Image Loading
सोमवार, 30 मई, 2016 | 18:09 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • कोलकाता: बर्धमान में पटरी से उतरी हावड़ा-रांची इंटरसिटी ट्रेन
  • गुड़गांव और मानेसर मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड में प्लांट में आग लगने के कारण...
  • मालेगांव ब्लास्ट केसः साध्वी प्रज्ञा की जमानत पर 6 जून को सुनवाई होगी
  • प्रत्युषा बनर्जी खुदकुशी मामलाः सुप्रीम कोर्ट ने राहुल राज की अग्रिम जमानत...
  • माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला भारत आए। दिल्ली में युवाओं को संबोधित करते हुए...
  • वित्त मंत्रालय से स्टार्टअप के लिए टैक्स छूट की अवधि तीन साल से बढ़ाकर सात साल...
  • पुडुचेरीः कांग्रेस नेता वी नारायणसामी ने उप राज्यपाल किरण बेदी से मुलाकात की,...

भड़काऊ भाषण मामले में ओवैसी को पुलिस का नोटिस

हैदराबाद, एजेंसी First Published:04-01-2013 02:19:44 PMLast Updated:04-01-2013 02:33:18 PM
भड़काऊ भाषण मामले में ओवैसी को पुलिस का नोटिस

आंध्रप्रदेश पुलिस ने आज मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी को नोटिस जारी करके पूछताछ के लिए उसके सामने उपस्थिति होने को कहा है।
    
एक विशेष संप्रदाय के खिलाफ कथित रूप से भडकाऊ भाषण देने के मामले में ओवैसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के एक दिन बाद नोटिस जारी किये गये हैं।
    
दो मामलों में आगे की जांच के तहत एमआईएम विधायक से सात जनवरी को आदिलाबाद जिले में निर्मल (ग्रामीण) पुलिस के जांच अधिकारियों के सामने और आठ जनवरी को निजामाबाद टू टाउन पुलिस के सामने उपस्थित होने को कहा गया है।
    
पिछले महीने जनसभा के दौरान एक खास संप्रदाय के खिलाफ विधायक की कथित आपत्तिजनक और भडकाऊ भाषा पर आदिलाबाद और निजामाबाद जिलों में स्वत:संज्ञान लेते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई हैं।
    
नोटिस अपराध प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 41 (ए) के तहत जारी किये गये हैं और उन्हें यहां बंजारा हिल्स में अकबरुद्दीन के आवास के बाहर चिपकाया गया है, क्योंकि कहा जा रहा है कि वह इलाज के लिए लंदन में हैं। नोटिस में उनसे पुलिस के सामने हाजिर होने के लिए कहा गया है।  

चंद्रयानगुट्टा से विधायक ओवैसी के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 153 (ए), 295 (ए) और 121 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
    
इससे पहले आंध्र प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) वी दिनेश रेड्डी ने कहा था कि प्रथम दृष्टया विधायक के खिलाफ सबूत दिखते हैं। अगर जांच के दौरान उनके खिलाफ आरोप साबित होते हैं तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है।
    
डीजीपी ने कहा था कि पता चला है कि वह देश के बाहर हैं और अगर वह हाजिर होने में नाकाम रहते हैं तो हमें उन्हें वापस बुलाना होगा और अगर जरूरी हुआ तो इंटरपोल की मदद ली जा सकती है।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
IPL-9: ये हैं आईपीएल के टॉप 5 यादगार लम्हेंIPL-9: ये हैं आईपीएल के टॉप 5 यादगार लम्हें
सनराइजर्स हैदराबाद के लिए रविवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के नौवें संस्करण का खिताब जीतना, आधी रात में सूर्योदय (सन राइजिंग) जैसा था।