class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोबाइल फोन और कम्प्यूटर इंसान की सेहत के दुश्मन

मोबाइल फोन और कम्प्यूटर इंसान की सेहत के दुश्मन

वायरलेस इंटरनेट कनेक्शन वाले मोबाइल फोन तथा कम्प्यूटर लोगों के स्वास्थ्य के लिए एक बड़ा खतरा हैं और स्कूलों में तत्काल इन पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। एक सशक्त यूरोपीय ईकाई ने यह सिफारिश की है।

कौंसिल आफ यूरोप समिति ने इन सबूतों का अध्ययन किया है कि तकनीक का मानव पर बेहद बुरा विनाशकारी प्रभाव पड़ रहा है। समिति इस नतीजे पर पहुंची है कि बच्चों को इस बुरे प्रभाव से बचाने के लिए तत्काल कदम उठाने की जरूरत है। दी डेली टेलीग्राफ में यह खबर प्रकाशित हुई है।

अपनी रिपोर्ट में समिति ने कहा है कि जन स्वास्थ्य अधिकारी शुरूआत में एसबेस्टास, धूम्रपान और पेट्रोल में सीसे की मौजूदगी के खतरों का आकलन करने में कमजोर रहे थे लेकिन अब उसी गलती को दोहराने से बचना बेहद जरूरी है।
   
रिपोर्ट में वायरलेस फोन और बेबी मानिटर से पैदा होने वाले दुष्प्रभाव को रेखांकित किया गया है जिनमें समान तकनीक काम करती है और जिनका ब्रिटिश घरों में काफी प्रयोग किया जाता है।

रिपोर्ट में ऐसी आशंका जतायी गई है कि वायरलेस उपकरणों से निकलने वाला इलैक्ट्रोमैग्नेटिक विकिरण कैंसर पैदा कर सकता है और साथ ही मस्तिष्क के विकास को नुकसान पहुंचा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोबाइल और कम्प्यूटर सेहत के दुश्मन