Image Loading
शुक्रवार, 30 सितम्बर, 2016 | 10:26 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद संभला भारतीय शेयर बाजार, 63 अंक की बढ़त के साथ 27,891 पर...
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय नौसेना अलर्ट, मुंबई में नेवी के कई कार्यक्रम...
  • INDvsNZ: कोलकाता टेस्ट में भारत का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला
  • कोलकाता टेस्ट से पहले कीवी टीम को बड़ा झटका, इसके अलावा पढ़ें क्रिकेट और अन्य...
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय सेना ने बीती रात जम्मू-कश्मीर के सांबा सेक्टर के...
  • INDvsNZ: कोलकाता टेस्ट में न्यूजीलैंड की कप्तानी करेंगे रोस टेलर, बीमार केन विलियमसन...
  • मौसम अलर्टः दिल्लीवालों को गर्मी से नहीं मिलेगी राहत। पटना, रांची और देहरादून...
  • भविष्यफल: मेष राशि वालों के लिए आज है मांगलिक योग। आपकी राशि क्या कहती है जानने...
  • कल से शुरू हो रहे हैं नवरात्रि, आज ही कर लें ये तैयारियां
  • PoK में भारतीय सेना के ऑपरेशन में 38 आतंकी ढेर, पाक का 1 भारतीय सैनिक को पकड़ने का...

इस साल अक्टूबर से शुरू होगा मिशन मंगल

कोलकाता, एजेंसी First Published:04-01-2013 03:47:37 PMLast Updated:04-01-2013 03:48:16 PM
इस साल अक्टूबर से शुरू होगा मिशन मंगल

लाल ग्रह के नाम से मशहूर मंगल ग्रह के पर्यावरण को जानने व उस पर जीवन के निशान खोजने के लिए अक्टूबर में मंगल खोज मिशन की शुरुआत होगी। एक शीर्ष अंतरिक्ष अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

खोज अभियान के प्रभारी जेएन गोस्वामी ने बताया कि हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं और अक्टूबर मध्य तक हमारा मंगल मिशन शुरू होने की उम्मीद है। यहां भारतीय विज्ञान कांग्रेस से इतर गोस्वामी ने कहा कि मिशन को अभी एक आधिकारिक नाम दिया जाना बाकी है।

470 करोड़ रुपये का यह मिशन देश की 5.5 करोड़ किलोमीटर लंबी यात्रा पर पृथ्वी से एक अंतरिक्ष यान को भेजने की क्षमता प्रदर्शित करेगा। मिशन के तहत मंगल ग्रह पर जीवन के निशान खोजे जाएंगे। अहमदाबाद स्थित फिजीकल रिसर्च लेबोरेटरी के निदेशक गोस्वामी ने कहा कि इस मिशन का बहुत महत्वपूर्ण वैज्ञानिक मकसद है, क्योंकि हम मंगल के पर्यावरण का अध्ययन करना चाहते हैं। इस मिशन से उन बातों का पता चलेगा, जिन्हें पूर्व में अन्य देश नहीं खोज पाए हैं।

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी की चेन्नई के श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष ठिकाने से पीएसएलवी- एक्सएल रॉकेट के जरिए 1.4 टन के मार्टिन अंतरिक्ष यान को लाल ग्रह के लिए प्रक्षेपित करने की योजना है। इस मंगल मिशन के जरिए भारत उन पांच शीर्ष देशों के समूह में शामिल हो जाएगा, जो पहले ही इस तरह के मिशन शुरू कर चुके हैं। ये देश अमेरिका, रूस, यूरोप, चीन व जापान हैं।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड