Image Loading माले संकट में हो सकता है विदेशी हाथ: जीएमआर - LiveHindustan.com
बुधवार, 10 फरवरी, 2016 | 14:14 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • अमेरिकी चुनावः न्यू हैम्पशायर में हिलेरी की हार, ट्रंप की पहली जीत

माले संकट में हो सकता है विदेशी हाथ: जीएमआर

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:05-12-2012 06:33:06 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
माले संकट में हो सकता है विदेशी हाथ: जीएमआर

जीएमआर इंफ्रास्ट्रक्चर ने बुधवार को कहा कि मालदीव हवाई अड्डा परियोजना से कंपनी को बाहर करने के पीछे किसी दूसरे देश का हाथ होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। जीएमआर एयरपोर्ट्स के मुख्य वित्त अधिकारी सिद्धार्थ कपूर ने संवाददाताओं से कहा कि मैं इस बारे में पूरी तरह आश्वस्त नहीं हूं लेकिन मालदीव में राजनीतिक स्थिति को देखते हुए मैं किसी संभावना से इनकार नहीं कर सकता।

उनसे यह पूछा गया था कि क्या जीएमआर को लगता है कि 50 करोड़ डालर की परियोजना से कंपनी को हटाये जाने के पीछे चीन जैसे किसी अन्य देश का हाथ है। बहरहाल, कपूर ने किसी अन्य देश का हाथ होने के बारे में और कुछ नहीं कहा।

मालदीव ने सिंगापुर अदालत के उस निर्णय को मानने से इनकार कर दिया जिसमें जीएमआर अनुबंध को रद्द करने पर रोक दिया गया था। मालदीव ने कहा कि वह अपने निर्णय पर कायम रहेगा और हवाई अड्डे का शुक्रवार को अधिग्रहण कर लेगा। यह पूछे जाने पर कि क्या कंपनी अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत में अपील करेगी, कपूर ने कहा कि हम आशा करते हैं और मालदीव सरकार से अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करने की अपील करेंगे।

कपूर ने यह भी कहा कि जीएमआर संकट का सौहार्दपूर्ण समाधान की उम्मीद कर रही है। हालांकि, उन्होंने कहा कि मालदीव राष्ट्रपति से संपर्क करने की बार-बार कोशिश की गई लेकिन अब तक कोई जवाब नहीं आया।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
कैसा रहा साल 2015
क्रिकेट
'श्रीलंका के खिलाफ मिली हार खतरे की घंटी'
टीम इंडिया को श्रीलंका के खिलाफ पुणे टी-20 मैच में पांच विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस हार पर पूर्व कप्तान और दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने कहा कि यह टीम इंडिया के लिए खतरे की घंटी है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड