Image Loading
सोमवार, 30 मई, 2016 | 23:53 | IST
 |  Image Loading

बस में छेड़छाड़ की शिकार नाबालिग लड़की से भाई ने किया था बलात्कार

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:31-12-2012 01:12:13 PMLast Updated:31-12-2012 02:17:14 PM
बस में छेड़छाड़ की शिकार नाबालिग लड़की से भाई ने किया था बलात्कार

एक बस में छेड़छाड़ की शिकार नाबालिग लड़की के मामले में नये तथ्यों का खुलासा हुआ है। पुलिस ने छह महीने पहले पीड़ित से कथित रूप से बलात्कार और फिर यौन उत्पीड़न करने पर उसके किशोर भाई को गिरफ्तार किया है।
    
इस दर्दनाक तथ्य का खुलासा कल उस समय हुआ जब इस 16 साल की पीड़ित लड़की ने पुलिस के सामने बयान दर्ज कराए। उसकी शिकायत के बाद उसके भाई नजाकत अली (19) को गिरफ्तार किया गया।
    
परिवार द्वारा उत्पीडन की शिकार होकर घर छोड़ने वाली इस लड़की से शनिवार की रात को एक बस कंडक्टर ने कथित रूप से छेड़छाड़ की थी। इस मामले में आरोपी कंडक्टर रंजीत सिंह को गिरफ्तार किया जा चुका है। यह घटना ऐसे समय हुई है जबकि दक्षिण दिल्ली में चलती बस में बलात्कार की शिकार एक छात्रा के मामले को लेकर पूरे देश में गुस्सा है।
    
पुलिस पीड़ित लड़की का बयान दर्ज करने कल पश्चिम दिल्ली के ख्याला में उसके घर गई थी। इस दौरान लड़की ने पुलिस अधिकारियों को आपबीती सुनाई।
    
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसके पिता ने तीन बार शादी की और वह अब अपनी तीसरी पत्नी के साथ रहते हैं। लड़की ने दावा किया कि उसके परिवार में काफी समस्याएं हैं।
    
एक अधिकारी ने कहा कि उसने हमें यह भी बताया कि छह महीने पहले उसके भाई ने उसका बलात्कार किया था और उसके बाद उसका यौन उत्पीडन किया गया। हमने लड़के को गिरफ्तार कर लिया है।
    
शनिवार की रात को लड़की ने रात करीब साढे नौ बजे घर छोड़ दिया था और जब बस रात करीब 11 बजे मंडी हाउस पहुंची तो पुलिसकर्मियों ने महसूस किया कि बस में मौजूद अकेली लड़की रो रही है।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
कुक ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्डकुक ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्ड
इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक ने आज यहां टेस्ट क्रिकेट में 10,000वां रन पूरा करते ही कई रिकार्ड अपने नाम किये जिनमें सबसे कम उम्र में इस मुकाम पर पहुंचने का रिकार्ड भी शामिल है जो अब तक भारतीय स्टार सचिन तेंदुलकर के नाम पर दर्ज था।