Image Loading
शुक्रवार, 27 मई, 2016 | 01:55 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • अमेरिकाः डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि रिपब्लिकन नामांकन जीतने के लिए उनके पास...
  • हरियाणा के कुरुक्षेत्र में बस में हुए बम धमाके की जांच एनआईए करेगीः टीवी...
  • जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आर्मी कैंप पर ग्रेनेड से हमला, एक सैनिक घायल
  • संजय बांगड़ को आगामी जिम्बाब्वे सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का कोच बनाया...
  • अमेरिकाः डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति पद के वास्ते रिपब्लिकन नामांकन हासिल...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: डॉक्टरों की रिटायरमेंट की उम्र 65 साल करेंगे
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: डॉक्टर महीने में गरीबों को एक दिन दें
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE:बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पूरे देश के लिए है
  • दिल्ली पुलिस ने मर्सीडीज हिट एंड रन मामले में एक किशोर के खिलाफ किशोर न्याय...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE:यूपी के सारे गांवों को रोशन करूंगा
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: 18 हजार गांवों में एक बिजली के खंभे तक नहीं है
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: 300 दिनों में 7 हजार गांवों तक बिजली पहुंची
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: पिछली सरकार के मुकाबले सड़क बनाने की रफ्तार...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE:मेरे किसी नेता या मंत्री ने भ्रष्टाचार नहीं...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: दो साल में भ्रष्टाचार का एक आरोप नहीं
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: गन्ना किसानों का बकाया मिले इसकी हमने व्यवस्था...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: देश के गरीब के जीवन में बदलाव आए, ऐसे हम देश का...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE:2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: हमने किसान हित की नीति बनाई
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: अब राज्य में 65% धन और केंद्र में 35% धन रहेगा
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE:यह देश बदल रहा है, लेकिन कुछ लोगों का दिमाग नहीं...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: मैंने दो साल में उन कामों को हाथ में लिया जो...
  • यूपी के सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: आज देश के लोगों को काम का हिसाब देने आया हूं
  • सहारनपुर से पीएम मोदी LIVE: दो साल में देश ने हमारे काम को देखा
  • मोदी सरकार के दो साल: सहारनपुर में बड़ी रैली को संबोधित कर रहे हैं पीएम मोदी
  • यूपी के सहारनपुर में बीजेपी की रैली: यूपी में बीजेपी का 14 वर्षों का वनवास खत्म...
  • यूपी के सहारनपुर में बीजेपी की रैली: मोदी के दिल में किसानों का दर्द छलकता है-...
  • यूपी के सहारनपुर में बीजेपी की रैली: मोदी सरकार ने फसल बीमा योजना लागू की-राजनाथ...
  • यूपी के सहारनपुर में बीजेपी की रैली: बीजेपी सरकार में जनता के प्रति जवाबदेही-...
  • यूपी के सहारनपुर में बीजेपी की रैली: बीजेपी सरकार में पारदर्शिता है- राजनाथ सिंह
  • यूपी के सहारनपुर में बोले केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह - जनता से नजरें चुराकर...
  • मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर पीएम मोदी रैली को संबोधित करने सहारनपुर पहुंचे
  • कांगो में कुछ भारतीयों की दुकानों पर हमला, कुछ भारतीय घायल। गृह मंत्रालय के...
  • हरियाणा में रोडवेज की बस में धमाका, 9 लोग घायल
  • मानसून पर मौसम विभाग का पूर्वानुमान, केरल में 7 जून को मानसून पहुंचेगा
  • जम्मू कश्मीर के नौगांव में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया।
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 353 अंक चढ़कर इस साल के उच्चत्तम स्तर 26,260 पर पंहुचा, निफ़्टी 8026
  • पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने नवसृजित पिछड़ा वर्ग (सी) श्रेणी के तहत जाटों तथा...
  • मुंबईः केमिकल फैक्ट्री में धमाका, तीन लोगों की मौत, 20 से अधिक लोग घायल
  • गर्मी से परेशान एक शख्स ने सूरज के खिलाफ पुलिस में की शिकायत
  • बीजेपी और पीएम मोदी ने जो वादे किए थे वो पूरे नहीं हुए हैं: मनीष तिवारी (कांग्रेस)
  • मोदी सरकार के 2 सालः 14 विवाद, जिन पर हुआ हंगामा
  • कैसे रहे मोदी सरकार के दो साल? जानें आम जनता और एक्सपर्ट्स की राय

अलविदा कह गया एक और सितारा

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-2012 03:12:24 PMLast Updated:12-12-2012 05:51:25 PM
अलविदा कह गया एक और सितारा

संगीत की दुनिया के फलक पर सितार वादन को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पंडित रविशंकर एक बेहतरीन सितार वादक होने के अलावा एक बेहतरीन संगीत निर्देशक भी थे।

पंडित रविशंकर का जन्म 7 अप्रैल 1920 को वाराणसी में एक बंगाली ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके बचपन का नाम रविंद्र शंकर चौधरी था। उनके पिता श्याम शंकर झालवाड़ राज्य के दीवान थे और मां हेमांगिनी देवी गृहिणी। कुछ समय बाद दीवान श्याम शंकर लंदन जाकर वकालत करने लगे और वहीं दूसरी शादी भी कर ली। श्याम शंकर ने अपने पुत्र रविशंकर को आठ वर्ष बाद ही देखा था।

पंडित रविशंकर 10 साल की उम्र में अपने बडे़ भाई और मशहूर डांसर उदय शंकर के डांस ग्रुप के साथ पहली बार पेरिस गए थे। वह 13 साल की उम्र में इसी ग्रुप में शामिल हो गए और देश-विदेश जाकर परफॉर्मेंस करने लगे। इसी डांस ग्रुप के साथ भ्रमण करते हुए उन्होंने फ्रेंच भाषा सीखी। इसी दौरान वह पाश्चात्य नृत्य, संगीत और संस्कृति के संपर्क में आए।

इसी दौरान एक घटना ने उनके जीवन को अप्रत्याशित मोड़ दे दिया। संभवतः अगर उनके जीवन में मशहूर सरोद और शहनाई वादक उस्ताद अलाउद्दीन खान नहीं आते, तो पंडित रविशंकर अपने भाई उदय शंकर के ही पदचिह्नों पर चलते और सितार वादन को आज जैसी प्रसिद्धी नहीं मिल पाती।

दरअसल उदय शंकर ने दिसंबर 1934 में उस्ताद अलाउद्दीन खान को कलकत्ता (अब कोलकाता) में आयोजित एक संगीत कार्यक्रम के दौरान सुना था। उन्होंने 1935 में किसी तरह मैहर के महाराजा को मनाया कि उस्ताद को कुछ दिनों के लिए उनके डांस ग्रुप का संगीतकार बना दिया जाए। उदय शंकर का डांस ग्रुप पेरिस जा रहा था और इसी दौरान रविशंकर उस्ताद के संपर्क में आए।

पंडित रविशंकर पहले नर्तक के रूप में ही प्रशिक्षण ले रहे थे, लेकिन उस्ताद की कला ने उनका मन मोह लिया। पेरिस के दौरे में उस्ताद ने पंडित रविशंकर को वाद्ययंत्रों से परिचित कराया। पंडित रविशंकर ने जब उस्ताद से कहा कि वह उन्हें अपना शिष्य बना लें, तो उस्ताद ने यह शर्त रखी कि अगर वह दौरे पर जाना बंद करके मैहर आकर रहेंगे, तब ही वह उनके शिष्य बन सकते हैं।

उन्होंने 1938 में नृत्य को अलविदा कह दिया। उस्ताद ने पंडित रविशंकर को सितार रुद्रवीणा, वीणा, रुबाब, सुरसिंगार और सुरबहार का प्रशिक्षण दिया। इसके अलावा उन्हें ध्रुपद, ख्याल और धमार रागों का प्रशिक्षण भी प्राप्त किया। संगीत का प्रशिक्षण लेने के अलावा वह उस्ताद के पुत्र अली अकबर खान और पुत्री रोशनआरा खान के साथ पढा़ई भी करते थे। रोशनआरा खान ही बाद के वर्षों में अन्नपूर्णा देवी के नाम से जानी गईं। वर्ष 1939 में पंडित रविशंकर ने अली अकबर खान के साथ पहली बार परफॉर्मेंस किया।

अली अकबर खान सरोद बजाते थे। पंडित रविशंकर का प्रशिक्षण 1944 में खत्म हो गया और इसके साथ ही उन्होंने पढा़ई भी छोड़ दी। प्रशिक्षण के बाद पंडित रविशंकर मैहर छोडकर मुंबई चले गए और वहां इंडियन पीपुल्स थिएटर एसोसिएशन के लिए 1945 और 1946 में बैले डांस के लिए संगीत निर्देशन किया। वह फरवरी 1949 से ऑल इंडिया रेडियो में बतौर संगीत निर्देशक काम करने लगे।

उन्होंने जनवरी 1956 में ऑल इंडिया रेडियो छोड़ दिया। उन्होंने 1950 में प्रसिद्ध फिल्म निर्देशक सत्यजीत रे की फिल्म 'अप्पू' का भी संगीत निर्देशित किया था। वर्ष 1952 में ऑल इंडिया रेडियो के निदेशक वीके नारायणन मेनन ने उनका परिचय विश्वप्रसिद्ध वायलिन वादक यहूदी मेनूहिन से कराया। रविशंकर ने 1953 में तत्कालीन सोवियत संघ में परफॉर्म किया।

यहूदी मेनूहिन ने पंडित रविशंकर को 1955 में न्यूयॉर्क में परफॉर्म करने के लिए आमंत्रित किया, हालांकि वह उस समय पारिवारिक परेशानी की वजह से इस कार्यक्रम में शरीक नहीं हो सके। इसके बाद पंडित रविशंकर ने यहूदी मेनूहिन और बिटल्स के रॉक स्टार जार्ज हैरिसन के साथ विदेशी दौरों में धूम मचा दी।

पंडित रविशंकर 1986 से 1992 तक राज्यसभा के सदस्य रहे। उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति भवन और लंदन में भी कई महत्वपूर्ण कार्यक्रम पेश किए।

 

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
बांगड़ होंगे जिम्बाब्वे सीरीज के लिए भारतीय टीम के कोचबांगड़ होंगे जिम्बाब्वे सीरीज के लिए भारतीय टीम के कोच
भारत और रेलवे के पूर्व आल राउंडर संजय बांगड़ को राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के आगामी जिम्बाब्वे दौरे के लिए गुरुवार को कोच नियुक्त किया गया जबकि भरत अरुण और आर श्रीधर को सहयोगी स्टाफ में कोई जगह नहीं दी गई।