Image Loading
बुधवार, 01 जून, 2016 | 12:57 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर आज से 21 रुपये महंगा, हवाई सफर भी महंगा
  • महाराष्ट्रः पुलगांव आयुध डिपो में भीषण आग की चपेट में आने से मरने वालों की...
  • रितेश देशमुख फिर बने पापा, जेनेलिया ने दिया बेटे को जन्म
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 65 अंक चढ़कर 26,733 पर खुला, निफ़्टी 8182
  • रेल, हवाई सफर, रेस्टोरेंट में खाना, मोबाइल, बैंकिंग आज से महंगा

काश! उस रात कोई हमारी मदद के लिए आया होता...

नई दिल्ली, हिन्दुस्तान टीम First Published:05-01-2013 10:06:51 AMLast Updated:05-01-2013 05:27:44 PM
काश! उस रात कोई हमारी मदद के लिए आया होता...

चलती बस में गैंगरेप की शिकार बनी छात्रा का दोस्त शुक्रवार शाम पहली बार लोगों के सामने आया। एक निजी समाचार चैनल से बातचीत में उसने कहा कि वह जिंदा रहना चाहती थी।

वह चाहती थी कि उसके साथ दुष्कर्म करने वाले सभी आरोपियों को फांसी के बजाए जला कर मारा जाए। बातचीत के दौरान उसने घटनाक्रम पर पुलिस-अस्पताल व समाज के रवैये को लेकर भी कई सवाल उठाए।

युवक ने कहा कि बस से फेंकेने के बाद दरिंदों ने लड़की को बस से कुचलने की भी कोशिश की, लेकिन मैंने उसे बचा लिया। हम ढाई घंटे तक सड़क पर ही पड़े रहे। इस दौरान तीन पीसीआर वैन तो आईं लेकिन सभी सीमा विवाद में उलझी रहीं।

हम राहगीरों से मदद मांग रहे थे, लेकिन किसी ने हमें शरीर ढकने के लिए कपड़ा तक नहीं दिया। शायद उन्हें डर था कि वे रुकेंगे तो पुलिस के चक्कर में फंस जाएंगे। अस्पताल पहुंचने पर भी ठीक से मदद नहीं मिली। वहां भी किसी ने तन ढकना जरूरी नहीं समझा।

युवक के अनुसार, वह वारदात की रात से ही स्ट्रेचर पर था। 16 से 20 दिसंबर तक वह थाने में ही रहा। इस दौरान पुलिस ने उसका उपचार भी नहीं करवाया। इस चश्मदीद का कहना है कि अगर लड़की को उपचार के लिए विदेश ले ही जाना था तो यह फैसला पहले होना चाहिए था।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
POLL: टीम इंडिया के कप्तान सुपर हॉट कोहली हों या सुपर कूल धौनी?POLL: टीम इंडिया के कप्तान सुपर हॉट कोहली हों या सुपर कूल धौनी?
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 9वें सीजन में विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने फाइनल तक का सफर तय किया तो कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी की टीम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स नॉकआउट तक भी नहीं पहुंच सकी। कोहली की शानदार फॉर्म और आक्रामक कप्तानी को लेकर कहा जाने लगा है कि उन्हें क्रिकेट के तीनों फॉरमैट का कप्तान बना दिया जाना चाहिए।