Image Loading india vs australia i did n0t want this to be my last test says glenn maxwell - Hindustan
बुधवार, 29 मार्च, 2017 | 05:01 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • जरूर पढ़ें: दिनभर की 10 बड़ी रोचक खबरें
  • जम्मू और कश्मीरः पूरे राज्य में कल रेलवे सेवाएं निलंबित रखी जाएंगी
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • धर्म नक्षत्र: पढ़ें आस्था, नवरात्रि, ज्योतिष, वास्तु से जुड़ी 10 बड़ी खबरें
  • अमेरिका के व्हाइट हाउस में संदिग्ध बैग मिलाः मीडिया रिपोर्ट्स
  • फीफा ने लियोनल मैस्सी को मैच अधिकारी का अपमान करने पर अगले चार वर्ल्ड कप...
  • बॉलीवुड मसाला: अरबाज के सवाल पर मलाइका को आया गुस्सा, यहां पढ़ें, बॉलीवुड की 10...
  • बडगाम मुठभेड़: CRPF के 23 और राष्ट्रीय राइफल्स का एक जवान पत्थरबाजी के दौरान हुआ घाय
  • हिन्दुस्तान Jobs: बिहार इंडस्ट्रियल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी में हो रही हैं...
  • राज्यों की खबरें : पढ़ें, दिनभर की 10 प्रमुख खबरें
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े देश की अब तक की बड़ी खबरें
  • यूपी: लखनऊ सचिवालय के बापू भवन की पहली मंजिल में लगी आग।
  • पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी को हार्ट में तकलीफ के बाद लखनऊ के अस्पताल...

रांची टेस्ट के दूसरे दिन मैक्सवेल ने खेली करियर की बेस्ट पारी, बोले...

रांची, एजेंसी First Published:18-03-2017 10:00:10 AMLast Updated:18-03-2017 10:00:10 AM
रांची टेस्ट के दूसरे दिन मैक्सवेल ने खेली करियर की बेस्ट पारी, बोले...

दो साल से ज्यादा समय के बाद टेस्ट में वापसी करते ऑस्ट्रेलिया के मैक्सवेल ने रांची टेस्ट के दूसरे दिन अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ 104 रन की पारी खेली। मैक्सवेल ने कहा कि वह नहीं चाहते थे कि भारत के खिलाफ चल रहा तीसरा टेस्ट उनके लिये अंतिम टेस्ट बन जाए। यह कहते हुए वह भावुक दिख रहे थे। मैच में कप्तान स्टीवन स्मिथ (नाबाद 178 रन) के साथ 191 रन की भागीदारी निभाकर ऑस्ट्रेलिया को 451 रन तक पहुंचाया।

मैक्सवेल ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, यह लंबा समय रहा, मैंने अपना अंतिम टेस्ट 2014 में खेला था। मैं इस मौके को खराब नहीं करना चाहता था और निश्चित तौर पर इसे अपना अंतिम टेस्ट भी नहीं बनाना चाहता था।

मैक्सवेल छोटे फॉरमेट में अपनी काबिलियत साबित कर चुके हैं, उन्हें टेस्ट में तीन मौके मिले, लेकिन वह इन सभी में विफल रहे। चोटिल मिशेल मार्श की वजह से उन्हें यह मौका मिला। उन्होंने कहा, मैं जानता हूं कि यह कितना बुरा लगता है जब आपने अंतिम मैच इतने समय पहले खेला हो। मैं इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहता था। ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के साथ मैदान पर उतरना बहुत अच्छा लगा।

पत्नी और बच्चों के साथ मथुरा के चुरमुरा पहुंचे किक्रेटर यूसुफ पठान

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: india vs australia i did n0t want this to be my last test says glenn maxwell
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड