Image Loading
रविवार, 25 सितम्बर, 2016 | 09:13 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • #INDvsNZ: कानपुर टेस्ट के तीसरे दिन के 5 टर्निंग प्वाइंट्स, खेल की दुनिया की टॉप 5 खबरें...
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में गर्म रहेगा मौसम। लखनऊ, पटना और रांची में बारिश की...
  • सुबह की शुरुआत करने से पहले जानिए अपना भविष्यफल, जानिए आज कैसा रहेगा आपका दिन
  • सुविचार: मनुष्य का स्वाभाव है कि जब वह दूसरों के दोष देख कर हंसता है, तब उसे अपने...
  • Good Morning: पाक को PM का करारा जबाव, बदहाल यूपी पर क्या बोले राहुल, और भी बड़ी खबरें जानने...

दिल्ली गैंगरेप केस में पांचवां आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:21-12-2012 01:15:05 PMLast Updated:21-12-2012 02:47:10 PM
दिल्ली गैंगरेप केस में पांचवां आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली में चलती बस में पैरामेडिकल की छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के आरोप में पांचवें आरोपी को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है।

दिल्ली पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने टि्वटर पर लिखा कि बलात्कार मामले में पांचवें आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। ब्यौरा देने से पहले उसकी उम्र की पड़ताल की जा रही है। अगर वह नाबालिग हुआ तो कानून के अनुसार उसकी जानकारी गोपनीय रखनी होगी।

इसके साथ ही रविवार को हुई बलात्कार की घटना में पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिसने समूचे देश को झकझोर कर रख दिया। सूत्रों ने बताया कि पांचवें आरोपी को उत्तर प्रदेश में बंदायू से गिरफ्तार किया गया। ऐसी खबरें हैं कि छठे आरोपी को बरेली से गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन पुलिस ने इसकी अभी पुष्टि नहीं की है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि गुरुवार को यहां तिहाड़ जेल में एक आरोपी की शिनाख्त परेड (टीआईपी) करायी गयी। पीड़िता के पुरुष मित्र 23 वर्षीय सॉफ्ट इंजीनियर ने उसमें से मुकेश को पहचान लिया। पीड़िता से बलात्कार से पूर्व उसके पुरुष मित्र की पिटाई की गयी थी।

चार आरोपियों में से केवल मुकेश टीआईपी के लिये राजी हुआ था। अन्य आरोपी राम सिंह, पवन और विनय ने टीआईपी कराने से इंकार कर दिया था। अधिकारी के अनुसार मुकेश को पहचान लिया जाना अभियोजन पक्ष के लिये लाभदायक रहेगा क्योंकि इससे उन्हें अन्य आरोपियों पर नकेल कसने में मदद मिलेगी।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सबूत मिटाने और हत्या के प्रयास जैसे आरोप लगाये हैं। जांचकर्ताओं ने पहले भारतीय दंड संहिता की धारा 356 (अपहरण), 378 (2)(जी) (सामूहिक बलात्कार), 377 (अप्राकृतिक जुर्म), 394 (लूट के लिये चोट पहुंचाना) और 34 (मिलीभगत) के तहत आरोप लगाये थे।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड