Image Loading aiadmk chief minister palaniswamy o panneerselvam - Hindustan
सोमवार, 24 अप्रैल, 2017 | 10:59 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • बॉलीवुड मसालाः बाहुबली-2 का पहला गाना आया और इंटरनेट पर मच गया धमाल, इसके अलावा...
  • टॉप 10 न्यूज: सुबह 9 बजे तक देश-दुनिया की खबरें एक नजर में
  • हेल्थ टिप्स: गर्मियों में रोजाना पीयें मट्ठा, कैलोरी व फैट रखेगा नियंत्रित
  • ओपिनियनः पढ़ें मिंट के संपादक आर सुकुमार का लेख- स्टार्ट-अप में उतार-चढ़ाव का दौर
  • मौसम दिनभरः दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, पटना और रांची में आज रहेगी गर्मी। देहरादून में...
  • ईपेपर हिन्दुस्तानः आज का अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें
  • आपका राशिफलः वृष राशि वालों को माता-पिता का सानिध्य एवं सहयोग मिलेगा। नौकरी में...
  • सक्सेस मंत्र: खुद पर विश्वास रखेंगे तो जरूर आगे बढ़ेंगे
  • टॉप 10 न्यूज: देश-दुनिया की खबरें पढ़ें एक नजर में
  • KKRvRCB: कोलकाता ने बैंगलोर को 82 रन से हराया

अन्नाद्रमुक धड़ों के बीच विलय के प्रयास तेज, मुख्यमंत्री ने समिति गठित की

चेन्नई, एजेंसी First Published:21-04-2017 09:13:45 PMLast Updated:21-04-2017 09:13:45 PM
अन्नाद्रमुक धड़ों के बीच विलय के प्रयास तेज, मुख्यमंत्री ने समिति गठित की

अन्नाद्रमुक के धड़ों के विलय के प्रयास के तहत मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी नीत गुट ने शुक्रवार को एक समिति के गठन की घोषणा की और विरोधी ओ पन्नीरसेल्वम गुट ने इस पर प्रतिक्रिया यह कहकर दी कि उसकी समिति जल्द गठित होगी।

पलानीस्वामी द्वारा गठित समिति की अध्यक्षता राज्यसभा सदस्य आर वैथीलिंगम करेंगे और इसमें कुछ मंत्रियों के शामिल होने की संभावना है। पन्नीरसेल्वम के सहयोगी के पी मुनुसामी ने संवाददाताओं से कहा कि पार्टी समर्थकों और लोगों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए हम भी एक समिति का गठन करने जा रहे हैं।

इससे पहले कल बातचीत में गतिरोध पैदा हो गया था जब ओ पन्नीरसेल्वम गुट ने विलय वार्ता के लिए पार्टी महासचिव वीके शशिकला और उप महासचिव टीटीवी दिनाकरन को औपचारिक तौर पर पाटीर् से निकालने की शर्त रखी थी। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की पिछले साल पांच दिसंबर को निधन से जुड़ी परिस्थितियों की सीबीआई जांच की भी मांग की थी।

विलय वार्ता के लिए अपना रुख कड़ा करते हुए पन्नीरसेल्वम गुट ने कल मांग की थी कि पलानीस्वामी के नेतृत्व वाला धड़ा शशिकला और दिनाकरन के अलावा उनके परिवार के 30 अन्य सदस्यों को पार्टी से औपचारिक तौर पर बखार्स्त करें।

इस बीच, ओपीएस गुट के पूर्व स्कूल शिक्षा मंत्री के पांडियाराजन ने पुष्टि की कि पलानीस्वामी गुट ने बातचीत के लिए उनसे संपर्क किया है। इससे पहले पन्नीरसेल्वम धड़े के एक शीर्ष नेता के पी मुनासामी ने कल कहा था कि पहली मांग शशिकला और दिनाकरन का इस्तीफा लेने और बाद में उनके परिवार के 30 अन्य सदस्यों के साथ उन्हें औपचारिक तौर पर निष्कासित करना है।

पन्नीरसेल्वम गुट ने गत वर्ष पांच दिसंबर को जिन परिस्थितियों में पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता का निधन हुआ, उसकी सीबीआई जांच की भी मांग की है। इससे पहले अन्नाद्रमुक (अम्मा) के नेता और स्थानीय प्रशासन मंत्री एस पी वेलुमणि ने पलानीस्वामी के हवाले से कहा कि विलय वार्ता के लिए वैथीलिंगम की अगुवायी में एक समिति का गठन किया गया है और वह यहां पार्टी कायार्लय में होंगे। हम जरूरत पड़ने पर उनके पास जाएंगे। उन्होंने कहा कि जहां तक हमारा सवाल है हम दो पत्ती वाला चिहन हासिल करना चाहते हैं और एकजुट रहना चाहते हैं।

वेलुमणि ने कहा कि गुट में सबको यह लग रहा है कि एमजीआर द्वारा स्थापित की गई और अम्मा द्वारा आगे ले जाई गई पार्टी में एकता होनी चाहिए। बैठक में शामिल हुए कानून मंत्री सीवी षणमुगम ने कहा कि हम पारदर्शी और खुले विचारों वाले हैं। उन्होंने कहा कि दोनों धड़ों के सदस्यों ने पहले एक साथ मिलकर काम किया है और हम साथ बैठने और मतभेदों को सुलझाने के लिए तैयार हैं।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: aiadmk chief minister palaniswamy o panneerselvam
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड