Image Loading
रविवार, 25 सितम्बर, 2016 | 05:48 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • जम्मू में आतंकियों के 2 गाइड गिरफ्तार
  • केरल LIVE: आतंकवाद को एक्सपोर्ट कर रहा पाकिस्तान : PM मोदी
  • केरल LIVE: PM मोदी का पाक पर हमला, कहा- एक देश खून खराबा करने में लगा
  • केरल के कोझिकोड की रैली में पीएम मोदी ने मलयालम में शुरू किया भाषण
  • KANPUR TEST: तीसरे दिन का खेल खत्म, मुरली-पुजारा की नाबाद फिफ्टी, भारत-159/1
  • बिहार: पटना जिले के फतुहा में एएसआई आरआर चौधरी को बदमाशों ने गोली मारी, मौत
  • KANPUR TEST: केएल राहुल 38 रन बनाकर आउट, भारत-52/1
  • KANPUR TEST: न्यूजीलैंड की पारी 262 पर सिमटी, भारत को 56 रनों की बढ़त
  • इराक की राजधानी बगदाद में तीन आत्मघाती बम धमाके, 11 सुरक्षा कर्मियों की मौत: AP
  • कानपुर टेस्ट: न्यूजीलैंड का छठा विकेट गिरा, स्कोर-255/6

दिल्ली सामूहिक बलात्कार पीड़िता की हालत अभी बहुत गंभीर: अस्पताल

सिंगापुर, एजेंसी First Published:28-12-2012 11:24:04 AMLast Updated:28-12-2012 01:27:32 PM
 
संबंधित ख़बरे
Image Loading Image Loading
 

सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती होने के एक दिन बाद भी दिल्ली में सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई 23 वर्षीय छात्रा की हालत बहुत गंभीर बनी हुई है। पीड़िता की हालत कल रात जैसी ही बनी हुई है।

अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉक्टर केल्विन लोह ने कल रात एक बयान में कहा था कि मरीज की स्थिति बहुत गंभीर बनी हुई है। उसका माउंट एलिजाबेथ अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में इलाज चल रहा है।

डॉक्टर ने कहा कि यहां आने से पहले पीड़िता के पेट की तीन सर्जरी हो चुकी हैं और उसे भारत में दिल का दौरा भी पड़ चुका है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों का एक दल उस पर नजर बनाए हुए है और उसकी स्थिति को स्थिर बनाए रखने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहा है।

अस्पताल में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और आईसीयू में प्रवेश देने से पहले हर व्यक्ति की जांच की जा रही है। इस बीच, द स्ट्रेटस टाइम्स ने आज खबर दी कि पीड़ित लड़की का परिवार मानसिक पीड़ा झेल रहा है लेकिन वे कई लोगों के शुक्रगुजार हैं।

खबर में पीड़िता के पिता और उसके दो भाइयों से मिलने वाले एक सूत्र के हवाले से कहा गया कि पिता का कहना है कि उन्हें फिर से आश्वासन दिया गया है कि उनकी बेटी के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये जा रहे हैं और बाकी सब भगवान के हाथों में है। छात्रा के पिता इलाज और यात्रा सुविधा के लिए भारत सरकार और सिंगापुर के एहसानमंद हैं।

अखबार ने एक सूत्र के हवाले से कहा कि बलात्कार के सदमे के अलावा उन्हें (परिवार) इस विचार का आदी होना होगा कि वे अब विदेशी धरती पर हैं। सूत्र ने कहा कि परिजन आम लोग हैं, जिन्होंने कभी विमान में सवार होने या एयर एंबुलेंस में विदेश यात्रा करने का सपना नहीं देखा था।

परिजन अंग्रेजी नहीं बोल पाते हैं और अस्पताल के कर्मचारियों से बात करने के लिए वे दुभाषिये पर निर्भर हैं। भारतीय उच्चायोग ने मदद के लिए परिवार के साथ एक अधिकारी नियुक्त किया है।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड