Image Loading टेलीविजन से ज्यादा संतोषजनक सिनेमा: पंकज - LiveHindustan.com
गुरुवार, 05 मई, 2016 | 04:35 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब को 7 रन से हराया
  • पठानकोट आतंकी हमले में मारे गए चार आतंकवादियों के शव चार महीने बाद दफनाए गए।
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब के सामने 165 रन का लक्ष्य रखा
  • वीडियो में देखें कैसे पकड़ा गया 6 फीट का अजगर..
  • आईपीएल 9: किंग्स इलेवन पंजाब ने केकेआर के खिलाफ टॉस जीता, पहले फील्डिंग का फैसला
  • हेलीकॉप्टर घोटाले में जांच उन लोगों की भूमिका पर केन्द्रित होगी जिनका नाम इटली...
  • भारत द्वारा खरीदे गए हेलीकाप्टर का परीक्षण नहीं हुआ था क्योंकि वह उस समय विकास...
  • जॉब अलर्ट: SBI करेगा प्रोबेशनरी ऑफिसर के 2200 पदों पर भर्तियां
  • गायत्री परिवार के प्रणव पांड्या राज्यसभा के लिए मनोनीत: टीवी रिपोर्ट्स
  • सेंसेक्स 127.97 अंक गिरकर 25,101.73 पर और निफ्टी 7,706.55 पर बंद
  • टी-20 और वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया लुढ़की
  • यूपी के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ सुप्रीम कोर्ट के जज बने। मप्र व...
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

टेलीविजन से ज्यादा संतोषजनक सिनेमा: पंकज

मुंबई, एजेंसी First Published:13-12-2012 02:07:23 PMLast Updated:13-12-2012 02:10:07 PM
टेलीविजन से ज्यादा संतोषजनक सिनेमा: पंकज

प्रसिद्ध अभिनेता पंकज कपूर चर्चित धारावाहिक 'करमचंद' का हिस्सा रहे हैं, लेकिन वह गत एक दशक से छोटे पर्दे से दूर हैं और इसकी वजह वह इसके स्वरुप के बदल जाने को मानते हैं साथ ही वह फिल्मों में काम कर ज्यादा संतुष्ट हैं।

पंकज ने कहा कि मैंने आठ से नौ साल पहले टेलीविजन पर सक्रिय न रहने का फैसला किया क्योंकि मुझे लगा कि टेलीविजन का स्वरूप बदल रहा है और मेरे जैसा इंसान आजकल चल रहे कार्यक्रमों से खुद को जोड़कर नहीं देख सकता। दूसरी तरफ उनका मानना है कि फिल्मों में एक कलाकार को उसके किरदार के लिए काफी समय मिल जाता है।

'करमचंद' के अलावा 'जबान सम्भाल के', 'ऑफिस-ऑफिस' और 'मोहनदास बीएएलएलबी' जैसे धारावाहिक का अहम हिस्सा रहे 58 वर्षीय पंकज ने कहा कि आप टेलीविजन पर उतना ही काम करते हैं जितना फिल्मों में। फिल्म में काफी कम समय लगता है और आपको अपने किरदार पर शोध करने और उस पर काम करने का समय मिल जाता है। यह ज्यादा संतोषजनक होता है क्योंकि फिल्म चले या न चले आपके किरदार को विभिन्न लोग विभिन्न माध्यमों में देखते हैं।

हालांकि, छोटे पर्दे पर वह काम करने को अभी भी तैयार हैं। उन्होंने कहा कि बतौर कलाकार मेरे लिए टेलीविजन का विकल्प अभी भी खुला है, लेकिन वैसे कार्यक्रमों में नहीं जो आज दिखाया जाता है, लेकिन ऐसा कुछ जो बिलकुल अलग हो और निर्देशक और अभिनेता को जरूरी आजादी दी जा रही हो तो करूंगा।

'नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा' के छात्र रहे पंकज रंगमंच पर भी सफल रहे हैं। वह जल्द ही निर्देशक विशाल भारद्वाज की फिल्म 'मटरू की बिजली का मंडोला' में नजर आएंगे। 11 जनवरी  2013 में प्रदर्शित हो रही इस फिल्म में अभिनेता इमरान खान और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा भी होंगे।

 

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत
कप्तान गौतम गंभीर और रोबिन उथप्पा की शतकीय साझेदारी और बाद में आंद्रे रसेल की उम्दा गेंदबाजी से कोलकाता नाइटराइडर्स ने आज यहां किंग्स इलेवन पंजाब पर सात रन से जीत दर्ज की आईपीएल नौ की अंकतालिका में शीर्ष स्थान हासिल किया।