Image Loading
रविवार, 29 मई, 2016 | 15:09 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • हिन्दुस्तान ब्रेकिंगः BSEB 10th result : मैट्रिक का रिजल्ट 50% भी नहीं, Click कर देखें रिजल्ट

अमेरिका के अगले विदेश मंत्री जान केरी हैं भारत के मित्र

वाशिंगटन, एजेंसी First Published:22-12-2012 08:48:35 PMLast Updated:22-12-2012 08:53:04 PM
अमेरिका के अगले विदेश मंत्री जान केरी हैं भारत के मित्र

सीनेटर जॉन केरी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन की जगह अगले विदेश मंत्री के रूप में राष्ट्रपति बराक ओबामा के पसंद हैं, और केरी को भारत का एक सच्चा मित्र माना जाता है। उन्होंने अमेरिका के अंतर्राष्ट्रीय मामलों में भारत की केंद्रीय भूमिका की वकालत की है।

यदि क्लिंटन के लिए नई दिल्ली का वाशिंगटन के साथ रिश्ता 'एक दिली मामला' है, तो सीनेट की फॉरेन रिलेशंस कमेटी के अध्यक्ष केरी (69) भारत-अमेरिका संबंधों को अमेरिकी विदेश नीति में निस्संदेह एक सबसे महत्वपूर्ण साझेदारी मानते हैं।

केरी ने फरवरी में अमेरिकी राजदूत के रूप में भारत में कार्यभार सम्भालने वाली नैंसी पॉवेल के नाम पर अंतिम मुहर लगने के लिए आयोजित सुनवाई के मौके पर कहा था कि ऐसे चंद रिश्ते ही हैं, जो 21वीं सदी में भारत और वहां के लोगों के साथ हमारे बढ़ रहे रिश्ते की तरह महत्वपूर्ण होंगे।

केरी ने कहा कि हमारे सामने जो भी गम्भीर वैश्विक चुनौतियां हैं, उसमें भारत को एक केंद्रीय भूमिका निभानी है। और इसका अर्थ यह होता है कि वाशिंगटन, नई दिल्ली की ओर देखने जा रहा है, न सिर्फ सहयोग के लिए, बल्कि उन्नयन, क्षेत्रीय नेतृत्व के लिए भी।

केरी ने आगे कहा कि हममें से कई सारे लोग कुछ समय से भारत के बढ़ रहे महत्व को लेकर स्पष्ट हो चुके हैं। केरी 1990 के दशक से अब तक कई बार भारत आ चुके हैं, और भारत में आर्थिक सुधार के ठीक बाद पहली बार आए एक व्यापारिक मिशन का उस समय उन्होंने नेतृत्व किया था।

मेसाचुसेट्स के वरिष्ठ सीनेटर केरी, जो कि अपने अनुभव, गम्भीरता और संबंध विकास कौशल के लिए जाने जाते हैं, ओबामा के उस विचार के भी प्रबल समर्थक हैं, जिसके तहत वह भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक स्थायी सदस्य के रूप में देखना चाहते हैं।

केरी की नियुक्ति के बारे में शुक्रवार को घोषणा करते हुए ओबामा ने उनके असाधारण उल्लेखनीय सीनेटर के करियर की और वियतनाम युद्ध में दिए गए सैन्य सेवा की प्रशंसा की। ओबामा ने कहा कि इन कई वर्षो के दौरान जॉन ने दुनियाभर के नेताओं का आदर और भरोसा अर्जित किया है। उन्हें अपनी नई जिम्मेदारी के लिए बहुत प्रशिक्षण लेने की आवश्यकता नहीं है।

इस घोषणा के वक्त क्लिंटन मौजूद नहीं थीं, क्योंकि वह अभी भी एक चोट से उबर रही हैं। लेकिन उन्होंने एक बयान जारी कर केरी के चयन को शानदार बताया है।

 

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
इंग्लैंड के सामने लड़खड़ाई श्रीलंका, फॉलोऑन का खतराइंग्लैंड के सामने लड़खड़ाई श्रीलंका, फॉलोऑन का खतरा
इंग्लैंड के पहली पारी में नौ विकेट पर 498 रनों के जवाब में श्रीलंकाई बल्लेबाजी चरमरा गई और यहां जारी दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक मेहमान टीम 91 रनों पर आठ विकेट गंवा कर फॉलोऑन बचाने के लिए संघर्षरत है।