Image Loading
बुधवार, 25 मई, 2016 | 10:49 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • हैबतुल्ला अखुंदजादा अफगान तालिबान का नया सरगना बना
  • अफगान तालिबान ने अमेरिकी ड्रोन हमले में पूर्व नेता मुल्ला अख्तर मंसूर की मौत की...
  • उत्तराखंड: अल्मोड़ा में बस खाई में गिरी, 8 लोगों की मौत
  • उत्तराखंड बोर्ड: हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट थोड़ी देर में। देखने के लिए...
  • तिरूवनंतपुरमः शपथ ग्रहण से पहले राज्यपाल पी सदाशिवम से मिले पिनरई विजयन
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 318 अंक चढ़कर 25,621 पर पंहुचा, निफ़्टी 7,855
  • चीन-भारत बिजनेस फोरम: दोनों देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग की असीम...
  • गुआंगझोउः चीन-भारत बिजनेस फोरम में बोले राष्ट्रपति मुखर्जी, चीन की आर्थिक...
  • उत्तराखंड बोर्ड का रिजल्ट आज होगा घोषित, कैसे देखें नतीजे? जानने के लिए क्लिक...

वीरभद्र सिंह की नजर हिमाचल में मुख्यमंत्री पद पर

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:19-12-2012 09:29:17 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गुरुवार को होने वाली मतगणना से पहले जीत का विश्वास जताते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह ने उम्मीद जताई कि लोगों की भावनाओं का ध्यान रखते हुए ही मुख्यमंत्री का चयन किया जाएगा।

पांच बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके वीरभद्र ने कांग्रेस के चुनाव प्रचार का नेतृत्व किया। उन्होंने आईएएनएस से कहा कि वह एक और कार्यकाल के लिए प्रदेश की सेवा करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, ''कांग्रेस यदि सत्ता में आती है तो लोगों की राय साफ है कि किसे मुख्यमंत्री बनना चाहिए। मुझे पूरी उम्मीद है कि लोगों की भावनाओं का ध्यान रखते हुए मुख्यमंत्री का निर्णय लिया जाएगा।''

उन्होंने कहा, ''मैं अभी सांसद हूं और यदि पार्टी चाहेगी तो मैं उसके लिए तैयार हूं।''

मंडी से सांसद वीरभद्र को चुनाव से कुछ सप्ताह पहले ही प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया गया था, ताकि चुनाव में पार्टी अच्छा प्रदर्शन कर सके।

कांग्रेस ने अपनी परम्परा के मुताबिक चुनाव पूर्व किसी को भी मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में आगे नहीं किया। उसका कहना है कि केंद्रीय नेतृत्व नवनिर्वाचित विधायकों से बात कर मुख्यमंत्री का फैसला करेगा।

कांग्रेस महासचिव व हिमाचल प्रदेश के प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने आईएएनएस से कहा, ''हम विधायकों और हाईकमान को विश्वास में लेकर मुख्यमंत्री का फैसला करेंगे।''

वीरभद्र सिंह हालांकि दावा करते हैं कि कांग्रेय इस बार का विधानसभा चुनाव आसानी से जीतेगी। उन्होंने कहा, ''लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शासन से तंग हो चुके हैं। मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल विकास को आगे ले जाने में असफल रहे हैं।''

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Uttrakhand Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट