class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार हम चलायें और देश विपक्ष, यह नहीं होगा: जायसवाल

सरकार हम चलायें और देश विपक्ष, यह नहीं होगा: जायसवाल

एफडीआई पर विपक्ष द्वारा संसद की कार्रवाई बाधित करने को तानाशाही करार देते हुए केन्द्रीय कोयला मंत्री ने कहा कि जो राज्य अपने यहां एफडीआई लागू करना चाहते है, उन्हें विपक्ष क्यों नहीं लागू करने दे रहा है?

उन्होंने कहा कि ऐसा कैसे हो सकता है कि देश आप चलायें और सरकार हम चलायें, यह तो सरासर विपक्ष की तानाशाही है और यह संभव नही हो सकता। उन्होंने कहा कि सदन का पिछला सत्र तथा कथित कोयला घोटाले के नाम पर विपक्ष ने नाटक कर बरबाद कर दिया, जबकि कोई घोटाला हुआ ही नहीं था और सदन के इस सत्र में विपक्ष एफडीआई के नाम पर नाटक कर रहा है।

उन्होंने कहा कि हमें कोई बताये जब केन्द्र सरकार ने यह छूट दे दी है कि जो राज्य चाहें अपने यहां एफडीआई लागू करें और जो न चाहें अपने यहां न लागू करें तब क्या समस्या है। यह तो विपक्ष की तानाशाही है कि जो राज्य अपने यहां एफडीआई लागू करना चाहते है आप उन्हें भी रोक रहे है। अगर विपक्ष को एफडीआई का विरोध है तो वह अपने राज्यों में एफडीआई न न लागू करें।

आज कानपुर स्थित अपने घर पर केन्द्रीय मंत्री और कानपुर के सांसद जायसवाल ने एक विशेष बातचीत में कहा कि संसद का पिछला सत्र विपक्ष ने तथा कथित कोयला घोटाले के नाम पर नहीं चलने दिया, जबकि सचाई यह है कि कोयले में कोई घोटाला ही नही हुआ था और अब यह सारी सच्चाई जनता और सबके सामने आ गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकार हम चलायें और देश विपक्ष, यह कैसा: जायसवाल