Image Loading
शुक्रवार, 30 सितम्बर, 2016 | 05:17 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • सेना की सर्जिकल स्ट्राइक पर बोले केजरीवाल, 'भारत माता की जय'
  • उरी हमले का बदलाः हेलीकॉप्टर से LOC पारकर भारतीय सेना ने किया हमला, कई आतंकी...
  • भारतीय सेना ने LOC पारकर भीमबेर, केल, लिपा और हॉटस्प्रिंग सेक्टर में घुसकर आतंकी...
  • करीना कपूर ने किया अपने बारे में एक बड़ा खुलासा, इसके अलावा पढ़ें बॉलीवुड जगत की...
  • पुजारा को लेकर अलग-अलग है कोच कुंबले और कोहली की सोच, इसके अलावा पढ़ें क्रिकेट और...
  • कर्क राशि वालों का आज का दिन भाग्यशाली साबित होगा, जानिए आपके सितारे क्या कह रहे...
  • वेटर, बस कंडक्टर से बने सुपरस्टार, क्या आपमें है ऐसा कॉन्फिडेंस? पढ़ें ये सक्सेस...

पूरे देश में क्रिसमस का उत्साह, प्रार्थनाओं का आयोजन

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 02:42:55 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
पूरे देश में क्रिसमस का उत्साह, प्रार्थनाओं का आयोजन

राजधानी दिल्ली, केरल और पूर्वोत्तर राज्यों सहित पूरे देश में प्रभू यीशू का जन्मदिवस पूरे धूमधाम से क्रिसमस के रूप में मनाया जा रहा है। सभी गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाओं का आयोजन किया गया।

नई दिल्ली के बीचोंबीच स्थित सेक्रेड हार्ट कैथ्रेडल गिरिजाघर को बेहद सुंदर तरीके से सजाया गया है और वहां प्रभु यीशु के जन्म को दर्शाती झांकियां प्रदर्शित की गई हैं।

तमिलनाडु स्थित ईसाईयों के तीर्थ स्थल वेलन्कणी में हजारों की संख्या में लोग क्रिसमस का त्योहार मनाने पहुंचे हैं। कल मध्य रात्रि में जैसे ही घड़ी ने 12 बजाए, गिरजाघरों के पादरियों ने प्रभू यीशू के जन्म की घोषणा की। हाथों में बाइबल और मोमबत्ती लिए बच्चों ने जन्म की खुशी में गीत गाए और सभी ने एक-दूसरे को बधाई दी।

इसी तरह वर्ष 1718 में बने तरंगमबाड़ी स्थित एशिया के सबसे पुराने प्रोटेस्टेंट गिरजाघर यरूशलम गिरजाघर में सैकड़ों लोगों ने विशेष प्रार्थना की।

क्रिसमस मनाने के लिए मेघालय में स्थानीय लोगों के अलावा बड़ी संख्या में पर्यटक भी जुटे हैं। गिरजाघरों में कल रात से विशेष मास और प्रार्थनाओं का आयोजन किया जा रहा है। कल मध्य रात्रि में प्रभू यीशू के जन्म के बाद से लोग एक-दूसरे को बधाईयां दे रहे हैं और दोस्तों, रिश्तेदारों में तोहफे बांट रहे हैं।

मेघालय की राजधानी शिलांग क्रिसमस और नया साल के उत्सव के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है, क्योंकि पूरा शहर क्रिसमस ट्री और रंग-बिरंबे बल्बों से सजा हुआ है। पारंपरिक क्रिसमस कैरोल और रंग-बिरंगी झांकियों के अलावा विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।

दक्षिण भारत में केरल में लोग पूरी भक्ति, श्रद्धा और विश्वास के साथ क्रिसमस का त्योहार मना रहे हैं। क्रिसमस की पूर्व संख्या पर पैटोम स्थित संत मेरी मलांकरा सीरियन कैथेलिक कैथ्रेडल बसीलिका में कार्डिनल मार बसेलियस क्लीमीस ने क्रिसमस मास कराया।

प्रार्थनाओं के बाद बारी आई स्वादिष्ट पकवानों की। लोगों ने जमकर केक खाए और खिलाए। पूरे राज्य में होटलों और रेस्तरां को क्रिसमस ट्री, घंटियों और सांता के पुतलों से सजाया है। तमिलनाडु में भी क्रिसमस पूरे उत्साह के साथ मनाया गया।

राज्यपाल क़े रोसैया सहित नेताओं ने राज्य के लोगों को इस त्योहार की बधाई दी। अपने संदेश में मुख्यमंत्री ज़े जयललिता ने तमिलनाडु के लोगों से प्रभू यीशू के महान सिद्धांतों को अपने जीवन में उतारने की की सीख दी।

द्रमुक नेता एम़ करुणानिधि ने भी लोगों को इस अवसर पर शुभकामनाएं दीं।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड