Image Loading
मंगलवार, 31 मई, 2016 | 09:30 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 103 अंक चढ़कर 26,828 पर खुला, निफ़्टी 8,205
  • श्रीलंकाई नेवी ने रामेश्वरम के पास भारतीय नौका पकड़ी, 7 भारतीय मछुआरे गिरफ्तार
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज करेंगी अफ्रीकी छात्रों से मुलाकात
  • मध्यम दूरी तक मार करने वाली उत्तर कोरियाई मिसाइल का प्रक्षेपण विफल

'ऑफिस-ऑफिस' के पांडेजी चले हीरो बनने

मुंबई, एजेंसी First Published:12-12-2012 04:37:36 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
'ऑफिस-ऑफिस' के पांडेजी चले हीरो बनने

फिल्मी दुनिया में कदम रखने वाले हर कलाकार की तमन्ना हीरो बनने की होती है, किस्मत चाहे जो बना दे। धारावाहिक 'ऑफिस-ऑफिस' के पांडेजी, यानी हेमंत पांडे भी इसी में से एक हैं।

उत्तराखंड से सम्बंध रखने वाले हेमंत छोटे-बड़े पर्दे पर हास्य अभिनेता के रूप में स्थापित हो चुके हैं, लेकिन इससे उन्हें अब तक संतोष नहीं मिला है। वह अपने भीतर के कलाकार को संतुष्ट करने के लिए काफी समय से बेचैन हैं।

हेमंत की कोशिश अब कामयाब होने जा रही है। पीआरओ से निर्देशक बने हरीश शर्मा ने हेमंत को अपनी पहली ही फिल्म 'टू नाइट्स इन सोल वैली' का हीरो बना दिया है।

हेमंत कहते हैं कि दर्शक इस फिल्म में उनके किरदार से हास्य की उम्मीद न रखें। जो ऐसी उम्मीद रखेंगे, उन्हें निराश होना पड़ेगा, लेकिन हेमंत का यह भी दावा है दर्शकों को उनकी भूमिका से निराशा हाथ नहीं लगेगी। उनका मानना है कि यह फिल्म और फिल्म में भूमिका उनके नाम को नया नाम देगी, एक नई पहचान व नई शुरुआत देगी।

खास बात यह है कि हेमंत का सामने होना ही अपने आप में हास्य हो जाता है। ऐसे में हीरो की गम्भीर भूमिका की चुनौती उन्होंने कैसे और किस तरह स्वीकार व साकार की है, यह फिल्म देखने के बाद ही पता चल पाएगा।

बहरहाल, पिंटा एंड दहल प्रोडक्शन के बैनर तले बनी यह फिल्म 28 दिसम्बर को देशभर में प्रदर्शित होने जा रही है। इस फिल्म में सुमित शर्मा, आक्षी, गौरव शाह और ब्रिटिश अभिनेत्री व गायिका मिली मूनस्टोन भी हेमंत के साथ विभिन्न भूमिकाओं में हैं।

 

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
कुक ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्डकुक ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्ड
इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक ने आज यहां टेस्ट क्रिकेट में 10,000वां रन पूरा करते ही कई रिकार्ड अपने नाम किये जिनमें सबसे कम उम्र में इस मुकाम पर पहुंचने का रिकार्ड भी शामिल है जो अब तक भारतीय स्टार सचिन तेंदुलकर के नाम पर दर्ज था।