और आदित्य चौधरी को बुरी तरह पीटा। मारपीट देखकर छात्रों में अफरा-तफरी मच गई। आदित्य ने अपने परिजनों को फोन करके इसकी जानकारी दी। थोड़ी देर में आदित्य के पक्ष के युवक भी कई कारों में सवार होकर कॉलेज पहुंच गए।

इनमें एक सफेद रंग की कार पर विधायक लिखा था और विधानसभा सचविालय का प्रवेश पास भी चस्पा था। गौतमबुद्ध नगर के वीआईपी नंबर की यह कार नोएडा के सेक्टर 39 के पते पर पंजीकृत है। आदित्य चौधरी बुलंदशहर के विधायक का बेटा है। आदित्य ने कॉलेज प्रशासन को लिखित शिकायत दी है, जिसमें बताया कि उसकी कक्षा के छात्र मोहित अशोक ने उस पर हमला करवाया है। पहले भी उसके साथ मारपीट की जा चुकी है। मोहित अशोक राजभवन में कार्यरत एक महिला अधिकारी का बेटा है।

कॉलेज प्रशासन ने घटना के बारे में पहले पुलिस को सूचना दी। पुलिस की दो पीसीआर वैन कॉलेज में पहुंच गईं। उसके बाद दोनों छात्रों के परिजनों को सूचना दी गई। दोनों के परिजन शाम को कॉलेज में पहुंचे और दोनों छात्रों को बुलाकर पूछताछ की गई। मोहित अशोक ने कहा कि उसका घटना से कोई लेना-देना नहीं है। जब आदित्य चौधरी के साथ मारपीट हुई, तब वह अपने हॉस्टल में था। पुरानी बातों को लेकर उस पर आरोप लगाया जा रहा है।

दोनों पक्षों की ओर से पुलिस से शिकायत नहीं की गई है। हालांकि कॉलेज प्रशासन की ओर से जांच करने के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

‘घटना के बाद आदित्य चौधरी और मोहित अशोक के परिजनों को बुलाया गया था। दोनों छात्रों को चेतावनी दे दी गई है। पूरे मामले की जांच तीन सदस्यीय समिति करेगी। इससे पूर्व भी इन दोनों छात्रों की ओर से एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत दी गई थीं, जिस पर कार्यवाही की गई थी।

एक छात्र को हॉस्टल से निकाल दिया गया था। मोहित अशोक को चेतावनी दी गई थी। ’डॉ. यदुवीर सिंह, निदेशक, एनआईईटी।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड