Image Loading
शुक्रवार, 06 मई, 2016 | 20:23 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: हैदराबाद सनराइजर्स ने गुजरात लायंस के खिलाफ टॉस जीता, पहले करेंगे...
  • PM मोदी पर बोले अरुण शौरी, लोगों को इस्तेमाल कर छोड़ देते हैं मोदी
  • पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच बने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कोच मिकी अर्थर
  • अगस्ता मामला: स्वामी ने राज्यसभा में दिए दस्तावेज, राज्यसभा जल्द जारी करेगी...
  • कांग्रेस के आरोपों पर बीजेपी का सवाल- भ्रष्टाचार पर कार्रवाई राष्ट्रविरोधी...
  • आईसीएसई दसवीं और आईएससी 12वीं के नतीजे घोषित
  • कांग्रेस के हरीश रावत अपना बहुमत साबित करेंगे
  • केन्द्र सरकार उत्तराखंड विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करने को तैयार: एजेंसी
  • अगस्ता घूसकांडः SC ने इतालवी कोर्ट के फैसले में नामित लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराने...
  • लोकतंत्र बचाओ मार्चः संसद मार्ग थाना पुलिस ने सोनिया, राहुल, मनमोहन, एंटनी और...
  • सुप्रीम कोर्ट में उत्तराखंड मामला 12बजे तक के लिये स्थगित

विपक्ष ने की वॉलमार्ट के खुलासे की जांच की मांग

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:10-12-2012 03:57:10 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
विपक्ष ने की वॉलमार्ट के खुलासे की जांच की मांग

बहु ब्रांड खुदरा कारोबार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के फैसले को लागू कराने के लिए अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट द्वारा 125 करोड़ रुपए खर्च करने के खुलासे को लेकर बवाल खड़ा हो गया और विपक्ष ने इसकी जांच कराने की मांग की है।

भारत में खुदरा कारोबार में एफडीआई के लिए वॉलमार्ट द्वारा अमेरिका में लॉबिंग पर 125 करोड़ रुपए खर्च करने के संबंध में प्रकाशित खबरों का हवाला देते हुए मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, और समाजवादी पार्टी ने सरकार से यह जांच कराने की मांग की है कि यह पैसा किसे मिला है वहीं कांग्रेस ने कहा है कि वॉलमार्ट की रिपोर्ट में किसी भारतीय का नाम नहीं लिया गया है।

खुदरा बाजार में एफडीआई की अनुमति देने के सरकार के फैसले का कड़ा विरोध कर रही भाजपा ने वॉलमार्ट के खुलासे को हाथों-हाथ लेते हुए इस मामले की जांच कराने की मांग की। पार्टी के प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि एफडीआई को लागू करने के लिए पैसे खर्च करने की बात सामने आई है जिसकी जांच होनी चाहिए। भाजपा ने राज्यसभा में भी यह मसला उठाया।

माकपा नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि एफडीआई के विरोध में वह जो कुछ कह रहे थे उससे यह रिपोर्ट मिलती-जुलती है। उन्होंने कहा कि वह जानना चाहते हैं कि पैसा किसे मिला लेकिन इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए जिससे तथ्य जनता के सामने आ सकें।

सपा नेता मोहन सिंह ने कहा कि सरकार को मामले की तह में जाने के लिए सारे तथ्यों की जांच करानी चाहिए ताकि पता चल सके कि भारत में कितना पैसा खर्च किया गया और किसे मिला।

दूसरी तरफ कांग्रेस सांसद जगदंबिका पाल ने कहा कि वॉलमार्ट की रिपोर्ट में अमेरिकी सांसदों को लॉबिंग के लिए पैसा दिए जाने की बात कही गई है ऐसे में अमेरिकी सरकार को बताना चाहिए कि यह पैसा किसे दिया गया। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट में किसी भारतीय या यहां के किसी संगठन का नाम नहीं लिया गया है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
आईपीएल 9: सनराइजर्स का टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसलाआईपीएल 9: सनराइजर्स का टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला
सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर ने इंडियन प्रीमियर लीग मैच में गुजरात लायंस के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। हैदराबाद की ओर से युवराज सिंह सत्र का पहला मैच खेलेंगे।