Image Loading सेहत के लिए फायदेमंद फल - LiveHindustan.com
बुधवार, 04 मई, 2016 | 11:32 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 104 अंक गिरकर 25,130 पर, निफ़्टी 7,715
  • दिल्ली में जैश ए मोहम्मद के 12 आतंकवादी गिरफ्तार, छापेमारी जारी
  • लालू यादव ने की बाबा रामदेव की तारीफ, बोले- योग के क्षेत्र में बनाया कीर्तिमान

सेहत के लिए फायदेमंद फल

परिणय कुमार First Published:12-12-2012 12:56:55 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
सेहत के लिए फायदेमंद फल

फल हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद और जरूरी हैं। मेडिकल साइंस भी फलों के महत्व को एकमत से मानता है। खासकर इस मौसम में तो फलों का महत्व और बढ़ जाता है। इसके इस्तेमाल और लाभ के बारे में बता रहे हैं परिणय कुमार

हमारी सेहत के लिए फलों का कितना अधिक महत्व है, यह तो हम सभी जानते हैं, लेकिन अपने भोजन में फलों को प्रमुखता से जगह देना हमारे लिए आसान नहीं होता। फल हमारी सेहत तो बना देते हैं लेकिन उनकी ऊंची कीमतें हमारे बजट का समीकरण बिगाड़ देती हैं। फिर भी सेहत के लिए कम से कम इन महीनों में तो अपने बजट में फल को शामिल किया ही जा सकता है। सेहत बनाने के इस मौसम में पौष्टिकता से भरपूर फल आपकी तंदुरुस्ती तो बढ़ ही सकते हैं, आपकी खूबसूरती में भी चार चांद लगा सकते हैं।

मौसमी फलों को दें तरजीह
फलों के महत्व को तो आप जान ही गए हैं, अब ये भी जान लीजिए कि इस मौसम में मिलने वाले तमाम फलों में काफी मात्रा में स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद विटामिन आदि पाये जाते हैं। गहरे रंग वाले फलों में विटामिन ए काफी मात्रा में पाया जाता है। जबकि खट्टे फलों में विटामिन सी भरपूर होता है। ये सभी शरीर के लिए काफी जरूरी है। तो पहले इस मौसम में पाए जाने वाले प्रमुख फल और उनकी खूबियां जान लें।

ब्रेकफास्ट में फल ही लें
ब्रेकफास्ट और स्नैक्स टाइम में आप नियमित रूप से सिर्फ फल खाने की आदत डाल लें। इसके अलावा लंच और डिनर में भी सलाद के रूप में फल खाएंगे तो आपके स्वास्थ्य के लिए उत्तम रहेगा। मेडिकल मानकों के अनुसार, एक आम वयस्क को प्रतिदिन फल के रूप में 2000 कैलोरी लेनी चाहिए। एक छोटा सेव, एक सामान्य आकार का केला, आधा कप अनार और 30 अंगूर से आप इतनी कैलोरी प्राप्त कर सकते हैं। यानी सेहत के लिए यह कोई महंगा सौदा नहीं है।

तमाम बीमारियों से बचाते हैं
कई शोधों में यह साबित हो चुका है कि फल के बगैर स्वस्थ मानव शरीर की कल्पना करना बेमानी है। फल खाने से वजन दुरुस्त रहता है, आंतों का कैंसर नहीं होता, हार्ट की समस्या नहीं होती है, स्ट्रोक्स नहीं आते और तमाम तरह की बीमारियों से बचाव होता है। फलों में कई तरह के विटामिन और प्रोटीन पाए जाते हैं जो शरीर को रोग-प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करते हैं और बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। इन्हीं खूबियों की वजह से लोग नियमित रूप से फलों का सेवन करते हैं।

सबसे अधिक पोषक तत्व
फलों को लेकर भी आम लोगों के मन में कुछ भ्रांतियां हैं, जिस वजह से वह फलों से दूर हो जाते हैं। कई लोगों के बीच यह मिथक है कि फलों में किसी तरह का पोषक तत्व नहीं पाया जाता है और इसे खाने से कोई फायदा नहीं है। यह बात किसी भी तरह सही नहीं है। फलों में सबसे अधिक पोषक तत्व पाया जाता है। जितनी अधिक मात्रा में विटामिन, मिनरल्स, एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्व फलों में पाया जाता है, उतना अन्य खाद्य पदार्थ में नहीं मिलता। हमारे शरीर के लिए अहम हेल्थ सप्लीमेंट जल तत्व भी फलों में काफी मात्रा में पाया जाता है।

वजन भी ठीक रहता है
अधिकांश लोगों का ऐसा मानना है कि फलों में मिठास (चीनी) होती है। इस वजह से यह वजन बढ़ने का काम करता है। लेकिन यह बिल्कुल गलत है। फलों में पायी जाने वाली मिठास आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली साधारण सफेद चीनी से बिल्कुल अलग है। फलों में कई तरह के फायदेमंद फाइबर पाए जाते हैं, जो कैलोरी को कम करने और शरीर के लिए फायदेमंद पोषक तत्वों को बढ़ने का काम करते हैं। फलों में काफी कम कैलोरी होता है और इसमें किसी भी तरह का अनहेल्दी फैट्स नहीं पाया जाता है, जिससे वजन बढ़ नहीं पाता और हम चुस्त रहते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए
फल में काफी मात्रा में विटामिन, मिनरल्स आदि पाया जाता है जो सामान्य बीमारियों के साथ-साथ कैंसर, हार्ट, सूजन जैसी कई गंभीर बीमारियों को रोकने में मददगार साबित होता है। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत कर रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ता है।

डायबिटीज में भी फायदेमंद
आम धारणा है कि डायबिटीज मतलब मीठा नहीं खाओ। यही सोचकर लोगों ने यह भी फैसला कर लिया कि डायबिटीज के मरीजों को मीठा फल भी नहीं खाना चाहिए, जबकि फलों की मिठास से डायबिटीज के मरीजों को कोई नुकसान नहीं हो सकता बल्कि ये डायबिटीज मरीजों के लिए भी काफी फायदेमंद हैं। फलों में पाया जाने वाला फाइबर और विटामिन डायबिटीज मरीज के इम्यून सिस्टम को काफी मजबूत बनाता है।

प्रोटीन से भी भरपूर होता है फल
लोगों का ऐसा मानना है कि फलों में प्रोटीन नहीं होता है, लेकिन फलों के कैलोरी में लगभग 6 प्रतिशत प्रोटीन पाया जाता है।

टमाटर, खीरा, ककड़ी भी फल
फल समूह के कई सदस्य ऐसे हैं, जिन्हें आप फल नहीं समझते है। टमाटर, बेरी, खीरा, ककड़ी (ककम्बर), एवकाडोज, सीताफल आदि कई फल हैं जिन्हें आप फल समूह में न रखकर सब्जी समझते हैं,जबकि वास्तविकता में ये फल हैं।
(इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के सहायक महासचिव डॉ. रवि मलिक, बेनसप्स हॉस्पिटल की डॉ. अनुभा सिंह, फोर्टिस हॉस्पिटल के डॉ. सुरेंद्र चावला, डायटिशियन सुषमा कुमारी, मलिक रेडिक्स हेल्थ केयर की डॉ. रेणू मलिक और डॉ. करुणा मल्होत्रा से बातचीत पर आधारित)

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट