Image Loading गुस्से के समय आदमी जैसे होते हैं कुत्ते - LiveHindustan.com
बुधवार, 10 फरवरी, 2016 | 08:10 | IST
 |  Image Loading

गुस्से के समय आदमी जैसे होते हैं कुत्ते

वाशिंगटन, एजेंसी First Published:05-04-2012 01:23:46 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
गुस्से के समय आदमी जैसे होते हैं कुत्ते

आदमी और उसका सबसे अच्छा मित्र कहे जाने वाले कुत्ते में कुछ समानताएं हैं। दोनों जब आपे से बाहर होते हैं तो आक्रामक व्यवहार करने लगते हैं।
  
यूनिवर्सिटी ऑफ लिली नार्ड डे फ्रांस के अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि कुत्ते जब स्व नियंत्रण से बाहर होते हैं तो वे अधिक आवेग वाले फैसले करते हैं जिससे वे खतरे में पड़ जाते हैं।

अग्रणी अनुसंधानकर्ता होली मिलर ने कहा कि साइकोनामिक बुलेटिन एंड रिव्यू नाम की पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन रिपोर्ट स्व नियंत्रण की जैविकीय प्रक्रिया के बारे में बताती है।
  
मिलर ने लाइवसाइंस को बताया, जब मानव कमजोर स्थिति में होता है तो वह कम मददगार, अधिक आक्रामक, अधिक दांव पर लगाने वाला, इत्यादि होता है।

उन्होंने कहा कि इन परिणामों की जैविकीय जड़ें भी होती हैं। जब कुत्ते कमजोर स्थिति में होते हैं तो उनके भी अधिक अविवेकपूर्ण और जल्दबाजी भरा व्यवहार करने की संभावना होती है।
  
अपने अध्ययन में अनुसंधानकर्ताओं ने पालतू कुत्तों पर प्रयोगशाला में प्रयोग किए।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
कैसा रहा साल 2015
क्रिकेट
भारत 101 पर ढेर, श्रीलंका की आसान जीत

भारत 101 पर ढेर, श्रीलंका की आसान जीत
युवा तेज गेंदबाजों कासुन राजिता और दासुन चनाका की घसियाली पिच पर कातिलाना गेंदबाजी और कप्तान दिनेश चंदीमल की सूझबूझ भरी पारी से श्रीलंका ने कम स्कोर वाले पहले ट्वंटी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भारत को दो ओवर शेष रहते हुए पांच विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में शुरुआती बढ़त हासिल की।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड