class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहीद का अपमान करने के बजाय राजनीति छोड़ दूंगा: मोदी

शहीद का अपमान करने के बजाय राजनीति छोड़ दूंगा: मोदी

अपने ये दिल मांगे मोर बयान से विवाद पैदा होने के बाद नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात कहा कि उनके मन में करगिल के शहीद कैप्टन विक्रम बत्रा और उनके माता-पिता के प्रति गहरा सम्मान है तथा वह अपने मन में ऐसे नागरिकों के अपमान का विचार लाने के बजाय राजनीति से इस्तीफा दे देंगे।

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार ने दिवंगत बत्र की उक्ति का उनके द्वारा इस्तेमाल पर उत्पन्न विवाद की निंदा की और आश्चर्य प्रकट किया, यह किस तरह की राजनीति है कि कोई शहीदों को याद भी नहीं कर सकता। थ्री डी प्रसारण में उन्होंने कहा कि कांग्रेस उन्हें निशाना बनाने के लिए हर तरह की हरकत एवं भद्दी भाषाओं का इस्तेमाल कर रही है क्योंकि उसे लोकसभा चुनाव में हार का अहसास हो चला है।

मोदी ने कहा कि जब मैं कोलकाता गया, तब मैंने सुभाषचंद्र बोस को याद किया, जब मैं झांसी गया तब मैंने रानी लक्ष्मीबाई को याद दिया आज मैं हिमाचल प्रदेश गया तो मैंने भारत के महान सपूत विक्रम बत्रा को याद किया। लेकिन जब मैं अहमदाबाद लौटा, तब मुझे पता चला कि कैसे मेरे राजनीतिक विरोधियों ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शहीद का अपमान करने के बजाय राजनीति छोड़ दूंगा: मोदी