Image Loading
शुक्रवार, 31 मार्च, 2017 | 00:02 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • शुभरात्रि: पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • जरूर पढ़ें: दिनभर की 10 बड़ी रोचक खबरें
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • धर्म नक्षत्र: नवरात्रि, ज्योतिष, वास्तु से जुड़ी 10 खबरें
  • 'दीया और बाती' फेम सूरज 14 साल छोटी लड़की से करने जा रहे हैं शादी, पढ़ें बॉलीवुड की 10...
  • भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी को राष्ट्रपति ने दिया पद्म विभूषण...
  • हिन्दुस्तान Jobs: इंजीनियर, टेक्निकल असिस्टेंट और सीएडी ऑपरेटर की नौकरी के लिए...
  • योगी की अपील: विधायक, मंत्री फालतू खर्चे से बचें, करें मर्यादित व्यवहार, पढ़ें...
  • टॉप 10 न्यूज़: Video में देखें, अब तक की देश की बड़ी खबरें
  • स्पोर्ट्स अपडेटः विराट बोले, मेरे बयान को बेवजह तिल का ताड़ बनाया, पढ़ें क्रिकेट...
  • महाकौशल एक्सप्रेस की आठ बोगी पटरी से उतरी, देखें हादसे की तस्वीरें...
  • बॉलीवुड मिक्स: इतिहास बन जाएगा रीगल हॉल, राज कपूर की 'संगम' होगी आखिरी फिल्म, यहां...
  • सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक का मुद्दा संवैधानिक पीठ के पास भेजा, सुनवाई 11 मई से।
  • वित्त विधेयक 2017 को संसद की मंजूरी, लोकसभा ने राज्यसभा के संशोधनों को खारिज किया।
  • टीवी गॉसिप: कपिल के शो में दिखेंगी दिग्‍गज कॉमेडियन जॉनी लीवर की बेटी जैमी।...
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा के पहले भाषण में कहा, सदन को चर्चा का मंच बनाना...
  • आंध्र प्रदेश: पश्चिम गोदावरी जिले के मोगल्थुर इलाके में एक फूड प्रोसेसिंग...
  • स्वाद-खजाना: नवरात्रि स्पेशल रेसिपी- ऐसे बनाएं साबूदाना मूंगफली बौंडा, क्लिक कर...
  • टॉप 10 न्यूज: रविंद्र गायकवाड़ के समर्थन में शिवसेना, कहा-गुंडों की तरह बर्ताव कर...
  • स्पोर्ट्स-स्टार: विराट पर 'बेतुका' बयान देने वाले ब्रैड हॉज ने मांगी माफी, यहां...
  • हिन्दुस्तान Jobs: नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड में चाहिए 205 एडमिनिस्ट्रेटिव...
  • बॉलीवुड मसाला: कपिल और सोनी चैनल ने ढूंढ लिया सुनील का ऑप्शन, शो में होगी नई...
  • टॉप 10 न्यूज: सुप्रीम कोर्ट में आज तीन तलाक, निकाह-हलाला और बहुविवाह पर सुनवाई,...
  • हेल्थ टिप्स: लू के साथ-साथ मुहांसों से भी बचाता है कच्‍चा आम, पढें 5 फायदे
  • हिन्दुस्तान ओपिनियन: पाकिस्तान मामलों के विशेषज्ञ सुशांत सरीन का विशेष लेख-...
  • ईपेपर हिन्दुस्तान: आज का समाचार पत्र पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आपका राशिफल: मिथुन राशि वालों को किसी सम्‍पत्‍ति से आय के स्रोत विकसित हो सकते...
  • टॉप 10 न्यूज : महोबा रेल हादसा-महाकौशल एक्सप्रेस के 6 डिब्बे पटरी से उतरे, 9 घायल,...
  • सक्सेस मंत्र : कोई भी काम करने से पहले एक बार सोच लें, क्लिक कर पढ़ें

ट्रासपोर्ट मंदी से नवंबर में ट्रक भाड़ा 4 से 5 प्रतिशत घटा

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:01-12-2012 05:55:46 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

देश के लंबे मार्गों के लिए नवंबर माह में ट्रक भाड़ा चार से पांच प्रतिशत तक घट गया। छोटी औद्योगिक इकाईयों में कामकाज घटने से माल ढुलाई की मांग हल्की पड़ने से मुंबई, नागपुर, कोलकाता, गुवाहटी, कांडला, बैंगलुरु जैसे लंबे मार्गों के लिए ट्रक भाड़ा चार से पांच प्रतिशत तक घट गया।

भारतीय ट्रांसपोर्ट अनुसंधान एवं प्रशिक्षण फाउंडेशन (आईएफटीआरटी) की यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार नवंबर के दूसरे पखवाड़े में ट्रक भाड़ा गिरना शुरू हुआ। पहले पखवाड़े में दिवाली त्योहार से भाड़े स्थिर रहे, उसके बाद इनमें 4 से 5 प्रतिशत तक गिरावट आ गई।

देश में इस समय 60 लाख ट्रक और 25 लाख ट्रासपोर्ट फर्म हैं जो कि सालाना चार लाख करोड़ रुपए के माल का परिवहन करती हैं। फाउंडेशन ने सरकार से अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के उपाय तेज करने का आग्रह किया है।

फाउंडेशन ने कहा है कि सरकार को ढांचागत परियोजनाओं के क्षेत्र में खर्च बढ़ाने के साथ साथ उपभोक्ता खर्च को भी प्रोत्साहित करना चाहिए, ताकि आर्थिक गतिविधियों में तेजी आए और ट्रक ट्रासपोर्ट को भी इसका लाभ मिले।

फाउंडेशन के वरिष्ठ सहयोगी और समन्वयक एसपी सिंह के अनुसार ट्रक मालिकों के लिए गेहूं, चावल निर्यात, घरेलू बाजार में सीमेंट, टाइल्स, सैनिटरी उत्पाद, औषधि, तेल साबुन और दूसरे सौंदर्य प्रसाधन तथा फल एवं सब्जियों की ढुलाई मांग का सहारा रहा, अन्यथा भाड़े और भी नीचे आ सकते थे।

उन्होंने बताया कि लघु एवं मझोली औद्योगिक इकाईयां (एमएसई) जहां से समूचे औद्योगिक क्षेत्र का 70 प्रतिशत माल ढुलाई के लिए मिलता है कठिन दौर से गुजर रहा है। इन इकाइयों में माल का ढेर लगा हुआ है, उठाव नहीं है। इसका असर ट्रांसपोर्टरों पर भी पड़ रहा है।

बहरहाल, ट्रांसपोर्टरों ने नए ट्रक खरीदने से हाथ रोका हुआ है। वाहन निर्माताओं की तरफ से कई तरह के प्रोत्साहन मिलने के बावाजूद नए ट्रक की खरीद नहीं हो रही है। ट्रक मालिक अभी 2008-09 की मंदी भूले नहीं हैं।

दिल्ली-मुंबई-दिल्ली ट्रक भाड़ा (फुल ट्रक लोड 16.2 टन जीवीडब्ल्यू) दो नवंबर 2012 को जहां 56,500 रुपए प्रति चक्कर था वहीं पहली दिसंबर 2012 को यह 54,300 रुपए बोला जा रहा है। दिल्ली-नागपुर-दिल्ली के लिये यह 53,700 से घटकर 51,000 रुपए रह गया। दिल्ली-कोलकाता़-दिल्ली चक्कर का भाड़ा 58,000 रुपए से घटकर 55,700 रुपए रह गया। दिल्ली-चेन्नई-दिल्ली 87,000 से घटकर 83,500 रुपए और दिल्ली-कांडला-दिल्ली का ट्रक भांड़ा 43,000 से घटकर 41,300 रुपए प्रति चक्कर पर आ गया है।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड