Image Loading
सोमवार, 05 दिसम्बर, 2016 | 13:59 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • अपोलो अस्पताल के प्रवक्ता ने कहा, सीएम जयललिता की हालत नाजुक। उन्हें ECMO और लाइफ...
  • बहते मिले लाखों रुपये के नोट तो नहर में यूं कूद पड़े लोग, क्लिक कर देखें वीडियो
  • विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक स्थगित
  • नोटबंदी पर विपक्ष के भारी हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित
  • पेट्रोटेक-2016: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगले 5 सालों में 30 हजार...
  • पाकिस्तानः कराची के रिजेंट प्लाजा होटल में आग लगने से 11 लोगों की मौत, 70 घायल
  • पढ़ें वरिष्ठ हिंदी लेखक महेंद्र राजा जैन का ये लेख, 'उनके लिए तो नाम में ही सब कुछ...
  • पढ़ें मिंट के संपादक आर सुकुमार का ब्लॉग, 'नए मानकों की तलाश करते कारोबार'
  • चेन्नईः जयललिता की सलामती के लिए समर्थक कर रहे हैं दुआ, अपोलो अस्पताल के बाहर...
  • एक ही नजर में शिखर धवन को भा गई थीं आयशा, भज्जी बने थे लव गुरु। क्लिक करके पढ़ें...
  • भविष्यफल: धनु राशिवाले आज आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे और परिवार का सहयोग...
  • हेल्थ टिप्स: ये हैं हेल्दी लाइफस्टाइल के 5 RULE, डाइट में शामिल करने से पेट रहेगा फिट
  • GOOD MORNING: जयललिता को दिल का दौरा पड़ा, अस्पताल के बाहर जुटे हजारों समर्थक, अन्य बड़ी...

ग्रीन पार्क में निर्माण गति से नाखुश बीसीसीआई

कानपुर, एजेंसी First Published:01-12-2012 03:49:55 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
ग्रीन पार्क में निर्माण गति से नाखुश बीसीसीआई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के इकलौते क्रिकेट स्टेडियम ग्रीन पार्क के सुस्त निर्माण कार्य पर ग्रीनपार्क के अधिकारियों को चेतावनी देते हुये कहा कि वह जनवरी 2013 के पहले सप्ताह तक स्टेडियम का निर्माण कार्य पूरा करवा ले वरना उन्हें भारत-ऑस्ट्रेलिया के फरवरी मार्च में होने वाले संभावित क्रिकेट मैच से हाथ धोना पड़ सकता है और मैच किसी और स्टेडियम को आवंटित किया जा सकता है।

ग्रीनपार्क स्टेडियम के अधिकारियों ने बीसीसीआई के अधिकारियों को आश्वस्त किया कि वह जनवरी के प्रथम सप्ताह तक ग्रीन पार्क का अधूरा कार्य हर हालत में पूरा करवा देंगे और बीसीसीआई के अधिकारिययों को अगले दौरे पर कोई शिकायत का मौका नहीं मिलेगा।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के जीएम क्रिकेट डेवलपमेंट रत्नाकर शेट्टी और मैनेजर क्रिकेट डेवलपमेंट सुरूनायक आज सुबह ग्रीन पार्क पहुंचे और उन्होंने निर्माणाधीन ग्रीन पार्क के एक एक हिस्से का मुआयना किया, उनके साथ उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) के जनरल मैनेजर रोहित तलवार और खेल विभाग के उप निदेशक और ग्रीन पार्क के प्रभारी अनिल बनौधा भी साथ थे।

बीसीसीआई के रत्नाकर शेट्टी ने ग्रीन पार्क के प्रभारी अनिल बनौधा से कहा कि पिछली बार अंतिम समय में यूपीसीए ने बीसीसीआई को सूचित किया कि दर्शक स्टैंड तैयार नही है इसलिये मैच नही कराया जा सकता है बीसीसीआई को मैच कैसिंल करना पड़ा। यूपीसीए के साथ-साथ बीसीसीआई की भी काफी किरकिरी हुई। इस बार ऐसा न हो इस लिये ग्रीन पार्क अधिकारियों को जनवरी माह मे लिखकर देना होगा कि स्टेडियम पूरी तरह से तैयार है इसके बाद ही बीसीसीआई अंतिम फैसला करेंगा कि फरवरी मार्च में भारत और ऑस्ट्रेलिया का मैच ग्रीन पार्क को आवंटित किया जायें या नहीं।

बीसीसीआई के शेट्टी ने ग्रीन पार्क के खिलाड़ियों के ड्रेसिंग रूम और डायनिंग रूम पर नाखुशी जाहिर करते हुये कहा कि यहां दोनो टीमों के खिलाड़ियों और अधिकारियों के लिये अलग अलग भोजन करने की व्यवस्था नहीं है। इसके अलावा ग्रीन पार्क की कई दर्शक दीर्घाओं का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है तथा स्टेडियम के अंदर और बाहर काफी मलबा पड़ा है। इसके अलावा स्टेडियम के अंदर की फेंसिंग का काम भी अधूरा पड़ा है। कुल मिलाकर अभी ग्रीन पार्क के निर्माण कार्य से बीसीसीआई संतुष्ट नहीं है।

शेट्टी ने कहा कि अभी यह बीसीसीआई के अधिकारियों का प्रारंभिक दौरा है बीसीसीआई के अधिकारियों का एक दल 9 और 10 जनवरी को भी फिर ग्रीन पार्क का निरीक्षण करने आयेंगा और तब तक ग्रीन पार्क में सभी निर्माण कार्य पूरे नही हुये तो फिर कानपुर के ग्रीन पार्क में होने वाले भारत ऑस्ट्रेलिया के संभावित मैच को किसी अन्य राज्य के स्टेडियम को एलॉट कर दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि इस बीच ऑस्ट्रेलिया की टीम के अधिकारियों का भी एक दल ग्रीन पार्क का दौरा करने आयेंगा तब तक भी ग्रीन पार्क का हुलिया कुछ ठीक हो जाना चाहिये क्योंकि अगर ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने ग्रीन पार्क की तैयारियों और स्थिति पर अपनी संतुष्टि नही जताई तो भी ग्रीन पार्क में मैच पर संकट के बादल मंडरा सकते है।

उन्होंने यह भी कहा कि बीसीसीआई ने कई बार यूपीसीए से अपना स्टेडियम बनाने के लिये कहा है और इसके लिये पैसे की भी व्यवस्था भी करने को तैयार है लेकिन अभी तक यूपीसीए जो कि देश का सबसे पुराना क्रिकेट संघ में से एक है वह अपना स्टेडियम नही बनवा पाई है।

इस पर ग्रीन पार्क के प्रभारी अनिल बनौधा और निर्माण कार्य में लगे उत्तर प्रदेश सरकार के इंजीनियरों ने उन्हें भरोसा दिलाया कि 15 जनवरी तक ग्रीन पार्क पूरी तरह से तैयार हो जायेंगा क्योंकि यहां पर निर्माण कार्य दिन और रात दो शिफ्टों में हो रहा है।

ग्रीन पार्क स्टेडियम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के नक्शे पर बरकरार रह पायेंगा नही या तो फिर उत्तर प्रदेश से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का खात्मा हो जायेगा। यूपीसीए के जीएम रोहित तलवार कहते है कि बीसीसीआई के इन दोनो अधिकारियों की रिपोर्ट काफी महत्तवपूर्ण क्योंकि यह रिपोर्ट ही ग्रीन पार्क का भविष्य तय कर सकती है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में अंतिम क्रिकेट टेस्ट मैच 24 से 27 नवंबर 2009 को भारत और श्रीलंका के बीच हुआ था।

ग्रीन पार्क का निर्माण कार्य पूरा नहीं होने के कारण इससे पहले भी भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 24 फरवरी 2010 को होने वाला एक वनडे क्रिकेट मैच यूपीसीए को आवंटित होने के बाद भी छीन कर अंतिम मौके पर ग्वालियर को दे दिया गया था। इसी तरह भारत और न्यूजीलैंड के बीच 12 से 16 नवंबर 2010 के बीच होने वाला दूसरा टेस्ट ग्रीन पार्क में होना था लेकिन स्टेडियम तैयार न होने के कारण इस मैच को भी बाद में यहां से हटा दिया गया था।

पिछली सरकार के समय स्टेडियम में मार्च 2010 में पुर्ननिर्माण के लिये तोड़ी गयी स्टूडेंट गैलरी पूरी तरह से तोड़ दी गयी थी। इसके अलावा कई अन्य दर्शक गैलरियों को भी तोड़कर उनका पुर्ननिर्माण किया जा रहा है लेकिन दो साल से अधिक समय बीतने के बाद भी इन गैलरियों का निर्माण अभी तक पूरा नही हो पाया है।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड