Image Loading
रविवार, 29 मई, 2016 | 05:35 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • भ्रष्टाचार दीमक की तरह है, सपने को चूर चूर करने की ताकत भ्रष्टाचार में: पीएम मोदी
  • बिना कारण देश को निराशा के गर्त में धकेलना दुर्भाग्यपूर्ण: पीएम मोदी
  • लोकतंत्र में विरोध स्वाभाविक है, एक तरफ विकासवाद है तो दूसरी तरफ विरोधवाद है:...
  • मोदी सरकार के दो साल: 'नई सुबह' कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी, चुनी हुई सरकार का...
  • केजरीवाल और पीएम मोदी लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं: राहुल गांधी
  • आप विधायक वंदना ने विधानसभा उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया, निगम उपचुनाव में हार...
  • दिल्ली में राहुल गांधी की अगुवाई में बिजली और पानी को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन
  • उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत का दावा, जल्द ही सामने आएगी सीडी, भाजपा नेताओं का भी...
  • मोदी सरकार के दो साल: 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' पर बोले अमिताभ, जहां नारी की पूजा होती...
  • मोदी सरकार के दो साल पर बोले केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, विकास की कोशिश लगातार...
  • उत्तराखंड: टिहरी जिले के घनसाली में बादल फटा, गैंगर गांव के घरों, दुकानों में...
  • वी नारायणसामी पुडुचेरी में कांग्रेस विधायक दल के नेता निर्वाचित, मुख्यमंत्री...
  • बिहार बोर्ड इंटर आर्ट्स का रिजल्ट मार्कशीट के साथ जानने के लिए बने रहें livehindustan.com...
  • बिहार बोर्ड इंटर आर्ट्स का रिजल्ट सबसे पहले हमारे पास, क्लिक कर देखें रिजल्ट
  • कांग्रेस पी चिदंबरम, ऑस्कर फर्नांडिस, जयराम रमेश, अंबिका सोनी, विवेक तन्खा, कपिल...
  • बिहार बोर्ड का रिजल्ट आया, आप भी देखें अपना रिजल्ट यहां click कर
  • बिहार बोर्ड इंटर आर्ट्स का रिजल्ट आया। सिर्फ 56.40 % रहा परिणाम। पिछली साल के...
  • CBSE 10वीं रिजल्ट: CGPA से ऐसे निकालें अपना पर्सेन्टज....Click Here
  • CBSE Class X results: 96.36 प्रतिशत लड़कियां पास हुईं जबकि 96.11 प्रतिशत लड़के पास हुए हैं।
  • भाजपा झूठा जश्‍न मना रही है, इस सरकार ने कोई नए रोजगार नहीं दिएः चिदंबरम
  • पी चिदंबरम ने मोदी सरकार की योजनाओं पर उठाए सवाल, बोले- दो साल में देश का बुरा हाल

FDI के मोर्चे पर सुधारों से 2013 में निवेश बढ़ेगा

नई दिल्ली, एजंसी First Published:31-12-2012 02:58:07 PMLast Updated:31-12-2012 03:13:22 PM
FDI के मोर्चे पर सुधारों से 2013 में निवेश बढ़ेगा

वैश्विक बाजारों में अनिश्चितता के चलते निवेश में नरमी आने से सरकार को 2012 में एफडीआई नीति में ढील देने को बाध्य होना पड़ा, जिसका असर 2013 में एफडीआई में तेज बढो़तरी के रूप में देखने को मिल सकता है।

विपक्षी दलों के भारी विरोध के बावजूद सरकार ने बहुब्रांड खुदरा क्षेत्र, एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र, जिंस एक्सचेंज, बिजली एक्सचेंज, प्रसारण, गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थानों और परिसंपत्ति पुनर्निर्माण कंपनियों सहित विभिन्न क्षेत्रों में एफडीआई नीति उदार की।

इस साल के 10 महीनों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) 33 प्रतिशत तक घटकर 21 अरब डॉलर पर आ गया, जो बीते साल की इसी अवधि में 31 अरब डॉलर था। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में एक अधिकारी ने हालांकि, उम्मीद जताई कि कई महत्वपूर्ण निर्णयों को देखते हुए 2013 में देश में और एफडीआई आ सकता है।

इसी तरह के विचार व्यक्त करते हुए क्रिसिल के मुख्य अर्थशास्त्री डीके जोशी ने कहा कि सरकार को अधिक निवेश हासिल करने के लिए और सुधार करने होंगे। उन्होंने कहा कि वर्ष 2012 वैश्विक एवं घरेलू कारकों से अच्छा नहीं रहा, लेकिन 2013 में चीजों में सुधार आने की उम्मीद है।

महीनों तक नीतिगत निर्णय लेने में लाचार रहने के आरोप का सामना करने वाली सरकार ने बहुब्रांड खुदरा क्षेत्र में 51 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति देकर निवेशकों में उत्साह पैदा किया। साथ ही उसने विमानन क्षेत्र में विदेशी विमानन कंपनियों को 49 प्रतिशत निवेश करने की भी अनुमति दी।

इसके अलावा, प्रसारण क्षेत्र में एफडीआई सीमा 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 74 प्रतिशत कर दी गई और साथ ही बिजली एक्सचेंजों में विदेशी निवेश की अनुमति दे दी गई। सरकार ने प्रसारण क्षेत्र में डीटीएच जैसी कंपनियों में एफडीआई सीमा बढ़ाकर 74 प्रतिशत कर दी।

विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) को सरकार से बगैर पूर्व मंजूरी लिए कमोडिटी एक्सचेंजों में 23 प्रतिशत तक निवेश करने की भी अनुमति दे दी गई। वहीं, संपत्ति पुनर्निर्माण कंपनियों में एफडीआई सीमा 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 74 प्रतिशत कर दी गई।

इस समय देश में 14 संपत्ति पुनर्निर्माण कंपनियां परिचालन कर रही हैं, जिनमें से 9 कंपनियों में विदेशी निवेश नहीं है। इस दौरान, सरकार ने घटिया मशीनों के आयात को हतोत्साहित करने के लिए पुरानी मशीनों के आयात के बदले इक्विटी देने की सुविधा वापस ले ली।

दीर्घकालीन दृष्टि के तहत औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) ने 2017 तक वैश्विक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में भारत की हिस्सेदारी बढ़ाकर 5 प्रतिशत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है, जो 2007 में 1.3 प्रतिशत था।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
कोहली की चुनौती के लिए तैयार है सनराइजर्स का सबसे सफल गेंदबाजकोहली की चुनौती के लिए तैयार है सनराइजर्स का सबसे सफल गेंदबाज
सनराइजर्स हैदराबाद के शुक्रवार को दूसरे क्वालीफायर में गुजरात लायंस पर चार विकेट की जीत के साथ फाइनल में जगह बनाने के बाद तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा कि उनकी टीम खिताबी मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं।