Image Loading
शनिवार, 01 अक्टूबर, 2016 | 08:42 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में आज गर्मी रहेगी। पटना, रांची और लखनऊ में मौसम साफ रहेगा।...
  • इस नवरात्रि आपको क्या होगा लाभ और कितनी होगी तरक्की, अपना राशिफल पढ़ने के लिए...
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान की ओर से अखनूर सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन, सुबह 4 बजे...
  • नवरात्रि: आज होगी मां शैलपुत्री की पूजा, जानिए आरती और पूजन विधि-विधान
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देशभर में हाई अलर्ट, नीतीश सरकार को बड़ा झटका,...

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ लगाया हत्या का आरोप

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-2012 05:32:35 PMLast Updated:29-12-2012 05:33:58 PM
पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ लगाया हत्या का आरोप

दिल्ली पुलिस ने चलती बस में सामूहिक बलात्कार की शिकार 23 वर्षीय छात्रा की सिंगापुर के अस्पताल में मौत के बाद इस मामले में सभी छह आरोपियों के खिलाफ शनिवार को हत्या का आरोप लगाया और फैसला किया कि वह तीन जनवरी को अदालत में आरोप पत्र दाखिल करेगी। पुलिस ने कहा कि वह दोषियों को इस अपराध के लिये कठोरतम सजा दिलाने की खातिर हर संभव प्रयास करेगी।

विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) धर्मेंद्र कुमार ने कहा कि हम तीन जनवरी 2013 को आरोप दाखिल करने की आशा कर रहे हैं। इस मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) को जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि त्वरित अदालत में दिन प्रति दिन आधार पर सुनवाई के लिए एक विशेष लोक अभियोजक को नियुक्त किया गया है। उन्होंने कहा कि यह हमारा हरसंभव प्रयास होगा कि दोषियों को कठोरतम सजा दिलायी जाए।

सिंगापुर के चिकित्सा दल ने पीड़ित के शव का अटाप्सी किया है और इसकी रिपोर्ट जल्द ही जांचकर्ताओं को सौंप दी जाएगी। धर्मेंद्र ने कहा कि एक बर्बर अपराध में एक निर्दोष युवती की मौत के बाद यह राष्ट्रीय शोक का समय है। हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे शांति बनाये रखें। हम (दिल्ली पुलिस) भारत के नागरिक होने के नाते यदि ज्यादा नहीं तो कम से कम समान रूप से दुखी हैं। हमारी संवेदनायें शोक संतप्त परिवार के साथ हैं।

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने पहले आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 307 (हत्या का प्रयास), 201 (सबूतों को मिटाना), 365 (अपहरण), 376 दो जी (सामूहिक बलात्कार), 377 (असामान्य अपराध), 394 (डकैती के दौरान चोट पहुंचाना) और 34 के तहत मामला दर्ज किया था।

बीते 16 दिसंबर को चलती बस में छह लोगों ने मुनिरका से चढ़ी 23 साल की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने के साथ ही उसके साथ हैवानियत का व्यवहार किया था। उसके साथ चल रहे दोस्त ने उसे बचाने का प्रयास किया था। लड़का भी इस घटना में बुरी तरह से घायल हो गया था।

सामूहिक बलात्कार के सभी छह आरोपियों बस चालक राम सिंह, उसके भाई मुकेश, अक्षय ठाकुर, पवन और विनय को गिरफ्तार कर लिया गया है। पकड़े गए छठे आरोपी का दावा है कि वह अवयस्क है। पुलिस ने उसकी उम्र का पता लगाने के लिए उसकी हडि्डयों की जांच की अनुमति अदालत से मांगी है।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड