Image Loading कर्नाटक: भाजपा ने टाला बागियों पर कार्रवाई का फैसला - LiveHindustan.com
बुधवार, 04 मई, 2016 | 15:18 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

कर्नाटक: भाजपा ने टाला बागियों पर कार्रवाई का फैसला

बेलगाम (कर्नाटक), एजेंसी First Published:12-12-2012 09:13:43 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
कर्नाटक: भाजपा ने टाला बागियों पर कार्रवाई का फैसला

कर्नाटक में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने 14 विधायकों और सात विधानपरिषद सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई का फैसला बुधवार को टाल दिया। इन विधायकों ने पूर्व मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा द्वारा गठित की गई कर्नाटक जनता पार्टी (कजपा) का खुलकर समर्थन किया।

प्रदेश भाजपा के नेताओं ने फैसला किया कि वे इस सम्बंध में केंद्रीय नेतृत्व को लिखेंगे और पूछेंगे कि बागियों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाए जिससे यह संदेश जाए कि भाजपा अनुशासन कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।

येदियुरप्पा ने जिस दिन अपनी पार्टी गठित की थी उस दिन इन बागियों ने हावेरी में आयोजित कार्यक्रम में येदियुरप्पा के साथ मंच साझा किया था।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के. एस. ईश्वरप्पा ने आला नेताओं की एक बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ''हमने इस मसले पर चर्चा की। कल या परसों हम इस बारे में केंद्रीय नेतृत्व को लिखेंगे।''

बैठक में ईश्वरप्पा के अलावा मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार, गृह मंत्री आर. अशोका और पूर्व मुख्यमंत्री डी. वी. सदानंद गौड़ा शामिल थे।

यह पूछे जाने पर कि बार-बार की चेतावनी के बाद भी इन विधायकों ने येदियुरप्पा के साथ मंच साझा किया लेकिन इसके बावजूद भाजपा उन पर कड़ी कार्रवाई क्यों नहीं कर रही, ईश्वरप्पा ने कहा, ''भाजपा एक राष्ट्रीय पार्टी है और ऐसे मामलों में केंद्रीय नेतृत्व की मंजूरी आवश्यक है।''

उन्होंने कहा कि पार्टी का संसदीय बोर्ड एक या दो दिनों में बैठक कर कोई फैसला लेगा।

225 सदस्यीय राज्य विधानसभा में 14 बागियों सहित भाजपा विधायकों की कुल संख्या 118 है। कुछ बागियों ने धमकी दी है कि यदि उनके खिलाफ कार्रवाई की गई तो वे विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे और शेट्टार सरकार अल्पमत में आ जाएगी। राज्य में विधानसभा चुनाव मई 2013 में होने हैं।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
अश्विन ने बताया क्यों हार रही है धौनी की टीम पुणे सुपरजाइंट्सअश्विन ने बताया क्यों हार रही है धौनी की टीम पुणे सुपरजाइंट्स
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 9वें सीजन में नई टीम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स की हालत बहुत खस्ता रही है। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी वाली इस टीम ने आठ में से महज दो मैच ही जीते हैं।