Image Loading पीड़िता के परिवार को नाम बताने में आपत्ति नहीं - LiveHindustan.com
गुरुवार, 05 मई, 2016 | 04:35 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब को 7 रन से हराया
  • पठानकोट आतंकी हमले में मारे गए चार आतंकवादियों के शव चार महीने बाद दफनाए गए।
  • आईपीएल 9: केकेआर ने किंग्स इलेवन पंजाब के सामने 165 रन का लक्ष्य रखा
  • वीडियो में देखें कैसे पकड़ा गया 6 फीट का अजगर..
  • आईपीएल 9: किंग्स इलेवन पंजाब ने केकेआर के खिलाफ टॉस जीता, पहले फील्डिंग का फैसला
  • हेलीकॉप्टर घोटाले में जांच उन लोगों की भूमिका पर केन्द्रित होगी जिनका नाम इटली...
  • भारत द्वारा खरीदे गए हेलीकाप्टर का परीक्षण नहीं हुआ था क्योंकि वह उस समय विकास...
  • जॉब अलर्ट: SBI करेगा प्रोबेशनरी ऑफिसर के 2200 पदों पर भर्तियां
  • गायत्री परिवार के प्रणव पांड्या राज्यसभा के लिए मनोनीत: टीवी रिपोर्ट्स
  • सेंसेक्स 127.97 अंक गिरकर 25,101.73 पर और निफ्टी 7,706.55 पर बंद
  • टी-20 और वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया लुढ़की
  • यूपी के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ सुप्रीम कोर्ट के जज बने। मप्र व...
  • बरेली में मेडिकल के छात्र का अपहरण, बदमाशो ने घर वालो से मांगी 1 करोड़ की फिरौती
  • राज्य सभा की अनुशासन समिति ने विजय माल्या की सदस्यता तत्काल खत्म करने की...
  • उत्तराखंड मामलाः केंद्र ने SC में कहा, बहुमत परीक्षण पर कर रहे विचार, शुक्रवार को...

पीड़िता के परिवार को नाम बताने में आपत्ति नहीं

बलिया, एजेंसी First Published:02-01-2013 01:27:00 PMLast Updated:02-01-2013 06:07:44 PM
पीड़िता के परिवार को नाम बताने में आपत्ति नहीं

पूरे देश में रेप की वारदात के खिलाफ कड़े कानून की मांग बुलंद होने की वजह बनी दिल्ली गैंगरेप की शिकार हुई लड़की का नाम सार्वजनिक किये जाने सम्बन्धी केंद्रीय मंत्री शशि थरूर के बयान से सहमति जताते हुए लड़की के परिजनों ने कहा कि उन्हें उसका नाम जाहिर करने में कोई आपत्ति नहीं है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पीड़िता के परिवार ने कहा कि उन्हें लड़की का नाम सार्वजनिक करने में कोई आपत्ति नहीं है। साथ ही पाड़िता के परिजनों ने मांग की कि रेप के सम्बन्ध में बनने वाले कानून का नामकरण लड़की नाम पर ही हो।

लड़की के पिता और भाई ने बुधवार को कहा कि वह चाहते हैं कि देश में रेप के खिलाफ जो सख्त कानून बनाने की बात की जा रही है, उसका नाम उनकी बेटी के नाम पर रखा जाए। अगर ऐसा होता है तो यह उसके प्रति सम्मान होगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए उनकी पुत्री का नाम सार्वजनिक होता है तो इस पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है।

दिल्ली में गैंगरेप का शिकार होने के बाद दम तोड़ने वाली लड़की के बलिया स्थित पैतृक गांव मेड़वार कलां के ग्राम प्रधान शिवमंदिर सिंह ने कल ही गांव में स्थित प्राथमिक पाठशाला का नाम उस लड़की के नाम पर रखने की बात कही थी।

गौरतलब है कि केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री शशि थरूर ने कल यह कहते हुए गैंगरेप कांड की पीड़िता 23 वर्षीय छात्रा की पहचान सार्वजनिक करने की वकालत की कि उसका नाम गुप्त रखने से कौन सा हित सध रहा है। थरूर का कहना था कि यदि पीड़िता के माता-पिता को आपत्ति न हो तो रेप विरोधी संशोधित कानून का नाम लड़की के नाम पर ही रखा जाए।

वैसे, कानून के तहत रेप पीड़िता का नाम उजागर नहीं किया जा सकता है। रेप पीड़िता का नाम प्रकाशित करने या उसके नाम को उजागर करने संबंधी कोई गतिविधि भारतीय दण्ड विधान की धारा 228-ए के तहत अपराध है।

उल्लेखनीय है कि 16 दिसंबर को एक चलती बस में छह लोगों ने लड़की के साथ गैंगरेप किया और उस पर इस कदर दरिंदगी की कि लगभग एक पखवाड़े तक जिन्दगी और मौत के बीच झूलने के बाद उसने 29 दिसंबर को सिंगापुर के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत उथप्पा और रसेल ने दिलाई केकेआर को जीत
कप्तान गौतम गंभीर और रोबिन उथप्पा की शतकीय साझेदारी और बाद में आंद्रे रसेल की उम्दा गेंदबाजी से कोलकाता नाइटराइडर्स ने आज यहां किंग्स इलेवन पंजाब पर सात रन से जीत दर्ज की आईपीएल नौ की अंकतालिका में शीर्ष स्थान हासिल किया।