Image Loading
शुक्रवार, 24 मार्च, 2017 | 05:29 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • अंकराशि: क्लिक करें और पढ़ें कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • प्राइम टाइमः पढ़ें देश और दुनिया की अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • चौथे टेस्ट के लिए कप्तान विराट कोहली के कवर के रूप में श्रेयस अय्यर को भारतीय...
  • धर्म नक्षत्र: पढ़ें धर्म, ज्योतिष और वास्तु की 10 बड़ी खबरें
  • बॉलीवुड मसाला: जब मंदिर में हुई विद्या के साथ बदतमीजी और फिर...यहां पढ़ें, बॉलीवुड...
  • पीएम मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पाकिस्तान के नेशनल डे पर...
  • बेल्जियम: भीड़-भाड़ वाले इलाके में तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने वाला युवक अरेस्ट,...
  • हिन्दुस्तान जॉब्स: फरीदाबाद के ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में...
  • शिवसेना ने एयर इंडिया के कर्मचारी की पिटाई करने वाले अपने सांसद रविन्द्र...
  • बेल्जियम के एंटवर्प शहर में भीड़ में वाहन घुसाने का प्रयास करने वाला व्यक्ति...
  • थाने पहुंचे सीएम योगी, मंत्री ने पहले दिन लगाई झाड़ू, पढ़ें राज्यों से आज दिनभर की...
  • दिल्ली एयरपोर्ट के मैनेजर हरिंदर सिंह ने कहा, शिवसेना के सांसद रविंद्र...
  • लंदन हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली, पढ़ें शाम 6 बजे तक की 10 बड़ी खबरें
  • लंदन हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन आईएस ने ली
  • स्पोर्ट्स अपडेट: क्रिकेट और अन्य खेल की दिन की 10 बड़ी खबरें
  • जरूर पढ़ें: सचिन से पंगा लेना पड़ा भारी, फैन्स ने लगाई क्लास, दिनभर की 10 बड़ी रोचक...
  • बॉलीवुड मिक्स: SRK ही नहीं, ये स्टार भी निभाएगा बौने का रोल, यहां पढ़ें, बॉलीवुड की...
  • टीवी गॉसिप: कपिल और सुनील के विवाद के बाद सामने आया नया वीडियो, पढ़ें, टीवी की...
  • नोएडा: अस्पतालों के लिए ड्रेस कोड लागू, जीन्स और टी शर्ट पहनने पर पाबंदी, महिलाएं...
  • लंदन अटैक: ब्रिटेन पुलिस ने 7 लोगों को किया गिरफ्तार, घायलों की हालत नाजुक।
  • स्वाद-खजाना: VIDEO- किचन के 4 सुपरफूड और उनके फायदे, क्लिक कर देखें
  • उत्तराखंड: कैबिनेट मिनिस्टर प्रकाश पंत को संसदीय कार्यमंत्री का जिम्मा।
  • BJP नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, तीन तलाक गलत है, संविधान के तहत मुस्लिम महिलाओं...
  • अयोध्या मसले पर द्विपक्षीय वार्ता नहीं होगी: सुब्रमण्यम स्वामी
  • टॉप 10 न्यूजः 12 बजे तक देश-दुनिया की बड़ी खबरें एक नजर में
  • मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसलाः राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की जगह नया आयोग बनेगा,...
  • स्पोर्ट्स-स्टार: क्रिकेट और अन्य खेल से जुड़ी 10 बड़ी खबरें और गॉसिप
  • बाबरी विध्वंसः आडवाणी-जोशी समेत 13 लोगों पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई दो हफ्ते...
  • हिन्दुस्तान Jobs: बिहार में जेई की हो रही हैं भर्तियां, 10 अप्रैल 2017 तक करें आवेदन
  • बॉलीवुड मसाला: कंगना रनौत के बर्थडे पर पेश हैं उनके दिलचस्प किस्से। इसके अलावा...
  • टॉप 10 न्यूज: लंदन हमले समेत पढ़ें 9 बजे तक देश-दुनिया की बड़ी खबरें
  • हेल्थ टिप्स- घी से बेहतर है बटर, झुर्रियों को करता है दूर
  • हिन्दुस्तान ओपिनियन: पढ़ें, आज के हिन्दुस्तान में इलाहाबाद हाईकोर्ट पूर्व...
  • मौसम दिनभर: दिल्ली-NCR, रांची, देहरादून और पटना में धूप निकलेगी, लखनऊ में हल्की धुंध...
  • ईपेपर हिन्दुस्तानः आज का हिन्दुस्तान अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें
  • आपका राशिफल: मेष राशिवालों के आत्मविश्वास में वृद्धि होगी लेकिन आत्मसंयत रहें।...
  • सक्सेस मंत्र: 'थैंक यू पिताजी यह समझाने के लिए कि हम कितने गरीब हैं'
  • टॉप 10 न्यूज : देश-दुनिया की 10 बड़ी खबरें एक नजर में

आम चुनाव की निगरानी में एसएमएस से मिलेगी मदद

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-2013 08:31:35 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

चुनाव आयोग 2014 में होने जा रहे लोक सभा चुनाव में कोडेड एसएमएस आधारित चेतावनी पद्धति से निगरानी की योजना लागू करने में जुटा है। 2009 में हुए पिछले आम चुनाव में आयोग ने ऑनलाइन निगरानी पद्धति सीओएमईटी शुरू किया था।

उप चुनाव आयुक्त आलोक शुक्ला ने आईएएनएस को बताया, ''हम अगले चुनाव में इसका इस्तेमाल करने की उम्मीद करते हैं।''

शुक्ला के मुताबिक चुनाव के लिए संचार योजना (सीओएमईटी) के तहत मतदान कार्यो में प्रतिनियुक्त करीब 11 लाख सरकारी कर्मचारियों के फोन का डाटाबेस तैयार किया गया था। इसका उद्देश्य अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ शीघ्र संपर्क स्थापित करने में सक्षम होना था। अब यह उच्च तकनीक एसएमएस आधारित चेतावनी पद्धति में बदल गया है।

इस पद्धति में कर्तव्य पर तैनात कर्मियों व अधिकारियों के बारे में आंकड़ा एकत्र करने के लिए सांकेतिक संदेश का प्रयोग किया जाएगा। इससे माउस के सिर्फ एक क्लिक पर किसी भी मतदान केंद्र के कामकाज की निगरानी में मदद मिलेगी।

नई पद्धति का प्रयोग सबसे पहले 2012 के शुरू में हुए गोवा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मणिपुर के विधानसभा चुनावों और इसी साल के आखिरी में हिमाचल प्रदेश और गुजरात के विधानसभा चुनावों में सफलतापूर्वक किया जा चुका है।

अधिकारी के मुताबिक नई पद्धिति में मोबाइल से सांकेतिक टेक्स्ट संदेशों का इस्तेमाल किया जाएगा। इससे तय कार्यक्रमों जैसे मतदान दल का मतदान केंद्र तक पहुंचना, मतदान कार्यो का अभ्यास, मतदान शुरू होना, हर दो घंटे बाद मतदान का प्रतिशत, मतदान का समय समाप्त होने के बाद कतार में खड़े मतदाताओं की संख्या और मतगणना केंद्र तक ईवीएम के साथ मतदान दल के सुरक्षित पहुंचने की जानकारी भेजी जा सकेगी।

किसी भी असंगत परिस्थिति जैसे ईवीएम के काम नहीं करने, मतदाता सूची में गड़बड़ी या फिर कानून एवं व्यवस्था की समस्या खड़ी होने पर पद्धति तुरंत ही जिले के पुलिस अधीक्षक और संबंधित इलाके के पुलिस निरीक्षक को एक एसएमएस से सतर्क कर देगा।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड