Image Loading दिल्ली सरकार-पुलिस आयुक्त के बीच तेज हुई जुबानी जंग - LiveHindustan.com
शुक्रवार, 29 अप्रैल, 2016 | 13:36 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • EXCLUSIVE: दुनिया के सबसे अधिक अनपढ़ पाकिस्तान में हैंः तारेक
  • आर्थिक पिछडे़पन के आधार पर गुजरात सरकार ने सामान्य वर्ग को दिया 10 फीसदी आरक्षण, 1...
  • केंद्र ने NEET पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिका, 1 मई की परीक्षा 24 जुलाई को कराने...

दिल्ली सरकार-पुलिस आयुक्त के बीच तेज हुई जुबानी जंग

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:26-12-2012 11:08:57 PMLast Updated:27-12-2012 09:45:42 AM
दिल्ली सरकार-पुलिस आयुक्त के बीच तेज हुई जुबानी जंग

सामूहिक बलात्कार मामले में दिल्ली सरकार ने पुलिस आयुक्त नीरज कुमार पर बुधवार को भी दबाव बनाना जारी रखा और कहा कि उन्हें पीड़िता का बयान दर्ज करने वाली सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट  की कार्यप्रणाली पर टिप्पणी करने का कोई अधिकार नहीं है।

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अगुआई में हुई मंत्रिमंडल की एक बैठक के बाद दिल्ली के मुख्य सचिव पी के त्रिपाठी ने कहा कि पुलिस आयुक्त को एसडीएम की कार्यप्रणाली पर फैसला लेने का अधिकार नहीं है। यह पूछे जाने पर कि क्या इस मुद्दे को राजनैतिक फायदे के लिए तूल दिया जा रहा है उन्होंने इन आरोपों का खंडन किया और कहा कि इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं हो रही है।

उल्लेखनीय है कि पीड़िता का पहली बार बयान दर्ज करने वाली एसडीएम उषा चतुर्वेदी ने आरोप लगाया था कि बयान दर्ज करने के दौरान दिल्ली पुलिस के तीन आला अधिकारियों ने हस्तक्षेप की कोशिश की थी।

सूत्रों का कहना है कि मंत्रिमंडल ने उषा की ओर से लिखे पत्र पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि मंत्रिमंडल ने शीला की ओर से केन्द्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे को लिखे पत्र में की गई मांग का भी समर्थन किया। इस पत्र में मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की गई है।

दिल्ली के एक मंत्री ने कहा कि मंत्रिमंडल का मानना है कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ अत्यधिक बलप्रयोग किया, जो स्वीकार्य नहीं है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
DJ ब्रावो का ये सपना जानकर आप रह जाएंगे बिल्कुल DJ ब्रावो का ये सपना जानकर आप रह जाएंगे बिल्कुल 'दंग'
कैरेबियाई क्रिकेटर ड्वेन ब्रावो डीजे तो बन ही चुके हैं और अपने गाने 'चैंपियन... चैंपियन...' से खूब वाह-वाही भी बटोर चुके हैं लेकिन अब उनका इरादा कुछ और ही है।