Image Loading जिंदा बचे लोगों ने की सेना की तारीफ - LiveHindustan.com
गुरुवार, 11 फरवरी, 2016 | 16:09 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • जाबांज हनुमनथप्पा का पार्थिव शरीर बरार स्क्वायर ले जाया गया
  • हनुमनथप्पा का ब्लड प्रेशर सुबह काफी कम हो गया था: आर आर अस्पताल
  • SBI का एकीकृत मुनाफा तीसरी तिमाही में 67 प्रतिशत घटकर 1,259 करोड़ रुपए रहा, पिछले साल...

जिंदा बचे लोगों ने की सेना की तारीफ

देहरादून, एजेंसी First Published:22-06-2013 08:07:44 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

उत्तराखंड में बारिश और बाढ़ के कहर का सामना करके जिंदा बचे लोगों ने सेना की जमकर तारीफ करते हुए कहा है कि सेना ने उन्हें दूसरा जीवन दिया है। हेमकुंड साहिब के रास्ते में आठ दिन फंसे रहे लुधियाना के रहने वाले सुखविंदर सिंह ने कहा कि मैं आपदा आने के समय हेमकुंड साहिब के रास्ते में था। समय बीतने के साथ स्थिति और बिगड़ गई। सेना के मोर्चा संभालने पर हमें थोड़ी राहत मिली। उन्होंने हमें भोजन, पानी दिया और हरसंभव तरीके से मदद की। अगर यहां वे नहीं होते तो हम जिंदा नहीं बच पाते।

बीते दिनों का डरावना अनुभव साझा करते हुए हर साल हेमकुंड साहिब जाने वाले अमन बिष्ट ने कहा कि सड़क टूट गई थी और कोई पुल नहीं बचा था। और जहां भी सड़क है, यह टूटी हुई है। सेना ने बहुत मदद की। एक और जिंदा बचे पंजाब के व्यक्ति ने कहा कि वह केवल सेना के जवानों की मदद से अपने परिवार से संपर्क कर पाए।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
कैसा रहा साल 2015
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड