class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में मोदी ने की यादवों को लुभाने की पहल

बिहार में मोदी ने की यादवों को लुभाने की पहल

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने बिहार में यादवों को साथ लाने की कोशिश करते हुए संप्रग के शासनकाल में मांस उत्पाद को प्रोत्साहित करने की कड़ी आलोचना की और इस समुदाय से कांग्रेस से हाथ मिलाने वाले लालू प्रसाद का समर्थन नहीं करने को कहा।

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार ने इस समुदाय से अपने आप को जोड़ते हुए कहा कि वह द्वारका से आये हैं जो भगवान कृष्ण की नगरी के रूप में प्रसिद्ध है और उनसे पूछा कि आप किस तरह के नेता का समर्थन कर रहे हैं। यादव अपने आप को भगवान कृष्ण का वंशज मानते हैं।

उन्होंने कहा कि आप पशु पालते हैं और आपके नेताओं ने राजनीति में जिनसे गठजोड़ किया है़, वे :संप्रग: पशु वध में गर्व महसूस कर रहे हैं। मैं लालू प्रसाद और उत्तरप्रदेश के मुलायम सिंह यादव से पूछना चाहता हूं कि आप उनका समर्थन क्यों कर रहे हैं।

यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि दिल्ली की सरकार पशु पालने की इच्छा रखने वाले यादवों को सब्सिडी नहीं देती है लेकिन उन्हें सब्सिडी देती है जो उनका वध करते हैं। उन्होंने कहा कि देश ने हरित क्रांति और श्वेत क्रांति की बात सुनी है लेकिन कांग्रेस सरकार गुलाबी क्रांति को प्रोत्साहित कर रही है और किसानों के लिए कुछ नहीं कर रही है।

मोदी ने अपने हमलों में राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का उल्लेख नहीं किया और कांग्रेस एवं उसके सहयोगी लालू प्रसाद की राजद पर इसे ज्यादा केंद्रित रखा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में मोदी ने की यादवों को लुभाने की पहल