Image Loading भारतीय प्रवासी ब्रिटेन में सबसे बड़ा जातीय समूह - LiveHindustan.com
रविवार, 14 फरवरी, 2016 | 02:52 | IST
 |  Image Loading
खास खबरें

भारतीय प्रवासी ब्रिटेन में सबसे बड़ा जातीय समूह

लंदन, एजेंसी First Published:11-12-2012 10:40:41 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
भारतीय प्रवासी ब्रिटेन में सबसे बड़ा जातीय समूह

ब्रिटेन में भारतीय प्रवासी सबसे बड़ा जातीय समूह है तो हिंदुत्व यहां तीसरा सबसे लोकप्रिय धर्म है। इंग्लैंड और वेल्स की प्रवासी लोगों की संख्या से जुड़ी 2011 की गणना के अनुसार पिछले एक दशक के दौरान इन दोनों स्थानों पर प्रवासियों की जनसंख्या में 30 लाख से अधिक का इजाफा हुआ और यह 75 लाख को पार कर गई।

इस आंकड़े में कहा गया है कि सबसे ज्यादा प्रवासी भारत, पोलैंड और पाकिस्तान के हैं। लंदन में रहने वाले सिर्फ 37 लाख को लोगों को श्वेत ब्रिटिश की नस्ल का बताया गया है, जबकि यह संख्या 2001 में 43 लाख थी। फिलहाल ब्रिटिश मूल के लोगों की आबादी लंदन में 44.9 फीसदी है।

ऐसा माना जा रहा है कि पहली बार ब्रिटेन के किसी क्षेत्र में ब्रिटिश श्वेत लोग अल्पसंख्‍यक हो गए हैं। ब्रिटेन में यहां के श्वेत नस्ल की लोगों की आबादी में 80 फीसदी की गिरावट आई है। ब्रिटेन में 3.32 करोड़ लोगों ने कहा कि वे ईसाई हैं, जबकि 2001 में यह आंकड़ा 3.73 करोड़ था।

यहां को इस्लाम को मानने वालों की संख्या कुल आबादी का 4.8 फीसदी, जबकि हिंदुत्व में आस्था रखने वालों का आंकड़ा 1.5 फीसदी है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
कैसा रहा साल 2015
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड