Image Loading
बुधवार, 25 मई, 2016 | 06:55 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी ने गुजरात लायंस को चार विकेट से हराया
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी को 15 गेंदों पर जीतने के लिए चाहिए 15 रन
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी ने 15 ओवर में छह विकेट खोकर 110 रन बनाए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी ने 11 ओवर में छह विकेट खोकर 81 रन बनाए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी का पांचवां विकेट 29 रन के स्कोर पर गिरा
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी का चौथा विकेट गिरा, स्कोर 28/4 (4.5 ओवर)
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः गुजरात लायंस ने लगातार गेंदों पर आरसीबी को दो झटके दिए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः आरसीबी ने 3 ओवर में एक विकेट खोकर 25 रन बनाए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः गुजरात लायंस ने 20 ओवर में 158 रन बनाए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः गुजरात लायंस ने 15 ओवर में चार विकेट पर 104 रन बनाए
  • देखें VIDEO: सलमान और अनुष्का की फिल्म 'सुलतान' का ट्रेलर जारी
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः गुजरात लायंस ने 10 ओवर में तीन विकेट पर 58 रन बनाए
  • आईपीएल पहला क्वालीफायरः गुजरात लायंस के दो विकेट सिर्फ 6 रन पर गिरे
  • केंद्र एक्ट ईस्ट नीति के तहत असम और पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों को उनके त्वरित...
  • शपथ ग्रहण समारोह: देश का आदिवासी समाज सर्बानंद पर गर्व करता है-पीएम मोदी
  • असम में बीजेपी के 6 और असम गण परिषद के 2 और बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट के 2 मंत्रियों ने...
  • सात राज्य नीट के लिए तैयार, दिल्ली की अभी सहमति नही: जे पी नड्डा
  • सर्बानंद सोनोवाल ने असम के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
  • असम में सर्बानंद सोनोवाल का शपथ ग्रहण समारोह: पीएम मोदी भी पहुंचे
  • असम के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में अमित शाह समेत कई बड़े नेता पहुंचे
  • नजफगढ़ में विमान दुर्घटनाग्रस्त नहीं हुआ, विमान की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई
  • लखनऊ, चंडीगढ़, फरीदाबाद, अगरतला समेत 13 नए शहर स्मार्ट सिटी के लिए चुने गए
  • राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने NEET अध्यादेश पर किए हस्ताक्षर
  • इसी सप्ताह आएगा 10वीं का परीक्षा परिणामः सीबीएसई
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 10 अंक फिसलकर 25,220 पर खुला, निफ़्टी 7731
  • दिल्ली: खराब मौसम के कारण करीब 24 उड़ानें डाइवर्ट हुईं और 12 देर से पहुंचीं
  • बिहार- एमएलसी मनोरमा देवी की जमानत याचिका पर सुनवाई, कोर्ट ने मांगी केस डायरी

शिक्षा में ताजगी का एहसास साइबर क्लासरूम

बालेन्दु शर्मा दाधीच First Published:29-07-2010 09:19:07 PMLast Updated:29-07-2010 09:21:37 PM

इंटरनेट पर ज्ञानवर्धन की सामग्री सिर्फ विकीपीडिया तक ही सीमित नहीं है। छात्र चाहें तो अपनी दिलचस्पी के विषयों से जुड़ी उत्कृष्ट शैक्षणिक सामग्री, ई-बुक्स, शोध पत्र आदि को इंटरनेट से डाउनलोड कर सकते हैं। शीर्ष अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों, पुस्तकालयों और शोध संस्थानों ने ऐसी ढेर सारी सामग्री सार्वजनिक वितरण के लिए मुहैया कराई हुई है। वे चाहें तो विषयों को सही ढंग से समझने के लिए दूसरों के नोट्स का लाभ उठा सकते हैं और अपने अनुत्तरित प्रश्नों के हल के लिए अन्य छात्रों तथा विशेषज्ञों से संपर्क कर सकते हैं। इतना ही नहीं, वे प्रैक्टिकल के लिए इंटरनेट पर मौजूद वर्चुअल प्रयोगशालाओं का लाभ उठा सकते हैं और परीक्षाओं की तैयारी के लिए कुछ वेबसाइटों पर दी गई मॉक-टेस्ट की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। और तो और, वे वेब आधारित पाठ्यक्रमों में दाखिला लेकर घर बैठे ही ‘ई-एजुकेशन’ के माध्यम से पढ़ाई भी कर सकते हैं। और ये तो इंटरनेट पर उपलब्ध शैक्षणिक सुविधाओं की छोटी सी बानगी भर है।

उपयोगी है सर्च इंजनों की भूमिका
अधिकांश छात्र अपने उपयोग की जानकारी प्राप्त करने के लिए गूगल, बिंग, याहू, आस्क या अन्य सर्च इंजनों का प्रयोग करते हैं। लेकिन ये सभी सर्च इंजन आम इंटरनेट उपयोक्ता की जरूरतों को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं। ये छात्रों की जरूरतों पर केंद्रित नहीं हैं। इसलिए उनके परिणामों में से सही वेबसाइटों का पता लगाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। एजुकेशन प्लेनेट (http://www.educationplanet.com) और नेट ट्रेकर (http://www.nettrekker.com) खास तौर पर छात्रों के लिए विकसित किए गए सर्च इंजन हैं। ये सिर्फ वेब पेजों की जानकारी नहीं देते बल्कि संबंधित विषय पर उपलब्ध शोध-पत्रों, लेखों, पाठों, वर्क-शीट आदि का ब्यौरा भी देते हैं। वे संबंधित सामग्री को छात्रों की कक्षा के अनुसार दिखाते हैं जिससे उन्हें अधिक सटीक और उपयोगी नतीजे मिलें। एडु हाउंड (http://www.eduhound.com) पर छात्रों के उपयोग की अथाह सामग्री का ब्यौरा उपलब्ध है।

वोल्फ्राम एल्फा (http://www.wolframalpha.com) नामक नए सर्च इंजन का उल्लेख बहुत जरूरी है। यह अन्य सर्च इंजनों की तरह किसी विषय पर ढेर सारे वेब पेजों के लिंक नहीं दिखाता बल्कि संबंधित विषय पर खुद ही बहुत उपयोगी जानकारियां देता है। किसी भी विषय पर आंकड़े चाहिए, किन्हीं दो चीजों के बीच तुलनात्मक अध्ययन चाहिए, किसी भी दिन हुई घटनाओं का ब्यौरा चाहिए या फिर किसी व्यक्ति के भूत-भविष्य और वर्तमान की जानकारी चाहिए तो यह सर्च इंजन बहुत उपयोगी है। आप चाहें तो यहां कई तरह की गणनाएं भी कर सकते हैं। आजमाकर देखें। फाइंड ट्यूटोरियल्स (http://www.findtutorials.com) के माध्यम से छात्र विभिन्न विषयों पर ट्यूटोरियल्स ढूंढ़ने में कर सकते हैं तो बुक फाइंडर (http://www.bookfinder.com) के जरिए किसी भी विषय पर किताबें ढूंढ़कर डाउनलोड कर सकते हैं।

ये किताबें मुफ्त तो नहीं हैं लेकिन हैं बेहद सस्ती। यदि किसी छात्र को एनसीईआरटी की पुस्तकें पढ़ने में दिलचस्पी है तो वह एनसीईआरटी की वेबसाइट (http://www. ncert.nic.in/textbooks/testing/Index.htm) से इन पुस्तकों को ई-बुक के स्वरूप में मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं। सिर्फ किताबें ही क्यों, यहां पाठ्यक्रम से इतर पुस्तकें और शैक्षिक सीडी भी मुफ्त उपलब्ध हैं।

अपने विषय में दक्षता हासिल करने के लिए उच्च स्तरीय नोट्स या गाइड्स की जरूरत हो तो क्लिफ नोट्स (http://www.cliffsnotes.com) का कोई जवाब नहीं है। साहित्य, विज्ञान, अर्थशास्त्र, इतिहास, अकाउंटिंग आदि विषयों पर बेहद उपयोगी पाठ्य सामग्री यहां मुफ्त उपलब्ध है। छात्र यहां हाईस्कूल से लेकर कॉलेज में प्रवेश के लिए लिए होने वाली परीक्षाओं का अभ्यास भी कर सकते हैं और यदि पढ़ाई के बीच में ही किसी विषय में अपनी वीणता को जांचना चाहें तो प्रोफीशिएंसी टेस्ट दे सकते हैं, बिल्कुल मुफ्त।

एक और उपयोगी वेबसाइट है- माई नोट इट (http://www.mynoteit.com) जहां छात्र अपने नोट्स बना सकते हैं और उन्हें दूसरों के साथ साझ कर सकते हैं। दूसरों के नोट्स को ढूंढ़ना भी उतना ही आसान है। यदि आपको अपना टाइमटेबल या सालाना शिड्यूल तैयार करना है तो यहां उपलब्ध टू डू लिस्ट नामक सुविधा का योग कर सकते हैं। यह आपको याद दिलाती रहेगी कि किस दिन कौनसी वेश परीक्षा या विशेष कक्षा है। इतना ही नहीं, इसके माध्यम से आप अपने ही जैसे अन्य छात्रों के साथ संदेशों का आदान-प्रदान भी कर सकते हैं।

आगे की पढ़ाई की योजना बनाने, शिक्षा से जुड़ी नई जानकारियों के संपर्क में रहने, अच्छे शिक्षण संस्थानों के बारे में जानने, मुख्य परीक्षाओं की तारीखें आदि जानने के लिए इंडिया एडु (http://www.indiaedu.com) का प्रयोग किया जा सकता है। इंडिया एजुकेशन (http://www.india education.net) भी इसी से मिलती-जुलती वेबसाइट है जहां विभिन्न विश्वविद्यालय और बोडरें द्वारा जारी की जाने वाली सूचनाएं भी दी जाती हैं। यहां छात्र अपने करियर से संबंधित सलाह भी ले सकते हैं। हो सकता है कुछ छात्रों की दिलचस्पी विषय विशेष से जुड़े प्रैक्टिकल में हो। पी टेबल (http://www.ptable.com) पर रसायन शास्त्र की पीरियोडिक टेबल दी गई है तो जीव विज्ञान के छात्रों के लिए फोल्ड इट  (http://fold.it) उपयोगी है। छात्र फ्रोगी नामक वेबसाइट पर तो बाकायदा कंप्यूटर का योग कर मेंढक भी काट सकते हैं। यूआरएल है- http://froggy.lbl.gov  जीव विज्ञान के ऐसे छात्र, जो जीवों के प्रति हिंसा नहीं देख सकते, उनके लिए ये वेबसाइटें वरदान जैसी हैं। 

गणित से जुड़े प्रश्नों के हल के लिए मैथ वे (http://www.mathway.com) का प्रयोग आपको चौंका देगा जो कठिन से कठिन गणितीय प्रश्न हल करने में मदद करती है। भारतीय इतिहास पर अध्ययन के लिए इंडहिस्टरी
(http://www.indhistory.com)।
यह एक छोटी सी बानगी है। वेब लगभग सीमाहीन और इंटरएक्टिव माध्यम है जिसे विश्व के समस्त नागरिकों के लाभ के लिए विकसित किया गया है। अपने ज्ञान को एक-दूसरे के साथ साझ करने वाले लोगों ने उसे इतना समृद्घ बनाया है। वहां मौजूद ज्ञान भंडार से चौंकने की जरूरत नहीं है।

विज्ञान के लिए खास साइट
भौतिक विज्ञान के छात्रों को ग्लेनब्रुक साउथ फिजिक्स की वेबसाइट (www.glenbrook.k12.il.us/gbssci/Phys/phys.html) पर बहुत सी उपयोगी सामग्री मिलेगी। यह वेबसाइट छात्रों ने ही बनाई है और यहां पर भौतिकी के नियमों को दिलचस्प ढंग से समझने के लिए कई अनुयोग मौजूद हैं। भौतिकी के योगों पर यहां जिस किस्म की दिलचस्प फिल्में और एनीमेशन मौजूद हैं उन्हें देखकर लगता नहीं कि यह कोई जटिल विषय है। मैसाचुसेट्स विश्वविद्यालय के भौतिक विज्ञान विभाग ने भी अपने ओपन कोर्सवेयर के तहत ढेर सारी उपयोगी सामग्री विश्व भर के छात्रों के लिए उपलब्ध कराई हैं। आजमाकर देखें- ocw.mit. edu/OcwWeb/Physics । एमआईटी के उच्च स्तरीय पाठ्यक्रम पूरी दुनिया में सिद्घ हैं। इंटरनेट के आने से पहले उन्हें इस्तेमाल करने की बात भला किसने सोची होगी?

रसायन विज्ञान को समझने के लिए दिलचस्प प्रारंभिक सामग्री प्रिपरेटरीकैमिस्ट्री (preparatorychemistry.com) पर उपलब्ध है, एनीमेशन, मल्टीमीडिया और ढेर सारे ट्यूटोरियल्स के साथ। भूगोल के छात्रों को जियोहाइव (www.geohive.com) बहुत पसंद आएगी जहां दुनिया भर के जनसंख्या से जुड़े आंकड़े मौजूद हैं। जिस देश के बारे में जानकारी हासिल करनी है उसका नाम चुनिए और बटन दबाइए। भूगोल, राजनीति शास्त्र और नागरिक शासन के अध्ययनकर्ताओं ने यदि अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए की फैक्टबुक (https://www.cia.gov/library/publications/the-world-factbook) का प्रयोग नहीं किया तो समङिाए उनसे काफी कुछ छूट गया। दुनिया के हर छोटे-बड़े देश, वहां के भूत-भविष्य-वर्तमान, शासन और राजनैतिक तंत्र के बारे में यहां इतना कुछ मौजूद है कि आप बरबस कह उठेंगे- वाह!
भाषा सीखने के शौकीन लाइवमोका (www. livemocha.com) को आजमा सकते हैं तो नागरिक शासन के छात्र कानूनों पर बेहतर समझ विकसित करने के लिए एलएलएक्स (www.llrx.com) का प्रयोग करना न भूलें। यहां भारतीय कानूनों पर भी एक अलग खंड मौजूद है। समाजशास्त्र पर सोशियोसाइट (www.sociosite.net ) ढेर सारी काम की सामग्री मुहैया कराती है तो सोशियोलोजी सेन्ट्रल (www.sociology.org.uk) का दावा है कि वहां आने के बाद इस विषय के बोझिल होने के बारे में धारणाएं काफूर हो जाएंगी।

 
 
 
 
|
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
आईपीएल 9: डिविलियर्स ने आरसीबी को फाइनल में पहुंचायाआईपीएल 9: डिविलियर्स ने आरसीबी को फाइनल में पहुंचाया
शीर्ष क्रम के धुरंधरों की नाकामी से एक समय बैकफुट पर पहुंचे रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने गुजरात लायन्स को चार विकेट से हराकर आईपीएल नौ के फाइनल में प्रवेश किया।