Image Loading
रविवार, 29 मई, 2016 | 19:00 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • किरण बेदी ने उपराज्यपाल की शपथ ली, पुडुचेरी के उपराज्यपाल पद की शपथ ली: टीवी...
  • गुड़गांव के मानेसर प्लांट में आग लगी, करोड़ों रुपये का सामान जला: टीवी रिपोर्ट्स
  • भाजपा ने वेंकैया नायडू, बीरेंद्र सिंह, निर्मला सीतारमण, मुख्तार अब्बास नकवी और...
  • कर्नाटक के दावणगेरे में पीएम मोदी की रैली, पीएम मोदी ने कहा, देश को गलत दिशा में...
  • मथुरा जंक्शन पर ट्रेन में बम रखे होने की आगरा से मिली झूठी सूचना , आधा दर्जन...
  • विदेशियों पर हमले पर बोले विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह, पुलिस से मामले की...
  • BSEB 10th result : टॉप 10 में 42 बच्चे हैं। सभी जमुई के सिमुलतला आवासीय विद्यालय के हैं। पूरी...
  • BSEB 10th result : सीबीएसई की तर्ज पर बिहार बोर्ड भी करेगा कंपार्टमेंट एग्जाम। चेक करें...
  • BSEB 10th result : 10.86% छात्र ही प्रथम श्रेणी में पास हो सके। Click कर देखें रिजल्ट
  • BSEB 10th result : 54.44% लड़के पास हुए जबकि मात्र 37.61% लड़कियां ही पास हो सकीं। Click कर देखें रिजल्ट
  • हिन्दुस्तान ब्रेकिंगः BSEB 10th result : मैट्रिक का रिजल्ट 50% भी नहीं, Click कर देखें रिजल्ट

सेंसेक्स और निफ्टी में एक फीसदी की तेजी (साप्ताहिक समीक्षा)

मुम्बई, एजेंसी First Published:29-12-2012 09:53:17 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
सेंसेक्स और निफ्टी में एक फीसदी की तेजी (साप्ताहिक समीक्षा)

देश के शेयर बाजारों में गत सप्ताह एक फीसदी से अधिक की तेजी दर्ज की गई। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स इस अवधि में 1.05 फीसदी या 202.84 अंकों की तेजी के साथ 19,444.84 पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी इसी अवधि में 1.03 फीसदी या 60.65 अंकों की तेजी के साथ 5,908.36 पर बंद हुआ।

आलोच्य अवधि में बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी तेजी रही। मिडकैप 1.36 फीसदी या 95.22 अंकों की तेजी के साथ 7,092.94 पर और स्मॉलकैप आलोच्य सप्ताह में 0.23 फीसदी या 16.69 अंकों की तेजी के साथ 7,342.20 पर बंद हुए।

पिछले सात दिनों में गुरुवार तक की स्थिति के मुताबिक सेंसेक्स में तेजी में रहने वाले प्रमुख शेयरों में रहे भारती एयरटेल, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, एसबीआई और बजाज ऑटो, जबकि गिरावट वाले प्रमुख शेयरों में रहे स्टरलाइट इंडस्ट्रीज, जिंदल स्टील, हिंदुस्तान यूनिलीवर, हीरो मोटोकॉर्प और मारुति सुजूकी।

आलोच्य अवधि में बीएसई के सभी सेक्टरों में तेजी रही। तेल एवं गैस (2.05 फीसदी), रियल्टी (2.02 फीसदी), बिजली (1.60 फीसदी), प्रौद्योगिकी (1.50 फीसदी) और सार्वजनिक कम्पनियां (1.46 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

गत सप्ताह की प्रमुख आर्थिक गतिविधियों में सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अग्रिम कर भुगतान दिसम्बर महीने के पहले 20 दिनों में 78,226 करोड़ रुपये रहा, इस तरह साल दर साल आधार पर इसमें 10.44 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई।

वित्त मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़े के मुताबिक पिछले महीने की समान अवधि में 70,826 करोड़ रुपये अग्रिम कर का भुगतान हासिल किया गया था।

मौजूदा कारोबारी साल में 20 दिसम्बर तक कुल अग्रिम कर भुगतान पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 7.52 फीसदी अधिक रहा है।

वस्तुओं का निर्यात बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने बुधवार को ब्याज छूट के रूप में प्रोत्साहन योजना पेश की, जिसमें मौजूदा कारोबारी साल के पहले आठ महीने में करीब छह फीसदी की गिरावट रही है।

वाणिज्य और उद्योग मंत्री आनंद शर्मा ने प्रोत्साहन योजना की घोषणा की और उम्मीद जताई कि इससे निर्यात बढ़ेगा। प्रोत्साहन योजना के तहत हस्तशिल्प, कालीन, कपड़ा, परिधान, प्रसंस्कृत कृषि उत्पादों, खेल उपकरणों और खिलौनों जैसे क्षेत्रों को दी जाने वाली दो फीसदी ब्याज छूट की अवधि को मार्च 2014 तक के लिए बढ़ा दिया गया।

योजना 31 मार्च 2013 को समाप्त होने वाली थी। सभी कारोबारी क्षेत्रों के छोटे और मझोले उद्यमों (एसएमई) को भी प्रोत्साहन योजना का लाभ मिलेगा।

मंत्री के मुताबिक निर्यात में गिरावट को देखते हुए ब्याज छूट योजना की अवधि बढ़ाने का फैसला लिया गया है। अप्रैल से नवम्बर की अवधि में देश का निर्यात पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 5.95 फीसदी कम 189 अरब डॉलर रहा, जो पिछले साल की समान अवधि में 201 अरब डॉलर था।

केंद्र सरकार ने मार्च 2013 तक 360 अरब डॉलर निर्यात का लक्ष्य रखा है, जिसके पूरे हो पाने की सम्भावना नगण्य है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गुरुवार को कहा कि 12वीं पंचवर्षीय योजना के लिए आठ फीसदी की संशोधित विकास दर का लक्ष्य भी महत्वाकांक्षी है और इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए महिलाओं की भूमिका और आधारभूत संरचना का विकास बहुत महत्वपूर्ण है।

प्रधानमंत्री ने 12वीं पंचवर्षीय योजना को अंतिम रूप देने के लिए आयोजित राष्ट्रीय विकास परिषद (एनडीसी) की बैठक में विकास दर के लक्ष्य को घटाकर आठ फीसदी किए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि परिस्थिति ने इस लक्ष्य को हासिल करना भी कठिन बना दिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह यथोचित बदलाव है। लेकिन निश्चित रूप से मैं कहना चाहूंगा कि पहले वर्ष में छह फीसदी से कम विकास दर हासिल करने के बाद औसत आठ फीसदी का लक्ष्य हासिल करना महत्वाकांक्षी लक्ष्य है।

विज्ञान भवन के सम्मेलन कक्ष में उन्होंने कहा कि लेकिन हमें याद रखना चाहिए कि हम एक कम आय वाली अर्थव्यवस्था हैं। देश को मध्य आय वाले स्तर तक लाने के लिए 20 वर्षों तक तेज विकास करना होगा। यात्रा लम्बी है और कठिन मेहनत करने की जरूरत है।

यह सप्ताह देश के सबसे बड़े कारोबारी घराने में सत्ता परिवर्तन का रहा। शुक्रवार को टाटा संस के वर्तमान अध्यक्ष रतन नवल टाटा सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं और एक साल पहले टाटा के वारिस घोषित किए जा चुके 44 वर्षीय साइरस पालोंजी मिस्त्री शनिवार को समूह के छठे अध्यक्ष के रूप में बागडोर सम्भालेंगे। समूह की स्थापना 1868 में जमसेतजी नुसेरवांजी टाटा ने की थी।

शुक्रवार को 75 वर्ष के हो चुके रतन टाटा समूह के सेवानिवृत्त अध्यक्ष बने रहेंगे। रतन टाटा ने मिस्त्री तेज और सुयोग्य कहा था। उन्होंने कहा था कि वह (मिस्त्री) अगस्त 2006 से  टाटा संस के बोर्ड में हैं और मैं उसकी सहभागिता की गुणवत्ता तथा क्षमता, उसकी तेज पारखी नजर और नम्रता से प्रभावित हूं।

शुक्रवार को टाटा समूह के मुख्यालय बॉम्बे हाउस के पास बड़ी संख्या में संवाददाता, फोटोग्राफर और टेलीविजनकर्मी रतन टाटा के आने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन उन्हें बताया गया कि वह बाहर हैं। जबकि मिस्त्री ने चुपचाप भवन में प्रवेश किया।

मिस्त्री निर्माण क्षेत्र के दिग्गज पालोंजी मिस्त्री के छोटे पुत्र हैं, जिनका परिवार टाटा समूह की सर्वाधिक 18.8 फीसदी हिस्सेदारी रखने वाला परिवार है। मिस्त्री के लिए नई जिम्मेदारी आसान नहीं होने वाली है।

समूह में आज 100 कम्पनियां हैं, जिनकी कुल आय 100.09 अरब डॉलर है, जिसकी 60 फीसदी से अधिक आय विदेश से आती है, जिसका कारोबार 80 देशों में फैला हुआ है और जिसके कर्मचारियों की संख्या 4.5 लाख है।

लंदन बिजनेस स्कूल से प्रबंधन में एमएससी डिग्री धारक मिस्त्री 144 वर्षीय टाटा समूह के छठे अध्यक्ष होंगे और बिना टाटा उपनाम वाले दूसरे अध्यक्ष होंगे। मिस्त्री अपने पारिवारिक कारोबार शपूरजी पालोंजी एंड कम्पनी से 1991 में जुड़े थे। उन्हें 1994 में कम्पनी का प्रबंध निदेशक बना दिया गया था। टाटा समूह में रतन टाटा के वारिस नियुक्त किए जाने के बाद मिस्त्री ने अपना पारिवारिक कारोबार छोड़ दिया।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
IPL-9: तो इसलिए चैंपियन बन सकती हैं IPL-9: तो इसलिए चैंपियन बन सकती हैं 'विराट' की RCB
59 मैच और दो महीने तक चले टी-20 क्रिकेट के बाद आखिरकार आईपीएल की 9वें सीजन के फाइनल मैच का समय आ गया है। फाइनल रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा।