Image Loading प्रमोशन में आरक्षण: यूपी में कर्मचारियों की हड़ताल जारी - LiveHindustan.com
रविवार, 01 मई, 2016 | 22:57 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • पद्मावती एक्सप्रेस हादसे की शिकार, 8 बोगियां पटरी से उतरीं, कई लोगों के जख्मी...
  • आईपीएल 9: राइजिंग पुणे सुपरजाइंटस ने मुंबई इंडियंस के सामने 160 रन का लक्ष्य रखा
  • आईपीएल 9: किंग्स इलेवन पंजाब ने गुजरात लायंस को 23 रन से हराया
  • आईपीएल 9: मुंबई इंडियंस ने टॉस जीता, राइजिंग पुणे सुपरजाइंटस को दिया पहले...
  • वाराणसी: अस्सीघाट पर पीएम मोदी के मंच पर शार्ट सर्किट से मचा हडकंप
  • IPL: पंजाब ने गुजरात को जीत के लिए दिया 155 रन का लक्ष्य

प्रमोशन में आरक्षण: यूपी में कर्मचारियों की हड़ताल जारी

लखनऊ, एजेंसी First Published:14-12-2012 10:28:20 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
प्रमोशन में आरक्षण: यूपी में कर्मचारियों की हड़ताल जारी

संसद में पेश किए गए प्रोन्नति में आरक्षण सम्बंधी विधेयक को लेकर उत्तर प्रदेश में सरकारी कर्मचारी दो गुटों में बंट गए हैं। आरक्षण का विरोध कर रहे करीब 18 लाख सरकारी कर्मचारियों की हड़ताल दूसरे दिन शुक्रवार को भी जारी रही। आरक्षण विरोधी लोगों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेश कार्यालय के बाहर प्रदर्शन भी किया।

सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के बैनर तले सरकारी कर्मचारियों ने शुक्रवार को राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश के लगभग सभी जिलों में धरना-प्रदर्शन का आयोजन किया। लखनऊ में विधानसभा के सामने मार्च कर रहे आरक्षण विरोधी कर्मचारियों और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच तीखी नोकझोंक हो गई।

आरक्षण विरोधी प्रदर्शनकारी विधानसभा के सामने से गुजर रहे थे। उसी दौरान भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने आते ही जुलूस में शामिल लोगों ने भाजपा नेताओं के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। जब कुछ भाजपा कार्यकर्ता बाहर निकले तब दोनों पक्षों के बीच तीखी नोकझोंक हो गई।

ज्ञात हो कि प्रोन्नति में आरक्षण सम्बंधी विधेयक पर भाजपा के नरम रवैये को लेकर आरक्षण विरोधी खेमे में काफी नाराजगी है, जिसका इजहार उन्होंने शुक्रवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय पर किया।

इससे पहले विधेयक के विरोध में सरकारी कर्मचारी शुक्रवार सुबह से ही प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदेश के गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, इलाहाबाद आदि शहरों में कर्मचारियों ने दूसरे दिन भी धरना दिया।

कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने इस विधेयक को वापस नहीं लिया तो आगे इस आंदोलन को और तेज किया जाएगा और आपातकालीन सेवाओं को भी प्रदर्शन के दायरे में लाया जाएगा।

सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के अध्यक्ष शैलेंद्र दुबे ने कहा कि सरकार ने यदि समय रहते इस विधेयक को वापस नहीं लिया तो आगामी लोकसभा चुनाव में उसे गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। यह विधेयक पूरी तरह से असंवैधानिक है, इसलिए इस पर चर्चा ही नहीं होनी चाहिए।

विरोध कर रहे कर्मचारियों की मांग है कि प्रोन्नति में आरक्षण सम्बंधी विधेयक वापस लिया जाए। जब तक इसे वापस नहीं लिया जाएगा, तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

इस बीच प्रोन्नति में आरक्षण का समर्थन कर रही आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति से जुड़े कर्मचारियों एवं पदाधिकारियों ने चार घंटे अधिक ड्यूटी करने का ऐलान किया है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
आईपीएल  9: मुंबई इंडियन्स ने पुणे सुपरजाइंटस को 159 रन पर रोकाआईपीएल 9: मुंबई इंडियन्स ने पुणे सुपरजाइंटस को 159 रन पर रोका
सौरभ तिवारी और स्टीवन स्मिथ के शुरूआती ओवरों की तूफानी बल्लेबाजी से उबरकर मुंबई इंडियन्स के गेंदबाजों ने शानदार वापसी करके राइजिंग पुणे सुपरजाइंटस को आईपीएल मैच में पांच विकेट पर 159 रन ही बनाने दिए।