Image Loading
शुक्रवार, 06 मई, 2016 | 09:03 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • केरलः दलित नर्सिंग छात्रा से रेप के मामले में तीन लोग गिरफ्तार

किंगफिशर के पायलटों ने कहा, वेतन नहीं मिला तो शिकायत डीजीसीए तक पहुंचा देंगे

मुंबई, एजेंसी First Published:30-11-2012 03:03:25 PMLast Updated:30-11-2012 03:17:12 PM
किंगफिशर के पायलटों ने कहा, वेतन नहीं मिला तो शिकायत डीजीसीए तक पहुंचा देंगे

किंगफिशर एयरलाइंस के पायलटों ने धमकी दी है कि यदि उन्हें वायदे के मुताबिक मई का वेतन शुक्रवार को नहीं मिला, तो वे इसकी शिकायत नियामक डीजीसीए से करेंग। वैसे डीजीसीए पहले ही कह चुका है कि वेतन का विषय उसके दायरे में नहीं आता।

विमानन कंपनी के सूत्रों ने बताया कि हमने एयरलाइंस के मुख्य कार्यकारी को पत्र लिखा है कि यदि शुक्रवार को वेतन का भुगतान नहीं किया जाता है, तो हम नागर विमानन महानिदेशालय से संपर्क कर हस्तक्षेप करने को कहेंगे। विमानन कंपनी ने मई से अपने 4,000 कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया है।

इससे पहले प्रबंधन ने आश्वस्त किया था कि उनके सात महीने के बकाया वेतन में से तीन महीने के वेतन का भुगतान अलग-अलग चरणों में दिवाली तक कर दिया जाएगा। विमानन कंपनी का परिचालन एक अक्टूबर से बंद है, जबकि उसके पयलटों और इंजीनियरों ने वेतन के भुगतान के संबंध में हड़ताल की थी। कंपनी के उड़ान लाइसेंस को भी अस्थाई तौर पर स्थगित कर दिया गया है।

हालांकि, विमानन कंपनी का प्रबंधन किसी तरह उनका आंदोलन खत्म कराने में कामयाब हुआ और आश्वासन दिया कि दिवाली तक तीन किश्तों में मार्च से मई तक के बकाए का भुगतान करेगी। इसके बाद आंदोलन 24 अक्टूबर हड़ताल वापस ले ली गई।

इस बीच डीजीसीए से एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वेतन कंपनी का आंतरिक मामला है, जिसका समाधान प्रबंधन और कर्मचारियों में मिलकर करना है। हमारी चिंता सुरक्षा से जुड़ी और हमने इसके कारण कंपनी का उड़ान लाइसेंस अस्थाई तौर स्थगित कर दिया है। अधिकारी ने हालांकि कहा कि इन मामलों पर उस वक्त निश्चित तौर पर विचार किया जाएगा, जब विमानन कंपनी पुनरुद्धार योजना पेश करेगी।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
कोहली-तेंदुलकर के बीच तुलना अनुचित है: युवराजकोहली-तेंदुलकर के बीच तुलना अनुचित है: युवराज
अनुभवी बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज सिंह को लगता है कि भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली इस पीढ़ी के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं लेकिन उनकी तुलना सचिन तेंदुलकर से करना अनुचित है क्योंकि दिल्ली के इस क्रिकेटर को मास्टर ब्लास्टर की बराबरी करने के लिए काफी मेहनत करनी होगी।