Image Loading पीड़ित लड़की अब भी वेंटीलेटर पर, हालत बेहतर - LiveHindustan.com
शुक्रवार, 29 अप्रैल, 2016 | 11:33 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आर्थिक पिछडे़पन के आधार पर गुजरात सरकार ने सामान्य वर्ग को दिया 10 फीसदी आरक्षण, 1...
  • केंद्र ने NEET पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिका, 1 मई की परीक्षा 24 जुलाई को कराने...
  • अमेरिकी सांसद का दावा, लंबी दूरी की मिसाइल बनाने में पाक की मदद कर रहा चीन

पीड़ित लड़की अब भी वेंटीलेटर पर, हालत बेहतर

नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 08:11:11 PMLast Updated:25-12-2012 09:45:13 PM
पीड़ित लड़की अब भी वेंटीलेटर पर, हालत बेहतर

दिल्ली में चलती हुई बस में बर्बर गैंगरेप की शिकार बनी 23 वर्षीय लड़की की हालत सोमवार के मुकाबले मंगलवार को बेहतर है, लेकिन वह अब भी जीवनरक्षक प्रणाली (वेंटीलेटर) पर है। यह जानकारी डॉक्टरों ने दी।

पीड़िता के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रख रहे सफदरजंग अस्पताल के डाक्टरों ने कहा कि उसके प्लेटलेट्स और कुल ल्यूकोसाइट्स की संख्या में कल के मुकाबले सुधार हुआ है और अब वह बातचीत करने के लिए शारीरिक रूप से फिट है।

डॉक्टर सुनील जैन ने कहा कि उसका लीवर कमोबेश सही तरह काम कर रहा है और प्रयोगशाला में हुई जांचें भी कमोबेश सही आई हैं। उसके प्लेटलेट्स और कुल ल्यूकोसाइट्स में सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि हालांकि, यह सुधार काफी रक्त एवं प्लेटलेट्स चढ़ाए जाने के बाद हुआ है।

गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) के प्रभारी डॉ. पीके वर्मा ने कहा कि लड़की की हालत कल के मुकाबले बेहतर है, लेकिन वह अब भी वेंटीलेटर पर है। उन्होंने कहा कि वह अब भी वेंटीलेटर पर है, लेकिन वेंटीलेटर पर निर्भरता घटा दी गई है।

कल आंतरिक रक्तस्राव के लक्षणों के चलते उसकी हालत बिगड़ गई थी। डॉक्टरों ने तब उसकी हालत को अत्यंत नाजुक करार दिया था।

मनोचिकित्सक आर रस्तोगी ने कहा कि युवती मानसिक स्तर पर स्थिर है, और उसकी लड़ने की भावना अभी भी बरकरार है। वह अच्छे भविष्य को लेकर आशावान है और उसे भावनात्मक शक्ति की जरूरत है।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
...तो इसलिए कोई पूर्व पाक क्रिकेटर नहीं बनना चाहता देश का मुख्य कोच!...तो इसलिए कोई पूर्व पाक क्रिकेटर नहीं बनना चाहता देश का मुख्य कोच!
पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच पद की जिम्मेदारी कोई भी पूर्व क्रिकेटर नहीं उठाना चाहते हैं। पूर्व पाकिस्तानी दिग्गज क्रिकेटरों ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) पर विदेशी कोच की नियुक्ति का मन बना लेने का आरोप लगाते हुए मुख्य कोच पद के लिए आवेदन ही नहीं दिया है।