class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेलंगाना मुद्दे पर हुई मौतों के लिए संप्रग सरकार जिम्मेदार: भाजपा

तेलंगाना मुद्दे पर हुई मौतों के लिए संप्रग सरकार जिम्मेदार: भाजपा

तेलंगाना को अलग राज्य बनाने की मांग के लिए चल रहे आंदोलन में पिछले तीन साल के दौरान आत्महत्या और पुलिस की गोलियों के शिकार हुए लोगों की मौत के लिए केंद्र की संप्रग सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए भाजपा ने आज कहा कि यदि केंद्र सरकार इस मुद्दे पर तुरंत फैसला कर लेती, तो इन लोगों की जानें बच सकती थीं।
     
राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान भाजपा नेता प्रकाश जावडेकर ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि तेलंगाना क्षेत्र में वैसे तो अलग राज्य के गठन की मांग को लेकर कई दशकों से आंदोलन चल रहा है। लेकिन पिछले तीन सालों में इस आंदोलन में जितने लोगों की जानें गयी हैं, उतनी कभी नहीं गयीं। उन्होंने कहा कि पिछले तीन सालों में करीब 50 लोगों की जान आत्महत्या के कारण गईं और कई लोग पुलिस की गोलियां के शिकार हुए।
    
भाजपा सदस्य ने कहा कि नवंबर महीने में दो छात्राओं ने आत्महत्या कर ली। वहां आत्महत्याओं का दौर बदस्तूर जारी है। उन्होंने कहा कि 40 साल से चल रहे आंदोलन में वहां के लोगों ने हर जनतांत्रिक तरीके से अपनी भावनाओं का इजहार किया है।
    
जावडेकर ने कहा कि इन मौतों के लिए कांग्रेस नीत संप्रग सरकार जिम्मेदार है क्योंकि तीन साल पहले तत्कालीन गृह मंत्री पी चिदंबरम ने तेलंगाना राज्य के गठन की प्रक्रिया शुरू होने की घोषणा की थी। लेकिन इसके बाद सरकार सर्वदलीय बैठक, विभिन्न समितियों और आयोग का गठन करके टालमटोल कर रही है।
     
उन्होंने कहा कि सरकार के इसी रुख के कारण तेलंगाना में पिछले तीन साल के दौरान आंदोलन में बहुत तेजी आई है और नए राज्य के गठन तक यह आंदोलन थमने की संभावना भी नजर नहीं आ रही है।
     
भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि संप्रग सरकार की तेलंगाना मुद्दे पर टालमटोल की नीति का खामियाजा आंध्र प्रदेश में कांग्रेस को उठाना पड़ रहा है, जहां उसका सूपड़ा साफ हो जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'तेलंगाना मुद्दे पर हुई मौतों के लिए सरकार जिम्मेदार'