Image Loading वर्ष 2012 कसाब, गैंगरेप की शिकार छात्रा के नाम रहा - LiveHindustan.com
गुरुवार, 05 मई, 2016 | 04:36 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब को 7 रन से हराया
  • पठानकोट आतंकी हमले में मारे गए चार आतंकवादियों के शव चार महीने बाद दफनाए गए।
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब के सामने 165 रन का लक्ष्य रखा
  • वीडियो में देखें कैसे पकड़ा गया 6 फीट का अजगर..
  • आईपीएल 9: किंग्स इलेवन पंजाब ने केकेआर के खिलाफ टॉस जीता, पहले फील्डिंग का फैसला
  • हेलीकॉप्टर घोटाले में जांच उन लोगों की भूमिका पर केन्द्रित होगी जिनका नाम इटली...
  • भारत द्वारा खरीदे गए हेलीकाप्टर का परीक्षण नहीं हुआ था क्योंकि वह उस समय विकास...
  • जॉब अलर्ट: SBI करेगा प्रोबेशनरी ऑफिसर के 2200 पदों पर भर्तियां
  • गायत्री परिवार के प्रणव पांड्या राज्यसभा के लिए मनोनीत: टीवी रिपोर्ट्स
  • सेंसेक्स 127.97 अंक गिरकर 25,101.73 पर और निफ्टी 7,706.55 पर बंद
  • टी-20 और वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया लुढ़की
  • यूपी के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ सुप्रीम कोर्ट के जज बने। मप्र व...
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

वर्ष 2012 कसाब, गैंगरेप की शिकार छात्रा के नाम रहा

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:30-12-2012 03:31:04 PMLast Updated:30-12-2012 05:01:55 PM
वर्ष 2012 कसाब, गैंगरेप की शिकार छात्रा के नाम रहा

आतंकवादी अजमल कसाब की फांसी और 23 साल की छात्रा के साथ बर्बर सामूहिक बलात्कार और 13 दिन जीवन और मौत से जूझने के बाद अंतत: उसकी मौत 2012 की ऐसी दो बड़ी घटनाएं रहीं, जिन पर पूरे देश में प्रतिक्रिया हुई। इसी साल देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए जिम्मेदार केन्द्रीय गृह मंत्रालय में मुखिया भी बदले। पी चिदंबरम की जगह सुशील कुमार शिन्दे ने गृह मंत्री का पदभार संभाला।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा कसाब की दया याचिका खारिज किये जाने के बाद सरकार ने अत्यंत गोपनीय ढंग से लश्कर ए तय्यबा के आतंकी कसाब को पुणे की यरवादा जेल में फांसी दे दी। कसाब उन दस आतंकवादियों में से एक था, जिन्होंने 2008 में मुंबई पर हमला किया था। कसाब के बाकी साथी कमांडो कार्रवाई में मारे गये थे।

भारत की ओर से लगातार मांग किये जाने के बावजूद पाकिस्तान ने मुंबई आतंकी हमले की साजिश रचने वालों के खिलाफ अभी कोई कार्रवाई नहीं की है। ये सभी साजिशकर्ता पड़ोसी मुल्क में ही रहते हैं और उन पर एक अदालत में मुकदमा चल रहा है, जो संतोषजनक नहीं है। पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक इसी महीने नई दिल्ली आये, लेकिन उन्होंने यह कहते हुए भारत पर दोष मढ़ने का प्रयास किया कि उसकी सुरक्षा एजेंसियां 2008 के आतंकी हमले को रोकने में नाकाम रहीं।

जम्मू-कश्मीर इस वर्ष अपेक्षाकृत शांत रहा। असम को छोड़कर पूर्वोत्तर में भी हालात बेहतर रहे। माओवादियों की गतिविधियां सुरक्षा एजेंसियों के लिए सिरदर्द अवश्य बनी रहीं, हालांकि नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों के 80 हजार जवान तैनात किये गये हैं।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत
कप्तान गौतम गंभीर और रोबिन उथप्पा की शतकीय साझेदारी और बाद में आंद्रे रसेल की उम्दा गेंदबाजी से कोलकाता नाइटराइडर्स ने आज यहां किंग्स इलेवन पंजाब पर सात रन से जीत दर्ज की आईपीएल नौ की अंकतालिका में शीर्ष स्थान हासिल किया।