Image Loading दुष्कर्मियों को मुत्युदंड के लिए 10 दिनों से अनशन - LiveHindustan.com
रविवार, 01 मई, 2016 | 21:00 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: किंग्स इलेवन पंजाब ने गुजरात लायंस को 23 रन से हराया
  • आईपीएल 9: मुंबई इंडियंस ने टॉस जीता, राइजिंग पुणे सुपरजाइंटस को दिया पहले...
  • वाराणसी: अस्सीघाट पर पीएम मोदी के मंच पर शार्ट सर्किट से मचा हडकंप
  • IPL: पंजाब ने गुजरात को जीत के लिए दिया 155 रन का लक्ष्य

दुष्कर्मियों को मुत्युदंड के लिए 10 दिनों से अनशन

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:02-01-2013 07:56:12 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

राष्ट्रीय राजधानी में चलती बस में 23 वर्षीय युवती के साथ मिलकर दुष्कर्म करने वाले आतताइयों को मृत्युदंड देने की मांग को लेकर एक व्यक्ति यहां पिछले 10 दिनों से अनशन पर बैठा हुआ है।

उत्तर प्रदेश के बरेली के रहने वाले राजेश गंगवार ने 10 दिनों पहले जंतर मंतर के पास एक सड़क पर अपना अनशन शुरू किया था। यहीं पर उत्तर प्रदेश के फरूखाबाद के बाबू सिंह के अनशन का आज पांचवां दिन है।

दोनो अनशनकारियों ने हाड़ कंपा देने वाली ठंड के बावजूद एक और रात अनशन स्थल पर ही बिताई। जबकि बुधवार तड़के पारा 4.8 डिग्री सेल्सियस पर लुढ़क गया।

दोनों भूख हड़ताली, युवती के साथ चलती बस में दुष्कर्म करने वाले सभी छह आतताइयों को तत्काल फांसी पर लटकाने की मांग कर रहे हैं। सभी छह आरोपी गिरफ्तार हैं और तिहाड़ जेल में कैद हैं।

गैर सरकारी संगठन, मिशन जन जागृति के चिकित्सा निदेशक एन.के. भाटिया ने गंगवार और बाबू सिंह के स्वास्थ्य की जांच की। उन्होंने कहा कि उनके प्रमुख स्वास्थ्य मानक सामान्य हैं।

इस बीच दुष्कर्म के आरोपियों को दंडित किए जाने और महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराधों को समाप्त करने के लिए कठोर कानून बनाने की मांग को लेकर सैकड़ाें लोग प्रदर्शन जारी रखे हुए हैं।

प्रदर्शन स्थल पर रात को तो कुछ प्रदर्शनकारी ही रह जाते हैं, लेकिन सुबह होने के साथ ही वहां लोगों की भीड़ जमा होनी शुरू हो जाती है। प्रदर्शनकारियों में ज्यादातर कॉलेज के विद्यार्थी हैं।

प्रदर्शन स्थल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं। और सैकड़ाें की संख्या में पुलिसकर्मी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए वहां लगातार मुस्तैद हैं।

कुछ गैर सरकारी संगठनों को प्रदर्शनकारियों में गरम दूध वितरित करते देखा गया।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट