Image Loading सचिन के राज्यसभा नामांकन के खिलाफ PIL खारिज - LiveHindustan.com
गुरुवार, 05 मई, 2016 | 19:47 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के छठे और अंतिम चरण में 84.24 प्रतिशत मतदान: निर्वाचन...
  • यूपी बोर्ड का हाईस्कूल व इंटरमीडिएट रिजल्ट 15 मई को आएगा।
  • अन्नाद्रमुक ने स्कूटर मोपेड खरीदने के लिए महिलाओं को 50 प्रतिशत सब्सिडी देने,...
  • अन्नाद्रमुक ने तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए अपने घोषणापत्र में सब के लिए 100...
  • तमिलनाडुः अन्नाद्रमुक ने सभी राशन कार्ड धारकों को मुफ्त मोबाइल फोन देने का...
  • मध्यप्रदेश: सिंहस्थ कुंभ में तेज बारिश और आंधी से गिरे पांडाल, 4 की मौत
  • अगस्ता वेस्टलैंड मामला: पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी के तीनों करीबी...
  • सेंसेक्स 160.48 अंक की बढ़त के साथ 25,262.21 और निफ्टी 28.95 अंक चढ़कर 7,735.50 पर बंद
  • वाईस एडमिरल सुनील लांबा होंगे नौसेना के अगले प्रमुख, 31 मई को संभालेंगे पद
  • यूपी सरकार ने केंद्र सरकार से बुंदेलखंड के लिए पानी के टैंकर मांगें-टीवी...
  • स्टिंग ऑपरेशन: हरीश रावत को सीबीआई ने सोमवार को पूछताछ के लिए बुलाया: टीवी...
  • नोएडा: स्कूल बसों और ऑटो की टक्कर में इंजीनियर लड़की समेत 2 की मौत। क्लिक करें

सचिन के राज्यसभा नामांकन को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:19-12-2012 01:14:46 PMLast Updated:19-12-2012 01:23:04 PM
सचिन के राज्यसभा नामांकन को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

दिल्ली उच्च न्यायालय ने क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर के राज्यसभा के लिए नामांकन को चुनौती देने वाली एक जनहित याचिका को बुधवार को खारिज कर दिया।

मुख्य न्यायधीश न्यायमूर्ति डी. मुरुगेसन व न्यायमूर्ति राजीव एंडलॉ की खंडपीठ ने दिल्ली के एक पूर्व विधायक रामगोपाल सिंह सिसौदिया द्वारा दायर याचिका खारिज कर दी। याचिका में कहा गया था कि तेंदुलकर के पास 'विशेष ज्ञान व व्यवहारिक अनुभव' नहीं है जबकि संविधान के 80वें अनुच्छेद के मुताबिक इस तरह के नामांकन के लिए ऐसा होना आवश्यक है।

वैसे केंद्र सरकार ने न्यायालय को सूचित किया था कि तेंदुलकर का राज्यसभा के लिए नामांकन संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक हुआ है।

सरकार द्वारा दाखिल किए गए हलफनामे में कहा गया है कि केवल चार श्रेणियों (साहित्य, विज्ञान, कला व सामाजिक सेवा) में ही 'विशेष ज्ञान व व्यवहारिक अनुभव' का होना आवश्यक नहीं है, इसमें खेल, शिक्षा, कानून, इतिहास, अकादमिक उपलब्धियों, अर्थशास्त्र, पत्रकारिता, संसदीय प्रक्रियाओं, लोक प्रशासन, कृषि, खेल (कुश्ती) या मानव उद्यम के ऐसे ही अन्य क्षेत्रों को भी शामिल किया गया है।

सरकार ने 26 अप्रैल को तेंदुलकर को अभिनेत्री रेखा व उद्योगपति अनु आगा के साथ राज्यसभा के लिए नामांकित किया था।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट