Image Loading
मंगलवार, 27 सितम्बर, 2016 | 03:58 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • झारखंड: खूंटी के अड़की में नक्सलियों ने की तीन लोगों की हत्या, दो अन्य घायल
  • हमने दोस्ती चाही, पाकिस्तान ने उरी और पठानकोट दिया: सुषमा स्वराज
  • पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सुषमा का जवाब, जिनके घर शीशे के हों वो...
  • सयुंक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिंदी में भाषण शुरू किया
  • अमेरिका: हयूस्टन के एक मॉल में गोलीबारी, कई लोग घायल, संदिग्ध मारा गया: अमेरिकी...
  • सिंधु जल समझौते पर सख्त हुई सरकार, पाकिस्तान को पानी रोका जा सकता है: TV Reports
  • सेंसेक्स 373.94 अंकों की गिरावट के साथ 28294.28 पर हुआ बंद
  • जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में ग्रेनेड हमला, CRPF के पांच जवान घायल
  • सीतापुर में रोड शो के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जूता फेंका गया।
  • कानपुर टेस्ट जीत भारत ने पाकिस्तान से छीना नंबर-1 का ताज
  • KANPUR TEST: भारत ने जीता 500वां टेस्ट मैच, अश्विन ने झटके छह विकेट
  • 'ANTI-INDIAN TWEETS' करने पर PAK एक्टर मार्क अनवर को ब्रिटिश सीरियल से बाहर कर दिया गया। ऐसी ही...
  • इसरो का बड़ा मिशन: श्रीहरिकोटा से PSLV-35 आठ उपग्रहों को लेकर अंतरिक्ष के लिए हुआ...
  • सुबह की शुरुआत करने से पहले पढ़िए अपना भविष्यफल, जानें आज का दिन आपके लिए कैसा...
  • हिन्दुस्तान सुविचार: मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता , समानता और ...

एंटनी ने सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों को दी चेतावनी

नयी दिल्ली, एजेंसी First Published:12-04-2012 06:52:06 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
एंटनी ने सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों को दी चेतावनी

टाट्रा ट्रकों पर उठे विवाद के बाद रक्षा मंत्री एके एंटनी ने सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों को एक कड़ी चेतावनी जारी कर सशस्त्र सेनाओं के साथ सौदे में पारदर्शिता बरतने को कहा।

बीईएमएल समेत आठ रक्षा पीएसयू के प्रदर्शन और कामकाज की समीक्षा बैठक के दौरान एंटनी ने कहा, ग्राहकों और उपभोक्ताओं के साथ सौदे में पारदर्शिता के साथ कोई समझौता नहीं होना चाहिए।

बैठक में बीईएमएल प्रमुख वीआरएस नटराजन के अलावा हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड, भारत एलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, भारत डायनमिक्स लिमिटेड और चार रक्षा पोत कारखाने जीआरएसई, एमडीएल, जीएसएल व एचएसएल के प्रमुख मौजूद थे।

गौरतलब है कि भारत में बीईएमएल द्वारा निर्मित टाट्रा ट्रकों की खरीद पर सीबीआई की कई जांच के आदेश दिए जाने के बाद यह बैठक आयोजित की गई। थलसेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने आरोप लगाया था कि रक्षा क्षेत्र के एक बिचौलिए ने इन ट्रकों को बेचने के प्रस्ताव को पारित कराने के लिए उन्हें 14 करोड़ रुपए के रिश्वत की पेशकश की थी।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड