Image Loading
सोमवार, 27 मार्च, 2017 | 08:21 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • हिन्दुस्तान ओपिनियन: बिमटेक के डायरेक्टर हरिवंश चतुर्वेदी का विशेष लेख- पिछड़ता...
  • पंजाब: गुरदासपुर में BSF जवानों ने पहाड़ीपुर पोस्ट के पास एक पाकिस्तानी...
  • हेल्थ टिप्स: सीढ़ी चढ़ने से कम होता है हार्ट अटैक का खतरा, क्लिक कर पढ़ें
  • मौसम दिनभर: दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, पटना, रांची और लखनऊ में होगी तेज धूप।
  • ईपेपर हिन्दुस्तान: आज का समाचार पत्र पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आपका राशिफल: मिथुन राशि वालों के आय में वृद्धि होगी, अन्य राशियों का हाल जानने के...
  • सक्सेस मंत्र: अवसर जरूर द्वार खटखटाते हैं, बस पहचानना आना चाहिए, क्लिक कर पढ़ें
  • टॉप 10 न्यूज: कश्मीर में आतंक-PDP मंत्री के घर पर हमला, दो पुलिसकर्मी हुए घायल, अन्य...

40 हजार रूपए के अनुबंध से नाखुश पाक खिलाड़ी

कराची, एजेंसी First Published:30-11-2012 01:25:49 PMLast Updated:30-11-2012 02:27:34 PM
40 हजार रूपए के अनुबंध से नाखुश पाक खिलाड़ी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने अपने छह खिलाड़ियों को चार महीने के लिए महज 40 हजार रूपए महीने की राशि पर करार किया है। हालांकि खिलाड़ियों ने मामूली राशि पर दिए गए इस अनुबंध पर नाखुशी जताई है।

पीसीबी के अधिकारी ने इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि तेज गेंदबाजों मोहम्मद तलहा, मोहम्मद समी, तबिश खान और उमैद आसिफ और ऑलराउंडर फवद आलम, लेग स्पिनर यासिर शाह के साथ चार महीने के लिए 40 हजार रूपए प्रतिमाह पर करार किया गया है। लेकिन यह खिलाड़ी बोर्ड की असल करार किए गए खिलाड़ियों की सूची में शामिल नहीं है।

बोर्ड अधिकारी ने कहा कि इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन को चयनकर्ताओं और बोर्ड समिति ने समीक्षा करने के बाद लघु अवधि सितंबर से दिसंबर तक के लिए करार किया है। लेकिन यह खिलाड़ी बोर्ड के केंद्रीय अनुबंध के खिलाड़ियों की सूची में शामिल नहीं है।

पीसीबी द्वारा दिए जाने वाले केंद्रीय अनुबंध के तहत खिलाड़ियों को तीन लाख 13 हजार रूपए प्रतिमाह जबकि मई तक अनुबंध पर रखे गए खिलाड़ियों को प्रतिमाह 75 हजार रूपए प्रतिमाह दिए जाते हैं। ऐसे में चार महीने के लिए अनुबंध किए गए सभी छह खिलाड़ियों ने बोर्ड द्वारा दी जाने वाली इस मामूली राशि पर नाखुशी जताई है।

दूसरी ओर पीसीबी अध्यक्ष जका अशरफ को भी इस प्रकार का रवैया अपनाने पर आलोचना झेलनी पड़ रही है जिसके बाद इस पूरे मामले की जांच के निर्देश दिए गए हैं।

इस बीच एक खिलाड़ी ने कहा कि बोर्ड ने जल्दबाजी में अपनी गलती सुधारने के लिए हमें महज चार महीने के लिए अनुबंध दे दिए हैं लेकिन बोर्ड की ओर से इस बात का जिक्र नहीं किया गया है कि सितंबर से दिसंबर तक के लिए इस करार में जो महीने पहले ही खतम हो चुके हैं उसके बाबत क्या कदम उठाए जाएंगे।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड