Image Loading दक्षिण भारतीयों की भूमिका सही ढंग से पेश नहीं: चिदंबरम - LiveHindustan.com
बुधवार, 04 मई, 2016 | 19:05 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • जॉब अलर्ट: SBI करेगा प्रोबेशनरी ऑफिसर के 2200 पदों पर भर्तियां
  • गायत्री परिवार के प्रणव पांड्या राज्यसभा के लिए मनोनीत: टीवी रिपोर्ट्स
  • सेंसेक्स 127.97 अंक गिरकर 25,101.73 पर और निफ्टी 7,706.55 पर बंद
  • टी-20 और वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया लुढ़की
  • यूपी के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ सुप्रीम कोर्ट के जज बने। मप्र व...
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

दक्षिण भारतीयों की भूमिका सही ढंग से पेश नहीं: चिदंबरम

मदुरै, एजेंसी First Published:23-12-2012 06:37:23 PMLast Updated:23-12-2012 11:43:06 PM
दक्षिण भारतीयों की भूमिका सही ढंग से पेश नहीं: चिदंबरम

केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में दक्षिण भारतीय लोगों द्वारा निभाई गई भूमिका को सही तरीके से पेश नहीं किया गया, जबकि 1857 के सिपाही विद्रोह से एक शताब्दी पहले ही दक्षिण भारतीयों ने सबसे पहले ब्रिटिश राज का विरोध किया था।

तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले के वीरन अक्षगू मुथु कोने पर 20 मिनट का एक वृत्तचित्र जारी करते हुये उन्होंने कहा कि फिर भी किताबों में ब्रिटिश राज के खिलाफ पहले स्वतंत्रता संघर्ष के रूप में केवल सिपाही विद्रोह का उल्लेख किया गया है।

उल्लेखनीय है कि कोने 17-18वीं शताब्दी में भारत के पहले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी माने जाते हैं। चिदंबरम ने यहां आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि इस विद्रोह से करीब 100 साल पहले कोने ने ब्रिटिश एजेंटों के खिलाफ लोहा लिया था।

उन्होंने कहा कि इसके बाद सेनापति वीरापंडिया कटटाबोम्मन और पुलितेवन ने ब्रिटिश लोगों के खिलाफ संघर्ष किया था।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
टी-20 WC हार के बाद रैंकिंग में खिसका भारत, वनडे में भी लुढ़कीटी-20 WC हार के बाद रैंकिंग में खिसका भारत, वनडे में भी लुढ़की
टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में मिली हार का टीम इंडिया को खामियाजा रैंकिंग में भी भुगतना पड़ा है। टी-20 वर्ल्ड कप में नंबर-1 रैंकिंग के साथ पहुंची टीम इंडिया दूसरे पायदान पर खिसक गई है।